Monday, 17 February 2020

IPL 2020: चेन्नई और मुंबई के बीच होगी पहली टक्कर, जानिए पूरे 56 मैचों का कार्यक्रम


दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट लीग आईपीएल 2020 के लिए बीसीसीआई ने सभी 56 मैच की समयसारणी घोषित कर दी हैं। पहले ही बता दिया गया था कि आईपीएल 2020 की शुरूआत 29 मार्च से होने जा रही हैं। और 17 मई को आखरी लीग मैच खेला जाएगा। इसके बाद सभी टीमों के मैच के कार्यक्रम की भी घोषणा हो चुकी है जिसकी जानकारी नीचे विस्तार से दी गयी हैं।

CSK और MI के बीच होगी पहली टक्कर

आईपीएल के 13वें सीजन का आगाज बड़े मैच के साथ होगा। पहला मैच आईपीएल को 2 बड़ी टीमें चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियंस के बीच खेला जाएगा। ये मैच मुंबई इंडियंस ह होमग्राउंड यानी कि वानखेड़े स्टेडियम में रात के 8:00 बजे से खेला जाएगा।

इसके अलावा आईपीएल 2020 का आखरी लीग मैच रविवार 17 मई को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और मुंबई इंडियंस के बीच होगा। आईपीएल के सभी मैच स्टार स्पोर्ट्स नेटवर्क के साथ हॉटस्टार पर लाइव देखे जा सकेंगे।

आईपीएल 2020 का पूरा कार्यक्रम

ये सभी मैच शाम के 8:00 बजे से खेले जाएंगे इसके अलावा इस बार हफ्ते के आखरी में यानी शनिवार को भी सिर्फ 1 ही मैच खेला जाएगा। इसका मतलब 2 मैच सिर्फ रविवार को ही खेले जाएंगे। इसके अलावा प्लेऑफ और फाइनल मैच की तारीख अभी तय नही हुई हैं।


अगर आपके दाँत तंबाकू गुटका खाने की वजह से हो गए हैं पीले तो करें ये आसान उपाय

 
आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू नुस्ख़े पता रहें जिससे कि आपके दाँत बिल्कुल सफ़ेद हो जाएँगें ।
तुलसी का उपयोग करने से भी दांतो का पीलापन खत्म हो जाता है। तुलसी का उपयोग करने से पायरिया ठीक हो जाता है। आप तुलसी के पत्तो को पीस के रोजाना अपने टूथपेस्ट पे लगा के करने से पीले दांत ठीक हो जाते है। आप इस पाउडर में कुछ बुँदे सरसो के तेल की मिला के करने से और भी फायदा होता है ।
दातों का पीलापन दूर करने के लिए स्ट्रॉबेरी को इस तरह से इस्तेमाल करें और यह टेस्टी फ्रूट भी है और दांतों को चमकाने के लिए भी कारगर साबित होगा तो आप कुछ स्ट्रॉबेरी लेकर उसका पेस्ट बना लें और इस पेस्ट से रोजाना अपने दांत साफ करें, ऐसा करने से कुछ ही दिनों में आपके पीले दांत बिल्कुल सफेद व चमकदार नजर आने लगेंगे।
दांतों का पीलापन दूर करने के लिए आप नारियल के तेल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। नारियल के तेल को अपनी ऊंगलियों पर लेकर दांतों पर हल्का-हल्का मसाज करें। इस प्रक्रिया को हर रोज दोहराने से कुछ ही दिनों में आपके दांतों का पीलापन गायब होने लगता है।


चलती ट्रेन में चढ़ने की कोशिश में महिला प्रोफेसर गिरीं, RPF कांस्टेबल ने ऐसे बचाई जान, यूजर्स बोले-इसे अवॉर्ड दो


