ट्रक में लादकर ले जाया जा रहा था 40 करोड़ रूपए


ये मामला तेलंगाना के नलगोंडा है। गुरुवार को तेलंगाना के लोग ट्रक में नई करेंसी देखकर हक्के-बक्के रह गए। उन्होंने नई करंसी से भरी एक ट्रक अचानक सामने देखी। पैसों का ये जोखिम भरा ट्रांजेक्शन करने वाले वहां के आंध्र प्रदेश ग्रामीण विकास बैंक के कर्माचारी हैं।

दरअसल गुरुवार को रायथु बंधु योजना की लॉन्चिंग होनी थी। इसके चलते एसबीआई के क्लॉक टावर सेंटर स्थित एसपी रोड मेन ब्रांच से बड़ी मात्रा में नकद अन्य शाखाओं में ट्रांसफर किया जाना था। इसके लिए उस जिले के पांच बैंकों का चुनाव किया गया था। आपको बता दें कि बैंकों को जब कैश को एक जगह से दूसरी जगह पर ट्रांसफर करना होता है तो उसे पूरी तरह से बंद वैन में, कड़ी निगरानी के साथ लेकर जाया जाता है।

हालांकि एपीजीवीबी के पास उस वक्त कोई वैन उपलब्ध नहीं था, इसलिए उन्होंने 3, कॉन्स्टेबलों के देखरेख में ही एक खुले ट्रक में कैश ले जाने का फैसला किया। इस मामले में जहां एक तरफ बैंक के इस कदम की लोगों ने जमकर निंदा कर रहें हैं, वहीं बैंक का कहना था कि वह कैश बांटने में देरी नहीं करना चाहता था, इसलिए उन्होंने खुले ट्रक में कैश ले का यह कदम उठाया।

Powered by Blogger.