Saturday, 7 December 2019

रविवार, 8 December: जानिए आज के पेट्रोल-डीजल के भाव हुआ


आज यानि 8 दिसंबर को दिल्ली में पेट्रोल का दाम आज 73 रुपये प्रति लीटर है। डीजल 66 रुपये में बिक रहा है।सभी तेल कंपनियों के पेट्रोल पंपों पर कीमतें समान हैं।

पेट्रोल।

जयपुर में एक लीटर पेट्रोल 77 रुपये प्रति लीटर।

मुंबई में एक लीटर पेट्रोल 79 रुपये प्रति लीटर।

कोलकाता में एक लीटर पेट्रोल 76 रुपये प्रति लीटर।

चेन्नई में एक लीटर पेट्रोल 77 रुपये प्रति लीटर।

डीजल।

जयपुर में एक लीटर डीजल 71 रुपये प्रति लीटर।

मुंबई में एक लीटर डीजल 70 रुपये प्रति लीटर।

कोलकाता में एक लीटर डीजल 69 रुपये प्रति लीटर।

चेन्नई में एक लीटर डीजल 70 रुपये प्रति लीटर है।

Friday, 6 December 2019

शनिवार, 7 December: जानिए आज के पेट्रोल-डीजल के भाव हुआ


आज यानि 7 दिसंबर को दिल्ली में पेट्रोल का दाम आज 73 रुपये प्रति लीटर है। डीजल 66 रुपये में बिक रहा है।सभी तेल कंपनियों के पेट्रोल पंपों पर कीमतें समान हैं।

पेट्रोल।

जयपुर में एक लीटर पेट्रोल 77 रुपये प्रति लीटर।

मुंबई में एक लीटर पेट्रोल 79 रुपये प्रति लीटर।

कोलकाता में एक लीटर पेट्रोल 76 रुपये प्रति लीटर।

चेन्नई में एक लीटर पेट्रोल 77 रुपये प्रति लीटर।

डीजल।

जयपुर में एक लीटर डीजल 71 रुपये प्रति लीटर।

मुंबई में एक लीटर डीजल 70 रुपये प्रति लीटर।

कोलकाता में एक लीटर डीजल 69 रुपये प्रति लीटर।

चेन्नई में एक लीटर डीजल 70 रुपये प्रति लीटर है।

रात 2 बजे स्टेशन पर बैठी थी लड़की, नहीं लगा पिता का फोन, फिर…


पुलिस को सोशल मीडिया पर खूब तारीफ मिल रही है क्योंकि उन्होंने 19 वर्षीय लड़की को रेलवे स्टेशनल से अपने घर छोड़ा. नागपुर पुलिस ने एक पहल शुरू की है, जिसमें अगर महिला अकेले यात्रा कर रही है तो वो उनकी मदद करेंगे और उनको घर तक छोड़ेंगे. पुलिस ने बताया कि 19 वर्षीय युवती मनीषा आधी रात रेलवे स्टेशन पर खड़ी थी और परिवार से संपर्क करने की कोशिश कर रही थी
उन्होंने कहा, ”लड़की ने अपने माता-पिता को कॉल किया, लेकिन वो नहीं लग पाया.” जिसके बाद लड़की ने पुलिस हेल्पलाइन नंबर 1091 पर कॉल किया. पुलिस अधिकारी रेलवे स्टेशन पहुंचे और मनीषा को घर तक छोड़ा. उन्होंने अपने ऑफीशियल ट्विटर पेज पर लड़की और माता-पिता के साथ फोटो पोस्ट की है
ट्विटर पर नागपुर पुलिस की जमकर तारीफ हो रही है. कई यूजर्स ने अपने शहर की पुलिस को टैग कर इसी तरह की सुविधाओं का अनुरोध किया. लेकिन ऐसे लोग भी थे जिन्होंने सवाल किया कि हालात इस हद तक कैसे बिगड़ गए हैं कि महिलाओं को यात्रा करने के लिए पुलिस की जरूरत पड़ गई