भुवनेश्वर रेलवे स्टेशन पर शनिवार को चलती ट्रेन पर चढ़ने के प्रयास में एक यात्री का पैर फिसल गया और रेलवे पुलिस बल के एक कर्मचारी ने उसे बचा लिया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। आर डी महिला कालेज में प्राध्यापक निवेदिता साहू चलती हुई पुरी-संभलपुर इंटरसिटी एक्सप्रेस पर चढ़ने का प्रयास कर रही थीं जब पैर फिसल जाने के कारण उनका संतुलन बिगड़ गया
यह देखकर प्लेटफॉर्म पर तैनात आरपीएफ के एक कर्मचारी सुब्रत कुमार महाराणा ने तुरंत साहू को खींचकर उन्हें ट्रेन के नीचे आने से बचा लिया। साहू ने कहा, "मेरा जीवन बचाने के लिए मैं महाराणा की आभारी हूँ।" पूरी घटना सीसीटीवी में दर्ज हुई।
वहीं एक दूसरे वीडियो में मुंबई के भायखला रेलवे स्टेशन पर लोगों और सुरक्षाकर्मियों ने एक व्यक्ति को बचाया, जो रेलवे ट्रैक पार कर रहा था, उसी ट्रैक पर एक ट्रेन आ रही थी। इसके अलावा, मोटरमैन ने ट्रेन को तुरंत रोक दिया था।

इस वजह से दिनेश कार्तिक की पत्नी ने मुरली विजय से की थी शादी, वजह जानकर हैरान रह जाएंगे


भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज मुरली विजय की शादी विवादों में रही, आपको जानकर हैरानी होगी कि मुरली विजय ने अपने करीबी दिनेश कार्तिक की पत्नी से शादी की है। दिनेश कार्तिक की पत्नी निकिता बचपन की दोस्त हैं और वह एक रिश्ते में पली-बढ़ी हैं। जिसके बाद दोनों ने साल 2007 में शादी कर ली।
दिनेश कार्तिक और निकिता की जिंदगी अच्छी चल रही थी। 2012 के आईपीएल में, निकिता की मुलाकात मुरली विजय से हुई। जिसका निकिता पर प्रभाव पड़ा, इस बीच, दोनों अच्छे दोस्त बन गए और फिर यह दोस्ती प्यार में बदल गई। जब निकिता मुरली विजय से मिली, तो वह कार्तिक के बच्चे की मां बनने वाली थी।
जब दिनेश कार्तिक को निकिता और मुरली विजय के बारे में पता चला, तो उन्होंने तुरंत निकिता को तलाक दे दिया। तलाक के बाद, निकिता ने मुरली विजय से शादी कर ली। मुरली विजय ने निकिता के बच्चे को गोद लिया था। अब ये दोनों 3 बच्चों के माता-पिता बन गए हैं। और अपने जीवन में खुश है।

ये है दुनिया के सबसे बुजुर्ग व्यक्ति


गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स ने 112 साल 344 दिन के चित्तेसु वतनबे को विश्व के सबसे बुज़ुर्ग जीवित पुरुष व्यक्ति के ख़िताब से नवाज़ा है. साल 1907 में उत्तरी जापान के निगाता में पैदा हुए चित्तेसु वतनबे को बुधवार को शहर के एक नर्सिंग होम में ये ख़िताब मिला.
बता दें कि पिछले रिकॉर्ड-धारक, मासाजो नोनाको, जो कि एक जापानी ही थे उनकी मृत्यु पिछले महीने ही हुई थी और विश्व की सबसे बुज़ुर्ग जीवित व्यक्ति भी जापान की 117 वर्षीय केन तनाका है. जी हाँ, वतनबे ने एग्रीकल्चरल स्कूल से स्नातक किया है और फिर ताइवान चले गए. वहां वो 18 साल तक रहे.
आप सभी को बता दें कि उन्होंने मित्सु नाम की एक महिला से शादी की और उनके पांच बच्चे हैं. वहीं द्वितीय विश्व युद्ध के अंत के बाद, वतनबे निगाता वापिस लौट आए. यहां आकर उन्होंने रिटायर होने तक एक सरकारी नौकरी की. उनके अनुसार उनकी लंबी उम्र का करण उनका मुस्कुराना है. हाल ही में अपनी लम्बी उम्र के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा कि, 'ग़ुस्सा मत करो और मुस्कुराते रहो.'

