Thursday, 17 May 2018

कुछ ही मिनट में पत्थर बन गए इस शहर के 20 हजार लोग, देखकर होश उड़ जायेंगे आपके


ये घटना ७९, ई. की है, जब पॉम्पी इटली और रोमन साम्राज्य का प्रसिद्ध व समृद्ध शहर था। ये शहर पूरे रोम का सबसे शानदार और प्रसिद्ध पर्यटन स्थल भी था, लेकिन इस शहर की त्रासदी दिल दहला देने वाली है। इस शहर को पल भर में ज्वालामुखी ने निगल लिया था। ७९, ई. का यह रोमन शहर ज्वालामुखी और माउंट वेसुवियस के फटने से नष्ट हो गया था।

ज्वालामुखी फटने के कारण यहां के लोग १३, से २०, फीट नीचे दब गये। जब यह शहर पूरी तरह से नेस्तनाबूत हुआ था, तब इसकी आबादी लगभग २०, हज़ार थी। ऐसा माना जाता है कि शहर की पूरी आबादी की मौत ज्वालामुखी की राख और चट्टानों के नीचे दबने से हुई थी। इतना ही नहीं, इस ज्वालामुखी ने इंसानों को फ्रीज़ कर पत्थर सा बना दिया था।

एक रिपोर्ट के मुताबिक, ज्वालामुखी फटते वक्त शहर का तापमान 250 डिग्री सेल्सियस था, जो किसी इंसान को खत्म करने के लिए काफी था। ज्वालामुखी के कारण ऐसा विनाशकारी तापमान लगभग १०, किलोमीटर तक फैल गया था।

ऐसा माना जाता है कि इस गर्मी से मरने के बाद ही ज्वालामुखी के लावा के कारण वे पत्थर के समान हो गये थे। इस शहर की खुदाई के बाद से लगातार पत्थर बन चुके शव बाहर आ रहे हैं।