रिया सेन बाथटब में लेट कातिलाना अंदाज में पोज देती आई नजर ,देखें


एक्ट्रेस रिया सेन इन दिनों फिल्मों से दूर हैं हालांकि वह अपनी बोल्ड तस्वीरों की वजह से चर्चा में आ ही जाती हैं। रिया को लाइमलाइ में रहना अच्छे से आता है। वह आए दिन फैंस के साथ अपनी हाॅट तस्वीरें शेयर करती रहती हैं।
हाल ही में रिया ने अपने इंस्टा पर कुछ तस्वीरें शेयर की हैं। सामने आईं इन तस्वीरों में कभी रिया ऑफ शोल्डर टाॅप में दिख रही हैं तो कभी नेट ड्रेस में।
एक तस्वीर में रिया ब्लैक कलर कीकी ऑफ शोल्डर ड्रेस में बेहद खूबसूरत दिख रही हैं। वहीं दूसरी तस्वीर में वह पिंक कलर का टाॅप पहने नजर आ रही हैं। इस टाॅप में रिया फैंस पर कहर बरपाती नजर आ रही हैं।
रिया बाथटब में लेट कातिलाना अंदाज में पोज दे रही हैं। रिया की ये तस्वीरें सोशल साइट पर धड़ले से वायरल हो रही हैं। फैंस उनकी इन तस्वीरों को काफी पसंद कर रहे हैं।
युवाओं के बीच वह काफी लोकप्रिय थीं। कई बॉलीवुड फिल्मों में काम करने के बाद उन्हें कोई खास पहचान नहीं मिल पाई। उन्होने फिल्म विषकन्या से बाॅलीवुड में डेब्यू किया था। उनकी फिल्म स्टाइल को लोगों ने काफी पसंद किया था। फिल्म ‘रब्बा मैं क्या करूं’ रिया की आखिरी बाॅलीवुड फिल्म थीं। रिया ने साल 2013 के बाद लगातार कई बंगाली फिल्में की हैं। रिया ऑल्ट बालाजी की वेब सीरीज ‘रागिनी एमएमएस: रिटर्न्स’ में भी नजर आ चुकी हैं।

बेहद ऊंची साइकिल चलाता हुआ दिखा शख्स, देखे video


एक शख्स जरूरत से ज्यादा ऊंची साइकिल चलाते हुए नजर आ रहा है. हालांकि, यह कोई नई वीडियो नहीं है लेकिन ट्विटर पर लोग इस वीडियो को काफी शेयर कर रहे हैं और इस वजह से यह वीडियो फिर से वायरल हो रहा है. 55 सैकेंड की इस वीडियो में एक शख्स लंबी सी साइकिल के पास खड़ा है. वहीं अगर आप ध्यान से देखेंगे तो आपको पता चलेगा कि इस साइकिल के कुछ हिस्सों को बैम्बू से बनाया गया है
वीडियो की शुरुआत में युवक साइकिल चलाने की कोशिश करता हुआ दिखता है और लगता है कि जैसे वो गिर जाएगा. लेकिन वह अपना संतुलन बनाता है और जल्दी से साइकिल की सीट पर पहुंच जाता है. इसके बाद वह आसानी से साइकिल चलाता हुआ दिखता है और कुछ दूर तक चलाने के बाद वह नीचे उतर जाता है
यह वीडियो नया नहीं है और पहले भी इसे यूट्यूब और ट्विटर पर शेयर किया गया है. एक बार फिर ट्विटर पर 29 नंवबर को शेयर किए गए इस वीडियो को लोग काफी पसंद कर रहे हैं. वीडियो को शेयर करने के बाद से अब तक इसे 8 लाख से अधिक लोग देख चुके हैं. वहीं इसे 38 हजार से अधिक लोगों ने रीट्वीट किया है और 31 हजार से ज्यादा लोगों ने वीडियो को पसंद किया है हालांकि, अब तक इसकी जानकारी नहीं हुई है कि पहले इस वीडियो को किसने शेयर किया और इस साइकिल को किसने बनाया है