उसैन बोल्ट को भी मात दे गया यह युवक, भैंसों की रेस में दौड़कर हुआ चर्चित


आप सभी जानते ही होंगे कि उसैन बोल्ट दुनिया के सबसे तेज़ धावक हैं और लोग उन्हें खूब पसंद करते हैं. आपको याद हो उन्होंने साल 2009 में बर्लिन वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 100 मीटर की दूरी 9.58 सेकेंड में तय कर विश्व रिकॉर्ड बनाया था और इस रिकॉर्ड को आज तक कोई नहीं तोड़ पाया है. वहीं अब हाल ही में सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हो रही है, जिसमें ये दावा किया जा रहा है कि उनका ये रिकॉर्ड एक भारतीय किसान ने तोड़ दिया है.
जी हाँ, हाल ही में ट्विटर पर इस शख़्स का एक वीडियो भी शेयर किया गया है जो आप देख सकते हैं. इस वीडियो में जो दिख रहा है उसका नाम श्रीनिवास गौड़ है. इस वीडियो को डीपी सतीश नाम के एक शख़्स ने शेयर करते हुए लिखा है- ‘ये 28 साल के श्रीनिवास गौड़ हैं, जिन्होंने हुसैन बोल्ट का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. इन्होंने कंबाला रेस में 142.5 मीटर की दूरी 13.6 सेकेंड में पूरी की है. मतलब 100 मीटर सिर्फ़ 9.55 सेकेंड में. इस तरह इन्होंने उसैन बोल्ट का रिकॉर्ड तोड़ दिया है, जो 9.58 सेकेंड का था.’ इस समय इस सख्स को लेकर ट्वीटर पर जंग छिड़ी हुई है.
कुछ ट्वीट्स के अनुसार ''श्रीनिवास ने उसैन बोल्ट का रिकॉर्ड नहीं तोड़ा है बल्कि उन्होंने ये दूरी भैंसों की मदद से तय की है. हां लेकिन उनमें एक अच्छे धावक बनने के गुण हैं. अगर वो सच में इस खेल में आ जाएं और प्रैक्टिस करें तो इंडिया को ट्रैक एंड फ़ील्ड्स इवेंट में पक्का मेडल दिला सकते हैं.'' आप सभी को बता दें कि कंबाला कर्नाटक का एक पारंपरिक खेल है और इसमें भैंसों को कीचड़ से भरे ट्रैक पर धावक के साथ दौड़ाया जाता है. वहीं हर साल इसका आयोजन कर्नाटक के दक्षिण कन्नड़ औऱ उडुपी ज़िलों में किया जाता है.

ना तो सिंदूर भरा ना ही मंगल सूत्र पहनाया, जानिए फिर कैसे हुई शादी


मध्य प्रदेश के सीहोर में 16 फरवरी को एक अनोखी पहले देखने को मिली जिसमें शादी में दूल्हा और दुल्हन ने हिंदू रीति-रिवाजों को निभाने की जगह संविधान की शपथ लेकर शादी का संकल्प  लिया. इस शादी में दूल्हा-दुल्हन ने ही नहीं, बल्कि सभी मेहमानों ने भी संविधान की शपथ लेकर उसका पालन करने का संकल्प लिया हैं.
सीहोर के भारतीनगर निवासी विष्णु प्रसाद दोहरे के बेटे हेमंत और जयराम भास्कर की बेटी मधु की शादी को लोग देखते रह गए. जिसमें बारात में दूल्हा हाथ में संविधान किताब लेकर चल रहा था. वही  वर-वधु के स्टेज पर बौद्ध, डॉ. भीमराव आंबेडकर के चित्र रखे हुए थे. उन्ही को साक्षी मानकर कार्यक्रम की शुरुआत की गई. उसके पश्चात् वर-वधु को भारत के संविधान के प्रस्तावना की शपथ दिलाई गई. और फिर जीवनभर एक दूसरे का साथ देने का संकल्प लेकर विवाह संपन्न हुआ.
शादी के निमंत्रण पत्र पर भी बुद्ध और डॉ. आंबेडकर के चित्र अंकित कराए गए हैं. सब्बमंगलम, प्रज्ञा, शील, करूणा कुछ इस प्रकार के गौतम बुद्ध संदेश विवाह निमंत्रण पत्र पर लिखे हुए थे. इस विवाह के निमंत्रण पत्र पर बुद्ध और डाॅ. अंबेडकर के चित्र छपवाए गए थे. इसके अतिरिक्त भारत का संविधान, हमारा स्वाभिमान जैसे स्लोगन भी शादी कार्ड पर अंकित कराये गए थे. इस पहल ने लोगो को आश्चर्य में डाल दिया हैं. अब तक लोग अपनी शादी कार्ड पर पर्यावरण से जुड़े मुद्दों, राजनैतिक अभियानों का समर्थन यह सभी देखने को मिला था, लेकिन यह एक और अनोखो पहले ने लोगो को आश्चर्य में डाल दिया हैं.

गर्भवती महिलाओं को मोदी सरकार ने दिया बड़ा तोहफा, अब प्रसूती खर्च के लिए मिलेंगे इतने रूपए...


अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 24 फरवरी से दो दिन के लिए भारत यात्रा पर आ रहे हैं। उनके आने से पहले मोदी सरकार ने प्रेग्नेंट महिलाओं को एक बड़ा तोहफा दिया है। मोदी सरकार ने गर्भवती महिलाओं को ध्यान में रखते हुए एक बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने कर्मचारी राज्य बीमा निगम के लाभार्थी के प्रसव पर होने वाले खर्च को बढ़ा दिया है।
जहां पहले गर्भवती महिलाओं को 5000 रुपए दिए जाते थे, अब गर्भवती महिलाओं को 7,500 रुपए दिए जाएंगे। श्रम मंत्री संतोष गंगावर की अध्यक्षता में हुई मीटिंग के दौरान ESIC के नेटवर्क से बाहर के अस्पतालों में उपचार कराने वाली महिलाओं को 50 फीसद ज्यादा पैसे दिए जाएंगे। जिस प्रकार से आज के इस दौर में महंगाई बढ़ रही है, उसको ध्यान में रखते हुए सरकार ने यह फैसला लिया है। अब गर्भवती महिलाओं को 5 हजार के बदले 7,500 रूपए प्रदान किए जाएंगे।
उल्लेखनीय है कि प्रसूति खर्च उन महिलाओं को दिया जाता है, जो ESIC की लाभार्थी हैं। महिलाएं जब ESIC नेटवर्क के अस्पताल या औषधि केंद्रों तक पहुंच पाती और अन्य अस्पताल में उपचार करती तो ऐसी स्थिति में सरकार इलाज में राशि कम कर देती हैं। देश भर में ऐसे 150 अस्पताल हैं, जहां ऐसे उपचार की सुविधा मौजूद है।

शेर ने बस पर Attack करने के लिए लगाई दौड़, जैसे ही आया पास तो ड्राइवर ने किया ऐसा... देखें पूरा Video


छत्तीसगढ़ में रायपुर में नंदनवन जंगल सफारी में एक बाघ के पर्यटक बस का पीछा करने का वीडियो वायरल होने के बाद जंगल सफारी के तीन कर्मचारियों को निलंबित कर दिया गया. वन विभाग के अनुसार, वीडियो शुक्रवार को शूट किया गया था.
 पयर्टकों की बस जंगल सफारी पर थी, जब दो बाघ आपस में लड़ रहे थे.
उनमें से एक ने अचानक बस से लटक रहे प्लास्टिक के एक टुकड़े पर झपट्टा मारा. वीडियो में एक पर्यटक को उस तेजी से ले जाने के लिए कहते हुए सुना जा सकता है और बाघ कुछ दूर तक बस का पीछा करता हुआ नजर आ रहा है.
एपीसीसीएफ अरुण पांडे ने कहा कि वह खुद जंगल सफारी जाकर मामले की जांच करेंगे. इस मामले में दो गाइड नवीन पुरैना और नरेंद्र सिन्हा के साथ-साथ ड्राइवर ओम प्रकाश भारती को तत्काल निलंबित कर दिया गया.
छत्तीसगढ़ के वन विभाग ने लगभग 800 एकड़ में रायपुर के बाहरी इलाके में एक जंगल सफारी विकसित की है. वर्तमान में टाइगर सफारी में 4 बाघ हैं, 106 शाकाहारी को हर्बिवोर सफारी में रखा जाता है, जिसमें चीतल, सांभर, नीला बैल, बार्किंग हिरण और ब्लैकबक्स शामिल हैं. भालू सफारी में वर्तमान में 4 भालू हैं.