लंदन में लेस्बियन कपल का अनोखा रिकार्ड, जन्म से पहले 2 मां के गर्भ में रहा भ्रूण


यूके में पहली बार ऐसा हो रहा है जब लेस्बियन कपल एक साथ एक ही बच्चे को अपने गर्भ में रखी। शेयर्ड मदरहुड प्रक्रिया के तहत यूके में ऐसा पहली बार हो रहा है। ब्रिटिश कपल जैस्मीन और डोना फ्रांसिस-स्मिथ के पहले बच्चे ओटिस का जन्म 2 महीने पहले हुआ। बच्चे का जन्म इन वीवो नैचरल फर्टिलाइजेशन प्रक्रिया के तहत हुआ। इस प्रक्रिया में अंडे को मां के शरी के अंदर ही प्रत्यारोपित किया जाता है कहीं बाहर से नहीं। इसके उलट आईवीएफ में यह प्रक्रिया शरीर के बाहर होती है।
एनावीवो प्रक्रिया की शुरुआत स्विस तकनीक कंपनी एनाकोवा ने की है और लंदन के एक क्लिनिक में इसे सफलतापूर्वक प्रयोग किया गया। इस प्रक्रिया के तहत अंडे को जैविक मां के शरीर में एक कैप्सूल के जरिए पहुंचाया गया जहां से मां के गर्भ में एग पहुंचा। मां के गर्भ में जब एग सफलतापूर्वक प्रत्यारोपित हो गया तो एक मां के शरी से उसे निकालकर दूसरी मां के गर्भ में डाला गया, जिसकी कोख से बच्चे का जन्म हुआ।
नॉटिंगशर की रहनेवाली डोना ने टेलिग्राफ से बताया किए लेस्बियन कपल के तौर पर इस प्रेग्नेंसी से वह बहुत खुश हैं। उन्होंने कहा, ‘जैस्मीन और मुझे जिस तरह की अटेंशन मिल रही है वह हमारे लिए बहुत उत्साहजनक है। आम तौर पर सेम सेक्स कपल की प्रेग्नेंसी में ऐसा होता है कि कपल में से एक महिला ही गर्भधारण करती हैं जबकि दूसरी महिला इस प्रक्रिया में शामिल नहीं होती। हमारी प्रेग्नेंसी इस लिहाज से अलग थी और हम दोनों ही इसका हिस्सा बने। एग पहले 18 घंटे तक मेरे गर्भ में रहा और फिर इसे जैस्मीन के गर्भ में डाला गया।’
पेशे से डेंटल नर्स जैस्मीन का कहना है कि हम दोनों ही बहुत खुश हैं कि पहले ही प्रयास में हमारी आईवीएफ प्रक्रिया पूरी तरह से सफल हो गई। जैस्मीन ने कहा, ‘मुझे लगता है कि हम सचमुच बहुत लकी हैं। कई बार ऐसा होता है कि पहली बार में आईवीएफ सफल नहीं होता और बहुत से लोगों को कई तरह की परेशानी भी होती है।

11 साल के छात्र ने बनाई हवा से चलने वाली ये अनोखा बाइक…इन ईंधनों का किया उपयोग


देहरादून में छठवीं कक्षा के छात्र ने हवा से चलने वाली बाइक तैयार की है। इस बाइक में टायरों में भरी जाने वाली हवा का ईंधन के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। छात्र के परिजनों के अनुसार बाइक बिल्कुल भी प्रदूषण नहीं करती है।
प्रेस क्लब में पत्रकारों से बातचीत करते हुए गोरखाली सुधार सभा पदाधिकारियों ने बाइक के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। बाइक बनाने वाले संत कबीर एकेडमी के 11 वर्षीय छात्र अद्वैत ने बताया कि कुछ समय पूर्व गुब्बारे में हवा भरते हुए उन्हें ऐसी बाइक बनाने का ख्याल आया, जो हवा से चलती हो।
उन्होंने अपने पिता आदेश क्षेत्री की मदद से पेट्रोल और डीजल इंजन पर प्रयोग किए लेकिन असफल रहे। इसके बाद उन्होंने एक नया इंजन तैयार करने की योजना बनाई। कई माह की मेहनत के बाद वह ऐसा इंजन तैयार करने में कामयाब रहे, जो पूरी तरह हवा से चलता है।
उन्होंने बताया कि यह एक प्रोटोटाइप इंजन है, जिसको वह ऑटो कंपनियों के साथ मिलकर बेहतर बाइक के रूप में लाने का प्रयास करेंगे। उन्होंने बताया कि बाइक की लागत, माइलेज और प्रति किमी खर्च का अभी आंकलन नहीं किया गया है।


डूबते हुए मोर को बचाने के लिए कुएं के अंदर चला गया शख्स, अंदर बैठे थे जहरीला सांप, देखे वीडियो