MS Dhoni का मेकअप करती दिखीं बेटी जीवा, चेहरे पर ऐसे चलाया ब्रश, वायरल हुआ ये Video


एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें बेटी जीवा उनका मेकअप करती दिख रही हैं. वीडियो में देखा जा सकता है कि जीवा हाथ में ब्रश लेकर धोनी का मेकअप कर रही हैं और वहीं पीछे सपना भवनानी खड़ी हैं. धोनी कुर्सी पर बैठे और उनकी गोदी में बैठकर जीवा मेकअप कर रही हैं. सोशल मीडिया पर ये वीडियो खूब पसंद किया जा रहा है. बता दें, हेयरस्टाइलिस्ट सपना भवनानी धोनी की खास दोस्त हैं और वो सपना से ही हेयरकट कराते हैं.
धोनी ने नौ जुलाई को भारत के विश्व कप सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से हारने के बाद कोई प्रतिस्पर्धी मैच नहीं खेला है. जिसके बाद वो क्रिकेट से दूर अपने परिवार के साथ वक्त बिता रहे हैं. एमएस धोनी को बीसीसीआई की अनुबंध सूची से भी बाहर कर दिया गया है. एमएस धोनी ने अपने भविष्य को लेकर लगायी जा रही अटकलों पर कोई जवाब नहीं दिया है. लोगों को एमएस धोनी का क्रिकेट ग्राउंड पर बेसबरी से इंतजार है.

महाकाल एक्‍सप्रेस में शिव मंदिर, असदुद्दीन ओवैसी ने उठाए सवाल, PM मोदी को दिलाई संव‍िधान की याद


वाराणसी से इंदौर के बीच 20 फरवरी से शुरू होने वाली काशी महाकाल एक्‍सप्रेस की एक सीट को मंदिर का रूप दिया गया है। इस मंदिर में शिव की मूर्ति की भी स्थापना की गई है। ट्रेन की एक सीट को भगवान शिव के लिए आरक्षित करने और उसे मंदिर का रूप देने पर सियासत गरमा गई है। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी ने महाकाल एक्‍सप्रेस को हरी झंडी दिखाने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। ओवैसी ने ट्वीट कर पीएम मोदी को भारतीय संविधान के प्रस्‍तावना की याद दिलाई है।
ओवैसी ने ट्रेन की एक सीट को शिव मंदिर में बदलने पर आपत्ति जताते हुए एक ट्विट किया है। AIMIM चीफ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को यह बताने की कोशिश की कि संविधान इस बात की घोषणा करता है कि भारत एक, समाजवादी, धर्मनिरपेक्ष, धर्मनिरपेक्ष, लोकतांत्रिक और गणतंत्र राष्ट्र है। रेलवे का यह कदम 'संविधान की आत्‍मा' कहे जाने वाले प्रस्‍तावना के खिलाफ है।
वाराणसी से इंदौर के बीच 20 फरवरी से शुरू होने वाली काशी महाकाल एक्‍सप्रेस की एक सीट को मंदिर का रूप दिया गया है। इस मंदिर में शिव की मूर्ति की भी स्थापना की गई है। ट्रेन की एक सीट को भगवान शिव के लिए आरक्षित करने और उसे मंदिर का रूप देने पर सियासत गरमा गई है। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन  के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी ने महाकाल एक्‍सप्रेस को हरी झंडी दिखाने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। ओवैसी ने ट्वीट कर पीएम मोदी को भारतीय संविधान के प्रस्‍तावना की याद दिलाई है।