कुए के अंदर डूब रहे मोर को बचाने के लिए एक शख्स अपनी जान की परवाह किए बिना कुएं में चला गया इस दौरान कुएं में एक सांप भी घूम रहा था लेकिन इस बारे न सोचते हुए शख्स ने मोर को बचाने का फैसला किया मोर को बचाते हुए इस शख्स का वीडियो काफी वायरल हो रहा है
जहां एक शख्स 30 फीट गहरे और सांपों से भरे हुए कुएं में डूब रहे मोर को बचाने के लिए पहुंच गया इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. इस वीडियो में दिख रहा है कि एक शख्स खुद को रस्सी से बांधता है और कुए के अंदर जाता है. वहीं इस दौरान कई सारे लोग कुएं के आस-पास खड़े होकर युवक को गाइड करते हुए भी नजर आ रहे हैं वीडियो में एक सांप भी कुएं में नजर आ रहा है. जैसे ही शख्स कुएं में पहुंचता है
वह मोर के पास जाता है और उसे उठा लेता है. इसके बाद कुएं के बाहर मौजूद लोग रस्सी को ऊपर की तरफ खींचते हैं और दोनों को बाहर निकाल लेते हैं यह घटना अक्टूबर में तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली जिले के थुरायुर शहर में हुई थी. इसका वीडियो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है

हाइवे के बैरिकेड को तोड़ हाथी ने बनाया रास्ता, देखे वीडियो


कहा जाता है कि हाथी की याददाश्त काफी तेज होती है, उनकी स्मृतियों से सूचनाएं जल्दी मिटती नहीं हैं। हाथी एक बार जिन रास्तों से गुजरते हैं, वे हमेशा उसे याद रखते हैं। इन दिनों सोशल मीडिया पर एक हाथी के नेशनल हाइवे के बैरिकेड को तोड़कर अपने परिवार के लिए रास्ता बनाने का वीडियो शेयर किया जा रहा है। इस वीडियो को साझा किए जाने के बाद से सोशल मीडिया पर वन्य जीवों के प्राकृतिक वास स्थानों से छेड़छाड़ करने पर बहस शुरू हो गई है।
आइएफएस अधिकारी प्रवीण कासवान ने 03 दिसंबर को हाथियों के सड़क पार करने का यह वीडियो अपने ट्विटर अकाउंट से शेयर किया। इस वीडियो में दिख रहा है कि एक मादा हाथी अपने परिवार के 5 अन्य सदस्यों को सड़क पार करने के लिए नेशनल हाइवे पर लगे बैरिकेड को तोड़कर रास्ता बनाती है, जिसके बाद एक-एक करके सभी हाथी सड़क पार करते हैं।
यह घटना कोयम्बटूर मेट्टूपलयाम नेशनल हाइवे की है। हा​थियों के सड़क पार करने के दौरान दोनों ओर से वाहन रुक गए थे। वहां मौजूद एक शख्स इस घटना का वीडियो बना रहा है। आइएफएस अधिकारी कासवान ने इस वीडियो को साझा करते हुए लिखा है कि नेतृत्व जिम्मेदारियों से जुड़ा होता है। उन्होंने बताया है कि हाथी कभी भी अपने रास्तों को नहीं भूलते हैं।
कल शेयर किए गए इस वीडियो को अब तक 17,600 से अधिक बार देखा जा चुका है। इस वीडियो को 1500 से अधिक लोगों ने लाइक किया है और 424 बार रिट्वीट किया गया है। इस वीडियो के शेयर करने के बाद से वन्य जीवों के अधिकारों पर बहस छिड़ गई है।
कुछ यूजर्स का कहना है कि हाथियों को सड़क पार करने के लिए एक छोटा सा पुल या क्रॉसिंग गेट बनाना चाहिए, ताकि वे आसानी से सड़क पार कर सकें। विजय कुमार ने लिखा है कि यह रास्ता नहीं बना रही है, बल्कि इंसानों के अतिक्रमण को हटा रही है। हम इंसानों ने अन्य प्रजातियों के साथ जो बर्ताव किया है, उसके लिए हमें पछतावा होना चाहिए और हमें जिम्मेदारी लेनी चाहिए।
नन्दू ने लिखा है कि क्या अथॉरिटीज हाइवे के नीचे या ऊपर इन हाथियों को सड़क पार करने के लिए क्रॉसिंग नहीं बना सकते हैं? उन्होंने प्रवीण कासवान से अनुरोध किया है कि क्या आप इस समस्या को संबंधित वन विभाग के अधिकारियों के समक्ष उठा सकते हैं।