जब सनी देओल ने उठाया अपना ढाई किलो का हाथ, उछल पड़े लोग, वीडियो वायरल


बॉलीवुड एक्टर और बीजेपी सांसद सनी देओल रविवार को पंजाब के बटाला में आरआर बावा डीएवी कॉलेज में आयोजित एक कार्यक्रम में पहुंचे। इस दौरन सनी देओल ने अपनी फिल्म 'गदर' के गाने 'मैं निकला गड्डी लेकर...' पर जमकर डांस करते नजर आए। उनके साथ कॉलेज फेकल्टी और स्टूडेंट्स भी डांस करने लगे, जिसके बाद वो स्टेज पर पहुंचे और अपनी फिल्मों के डायलॉग बोलने लगे। जैसे ही उन्होंने 'ढाई किलो का हाथ...' वाला डायलॉग बोला तो स्टूडेंट्स उछल पड़े। न्यूज एजेंसी ने इस वीडियो को शयेर किया है। वीडियो शेयर करते ही सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल होने लगा। इस वीडियो को 10 हजार से ज्यादा बार देखा जा चुका है।
बता दे, सनी देओल ने अपना पहला लोकसभा चुनाव गुरदासपुर से भाजपा उम्मीदवार के रूप में जीता। उन्होंने त्रिकोणीय मुकाबले में कांग्रेस सांसद सुनील जाखड़ को हराया, जिसमें आम आदमी पार्टी भी शामिल थी। सनी देओल अपने परिवार में राजनीति में कदम रखने वाले तीसरे हैं। उनके पिता धर्मेंद्र बीजेपी सांसद थे। उनकी मां हेमा मालिनी भी भाजपा की सांसद हैं।

ऑनलाइन पिज्जा मंगाना भारी पड़ा इस महिला को, लगा एक लाख का चूना


नोएडा में श्वेता नाम की एक महिला को एक पिज्जा के लिए एक लाख रुपये की कीमत चुकानी पड़ी। दरअसल, श्वेता ने जिस नंबर से फोन कर पिज्जा मंगवाया था, उसी नंबर के जरिए उनके एकाउंट से फर्जीवाड़ा कर एक लाख रुपये निकाल लिया गया। श्वेता ने आरोप लगाया कि जिस यूपीआई खाते से फर्जीवाड़ा के जरिए पैसा निकाला गया वो उन्होंने जोमेटो के ऐप से लिंक करके रखा था। इसी के जरिए पहले पिज्जा का पैसा कटा और फिर 1 लाख रुपये निकाल लिए गए।
साइबर फ्रॉड की शिकार बनी नोएडा की रहने वाली श्वेता ने आरोप लगाया कि उन्होंने ऑनलाइन फूड सर्विस देने वाली कंपनी जोमेटो के कस्टमर केयर नंबर पर फोन कर पिज्जा बुक कराया और इसका पैसा भी चुका दिया। इसके तुरंत बाद उनके यूपीआई खाते से 1 लाख रुपये निकाल लिया गया। श्वेता ने बताया कि उन्हें जोमेटो के कस्टमर केयर की तरफ से अपने ऑर्डर से संतुष्ट नहीं होने पर रिफंड पाने के लिए एक लिंक भेजा गया था। उन्होंने जैसे ही उस लिंक पर क्लिक किया उनका यूपीआई खाता हैक हो गया जिसके बाद दो दिन के अंदर एक लाख रुपये निकाल लिए गए। श्वेता ने जिस नंबर पर कॉल किया था उससे जोमेटो का कोई संबंध नहीं है। श्वेता ने बैंक में इस फर्जीवाडे की सूचना दी जिसके बाद बैंक ने बताया कि 8-9 बैंक खातों में निकाले गए पैसों को भेजा गया है। पीड़ित की सूचना देने के बाद बैंक ने उन सभी खातों को ब्लॉक कर दिया है और श्वेता को भरोसा दिलाया है कि अगर उनकी कही बात सच साबित होती है तो उनके पैसे वापिस कर दी जाएंगे।

चीन कोरोना वायरस से संक्रमित 84,000 करोड़ से ज्यादा के नोट करेगा नष्ट!