पप्पी को बंदर‍िया ने द‍िया मां का प्यार, अनाथ होने पर प‍िलाया दूध , देखे


हरिद्वार की गायत्री विहार कॉलोनी में एक अनोखा मामला देखने को मिला जब कॉलोनी के अंदर एक बंदरिया द्वारा 3 दिन के कुत्ते के बच्चे को अपने आंचल में समेट लिया और उसे छोड़ने को तैयार नहीं थी. कॉलोनी वासियों द्वारा 3 दिन के कुत्ते के बच्चे को बंदरिया की गोद में देखकर वन व‍िभाग को इसकी सूचना दी गई
वन व‍िभाग द्वारा बंदरिया से कुत्ते के बच्चे का रेस्क्यू कराया गया. कॉलोनी की एक महिला द्वारा ही उस कुत्ते के बच्चे को गोद ले लिया गया और उसका अब लालन-पालन इस महिला द्वारा ही किया जाएगा
कॉलोनी में बंदरिया कुत्ते के बच्चे को छोड़ने को तैयार ही नहीं थी. कॉलोनी वासियों द्वारा बंदरिया से कुत्ते के बच्चे को छुड़वाने की काफी कोशिश की गई मगर जब कॉलोनी वासी नाकाम हुए तो उनके द्वारा इसकी सूचना वन व‍िभाग को दी गई
वन विभाग द्वारा इस कुत्ते के बच्चे को बंदरिया से रेस्क्यू कराया गया और उसके बाद इस कुत्ते के बच्चे को कॉलोनी की निवासी अनु बिष्ट ने गोद ले लिया

रेलवे ट्रैक से गुजर रहा था शख्स तभी तेज रफ्तार में सामने आ गई ट्रेन और…देखे video


रेलवे स्टेशन पर ऐसा हादसा हुआ, जिसने हर किसी को हैरान कर दिया. रेलवे पुलि जनता से रिश्ता वेबडेस्क स फोर्स के कांस्टेबल ने जान पर खेलकर एक शख्स की रेलवे ट्रैक पर जान बचाई. इसका सीसीटीवी फुटेज सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. वीडियो में देखा जा सकता है कि सफेद रंग की शर्ट में शख्स रेलवे ट्रैक से गुजर रहा है
जैसे ही वो दूसरे प्लेटफॉर्म पर पहुंचने वाला होता है, तभी सामने ट्रेन आ जाती है. सेकंड भर के अंदर अनिल कुमार नाम का आरपीएफ अधिकारी पटरियों पर कूद जाता है, आदमी को प्लेटफ़ॉर्म पर खड़ा करता है और फिर दूसरी तरफ भाग निकलता है. जैसे ही वो दूसरी तरफ जाता है उसी वक्त वहां से ट्रेन गुजर जाती है इस वीडियो को शेयर किया है
ट्विटर पर कई लोगों ने आरपीएफ कांस्टेबल की बहादुरी की सराहना की. तो वहीं कुछ लोगों ने अवैध रूप से पटरियों को पार करने की कोशिश करने के लिए यात्री को दंड देने की मांग की. ट्विटर पर कुछ ऐसे रिएक्शन्स आ रहे हैं

कॉल रिसीव करते ही मोबाइल से उठा धुआं, फिर देखें क्या हुआ..