चीन से फैले कोरोना वायरस की वजह से पूरे विश्व में 1,775 लोगों की मौत हो चुकी है इनमें से 1,770 तो सिर्फ चीन के ही हैं और यह आकड़ा रोज बढ़ता जा रहा है। अब तक पूरी दुनिया में 71,326 लोग इस वायरस से संक्रमित पाए गए है। जहां एक तरफ चीन इस वायरस से लड़ रहा है वहीं एक और नई समस्या सामने आई है। हजारों करोड़ों के संक्रमित नोटों को नष्ट करना। चीन की सरकार संक्रमित लोगों के हाथों से होते हुए बाजार में फैले संक्रमित नोट को नष्ट करना चाहती है। चीन के सेंट्रल बैंक की गुआंगझोउ ब्रांच ने कहा है कि वह बाजार से आए कागज के सारे नोट बर्बाद कर देगी। बैंक के पास ये करेंसी नोट अस्पतालों, बाजारों और बसों से कलेक्ट किए गए पैसों से पहुंची है।
पीपुल्स बैंक ऑफ चाइना ने भी कागजों से बने सभी नोटों को खत्म करने का आदेश दिया है। हालांकि, अभी तक यह नहीं पता चल पाया है कि चीन का सेंट्रल बैंक कितनी राशि का बैंक नोट बर्बाद करेगी।
सेंट्रल बैंक के डिप्टी गर्वनर फैन यिफेई का कहना है कि पिछले महीने 17 जनवरी से लेकर अब तक सेंट्रल बैंक ने पूरे देश में 600 बिलियन युआन करीब 6।11 लाख करोड़ रूपये के नए नोट जारी किए हैं। इनमें से 4 बिलियन युआन करीब 28,581 करोड़ रूपये के नए नोट तो सिर्फ वुहान में भेजे गए हैं। जबकि, बाजार से जुड़े विशेषज्ञों का मानना है कि चीन ने वुहान और चीन के दक्षिणी राज्यों में जो 84,321 करोड़ रुपये के कागज के नोट भेजे हैं। उन्हें नष्ट करेगी। इनमें से दक्षिणी राज्यों में 55,740 करोड़ रुपये भेजे गए थे।

आखिर कैसे घुसा शिमला मिर्च में ये जानवर, देख कपल के उड़े होश


सब्जियों में से छोटे-मोटे कीड़ो के निकलने की घटना तो हमने कई सुनी और देखी भी होगी। लेकिन कनाडा में रहने वाले एक कपल के होश उस समय उड़ गए जब शिमला मिर्च के काटने पर उसमें से बड़ा सा मेंढक निकला, मेंढक देख दोनों के होश उड़ गए। आश्चर्य की बात यह कि मेंढक जिंदा बैठा हुआ था। निकॉल और गिरार्ड दोनों खाना बनाने की तैयारी कर रहे थे। उन्होंने शिमला मिर्च को उठाया और उसे जैसे ही काटा, वह मेढ़क अंदर बैठा हुआ मिला। सबसे चौकाने वाली बात जो सामने आई वह यह की शिमला मिर्च में कोई छेद नहीं था फिर मेंढक उसके अंदर कैसे घुसा।
मेंढक निकालने के बाद उन्होंने इसे अलग जार में रख दिया। वे दोनों यह जानकार चौंक गए कि जब उन्हें बाद में पता चला कि असल में यह एक ग्रीन ट्री फ्रॉग है।
इसके बाद उन्होंने लोकल सुपरमार्केट में शिकायत दर्ज करवाई है। रिपोर्ट के मुताबिक यह मामला Ministry of Agriculture, Fisheries and Food तक पहुंच गया है। वहां एक विभाग में फिलहाल इसकी जांच की है। विभाग में यह जान कर हैरान है कि आखिरकार यह मेंढक शिमला मिर्च के अंदर कैसे पहुंच गया, जबकि उसमें कोई छेद भी नहीं था।
वहीं मंत्रालय, एमएपीएक्यू के प्रवक्ता ने बताया कि यह मसला खाने से जुड़ा हुआ है, इसकी जांच की जा रही है। शिमला मिर्च और मेंढक दोनों को लैब में भेज दिया गया है। अब जांच के बाद ही यह निष्कर्ष निकलेगा कि पूरी सच्चाई क्या है। क्योंकि पिछले कुछ हफ़्तों से ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं। रिपोर्ट के मुताबिक स्थानीय जगह के आसपास इस साल करीब 20 ऐसी घटनाएं तक सामने आ चुकी हैं, किसी में मकड़ियां तो किसी में और भी कीड़े निकले।