मोबाइल फोन ने जहां हमारे जीवन को सुगम बनाया है वहीं इसके कुछ नुकसान और खतरे भी हैं. बुधवार को दिल्ली के बुराड़ी इलाके में मोबाइल फोन का एक ऐसा ही मामला देखने को मिला, जब कॉल आते ही मोबाइल फोन से धुंआ निकलने लगा, इसके बाद अचानक मोबाइल फट गया.
हरीश तोमर परिवार के साथ बुराड़ी के कमल विहार में रहते हैं. उनका बड़ा बेटा हर्षित तोमर पढ़ाई कर रहा है. कुछ दिनों पूर्व हर्षित ने एक नामी बड़ी कंपनी का मोबाइल फोन खरीदा था. बुधवार सुबह करीब 7.00 बजे हर्षित ने फोन चार्जिंग पर लगाया हुआ था. इस बीच उसकी कॉल आ गई.
हर्षित ने फोन को चार्जिंग से निकाला और वह छत पर बात करने जाने लगा. इस बीच हर्षित ने देखा कि मोबाइल से धुंआ निकल रहा है. अचानक मोबाइल तेज गर्म भी हो गया है. हर्षित ने डर की वजह मोबाइल को दूर फेंक दिया. इस बीच मोबाइल से तेज चिंगारी निकली और वह फट गया.
गनीमत यह रही कि मोबाइल पकड़े छात्र ने धुंआ निकलते ही उसे फेंक दिया था. फोन में भी धमाका बहुत ज्यादा तेज नहीं हुआ. हादसे में कोई हताहत भी नहीं हुआ. अलबत्ता मोबाइल फटने की सूचना मिलते ही पीडि़त के घर पर पड़ोसियों को तांता लग गया.

सर्पदंश से पीड़ित महिला के इलाज को पहुंचे अस्पताल, लेकिन ये क्या..कोबरा के साथ !


सर्पदंश से पीड़ित महिला को बचाने के लिए उसके परिजनों ने अनूठा उपाय निकाला। परिजनों ने महिला को डसने वाले कोबरा सांप को पकड़ लिया और पीड़ित महिला को कोबरा सहित जिला अस्पताल लेकर पहुंच गए, जिसके बाद सांप की पहचान करते हुए जिला अस्पताल के डॉक्टरों ने महिला का उपचार शुरू करके उसकी जान बचा ली। इसी के साथ कोबरा को वन विभाग की टीम के सुपुर्द कर दिया गया है।
जिला अस्पताल के डॉक्टरों के मुताबिक, बुधवार की आधी रात को अमरोहा निवासी इस्लाम अपनी पत्नी ने महजबीन को लेकर जिला अस्पताल पहुंचा था। इस्लाम ने बताया कि महिला को कोबरा ने डस लिया है। इस्लाम ने हिम्मत दिखाते हुए कोबरा को भी पकड़ लिया और उसे भी बोतल में बंद करके साथ ले आया था।
सांप को देखकर उसके जहर की पहचान करते हुए डॉक्टरों ने तत्काल महजबीन का उपचार शुरू कर दिया। नतीजा यह रहा कि समय से उपचार मिलने पर महिला की जान बच गई। उपचार के बाद सर्पदंश से पीड़ित महिला को भी अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया।
गुरुवार को जिला अस्पताल के डॉक्टरों ने वन विभाग की टीम को सूचना देते हुए कोबरा को वन विभाग के अधिकारियों के हवाले कर दिया।

मोदी सरकार की धमाकेदार योजना, सस्ते में खरीदें सोना, आखिरी दिन आज


लगातार चढ़ती सोने की कीमतों के बीच सरकार ने सस्ती दरों पर सोना खरीदने का मौका दिया है। निवेशक सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड योजना के तहत बाजार मूल्य से काफी सस्ता सोना खरीद सकते हैं और आज इसका आखिरी दिन है। इसलिए अगर आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, तो देर ना करें। इसकी बिक्री पर होने वाले लाभ पर आयकर नियमों के तहत छूट मिलेगी। आइए जानते हैं इस योजना के बारे में।
योजना के तहत निवेश करने की अवधि दो दिसंबर से ही शुरू हो गई थी और आज यानी छह दिसंबर को इसका आखिरी दिन है। सरकार की ओर से योजना में निवेश के लिए पांच दिन तक का समय दिया गया था। बीते दिनों सोने का दाम अपने उच्चतम स्तर पर पहुंचा था, लेकिन सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड के तहत आप सस्ते में सोना खरीद सकते हैं। अगली स्लाइड में जानते हैं सोने की कीमत और योजना के बारे में।
योजना के तहत आप 3,795 रुपये प्रति ग्राम पर सोना खरीद सकते हैं। यानी अगर आप 10 ग्राम सोने खरीदते है तो उसकी कीमत 37,950 रुपये बैठती है और गोल्ड बॉन्ड की खरीद ऑनलाइन तरीके से की जाती है तो सरकार ऐसे निवेशकों को 50 रुपये प्रति ग्राम की अतिरिक्त छूट देती है।
यानी ऑनलाइन सोना खरीदने पर निवेशकों को प्रति ग्राम सोना 3,745 रुपये का पड़ेगा। ऐसे में आपको 37,550 रुपये में 10 ग्राम सोना मिल जाएगा। जबकि सर्राफा बाजार में सोने की कीमत करीब 39000 रुपये प्रति दस ग्राम है। अगली स्लाइड में जानते हैं आप इसके खरीदारी कहां से कर सकते हैं और कैसे आपको आयकर छूट मेलिगी।
गोल्ड बॉन्ड आप बैंकों, डाकघरों, एनएसई और बीएसई के अलावा स्टॉक होल्डिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड के जरिए भी खरीद सकते हैं। आइए जानते हैं इसके तहत आपको आयकर छूट कैसे मिलेगी।
गोल्ड बॉन्ड की परिपक्वता अवधि आठ साल की होती है और इस पर सालाना 2.5 फीसदी का ब्याज मिलता है। बॉन्ड पर मिलने वाला ब्याज निवेशक के टैक्स स्लैब के अनुरूप कर योग्य होता है, लेकिन इस पर स्रोत पर कर कटौती (टीडीएस) नहीं होती है। अगर बॉन्ड को तीन साल बाद और आठ साल की परिपक्वता अवधि के पहले बेचा जाता है तो इस पर 20 फीसदी की दर से लांग टर्म कैपिटल गेन (एलटीसीजी) टैक्स लगेगा, लेकिन परिपक्वता अवधि के बाद बेचने पर मिलने वाला ब्याज करमुक्त रहेगा।
सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीस के निवेशकों को एक वित्तीय वर्ष में अधिकतम 500 ग्राम सोने के बॉन्ड खरीदने की ही अनुमति है। वहीं न्यूनतम निवेश एक ग्राम का होना जरूरी है। सरकार ने बजट में सोने पर आयात शुल्क 10 फीसदी से बढ़ाकर 12.5 फीसदी कर दिया है। साथ ही वैश्विक स्तर पर बढ़ी लिवाली से सोने की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं।

एक ऐसा रेस्टोरेंट, जहां इंस्टाग्राम पर फोटो अपलोड करने वालों को मुफ्त में मिलता है खाना


आपने ऐसे रेस्टोरेंट के बारे में तो सुना होगा, जहां प्लास्टिक देने पर मुफ्त में खाना मिलता हो, लेकिन क्या कभी ऐसे रेस्टोरेंट के बारे में सुना है, जहां इंस्टाग्राम पर फोटो अपलोड करने पर मुफ्त में खाना मिलता हो? जी हां, इटली के मिलान शहर में ऐसा ही एक रेस्टोरेंट है, जिसका नाम है 'दिस इज नॉट अ सुशी बार'।
यह रेस्टोरेंट एक जापानी रेस्टोरेंट है, जिसे मैटियो और तोमासो पिट्टरेल्लो नाम के दो भाईयों ने मिलकर खोला है। पिछले साल खुले इस रेस्टोरेंट में 'इंस्टाग्राम पर फोटो अपलोड करो और खाना खाओ' वाला हिसाब-किताब चलता है।
इस रेस्टोरेंट में आपको मुफ्त का खाना खाने के लिए पहले एक प्लेट खाना ऑर्डर करना पड़ेगा और उसके बाद उस खाने की और रेस्टोरेंट की एक तस्वीर हैशटैग के साथ इंस्टाग्राम पर अपलोड करनी होगी।
दरअसल, इंस्टाग्राम पर आपके कितने फॉलोवर्स हैं, उसी के आधार पर रेस्टोरेंट आपको अगली डिश मुफ्त में देगा। अगर आपने खाने और रेस्टोरेंट की तस्वीर इंस्टाग्राम पर पोस्ट की है और आपके 1000 से 5000 के बीच फॉलोवर्स हैं तो आपको एक प्लेट सुशी या साशिमी मुफ्त में मिलेगा।
अगर इंस्टाग्राम पर आपके 5000 से 10,000 फॉलोवर्स हैं तो दो प्लेट, 50 हजार फॉलोवर्स हैं तो चार प्लेट और अगर एक लाख फॉलोवर्स हैं तो आठ प्लेट खाना आप मुफ्त में खा सकते हैं।