Monday, 14 May 2018

आज यहां कहर बरपाएगी कुदरत, सूरज ढलते ही आएगा तूफान-लोगों को उड़ा ले जाएगा मौत का बवंडर


पहले रविवार को मौसम ने देश के उत्तर से लेकर दक्षिणी और पूर्व से लेकर पश्चिमी हिस्सों में तबाही मचाई। २४, घंटे के दौरान आंधी, तूफान और बारिश की वजह से हुए हादसों में छह राज्यों में ५०, लोग मारे गए। ५०, से ज्यादा लाेग जख्मी हुए। सबसे ज्यादा १८, मौतें उत्तरप्रदेश में हुईं।

दिल्ली में १०९, किलोमीटर की रफ्तार से आंधी चली। मौसम विभाग ने ५०, किलोमीटर प्रति घंटे से चलने की बात कही थी। कई जगह पेड़ और खंभे गिरने से काफी नुकसान हुआ। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, नरेन्द्र मोदी और राहुल गांधी ने मारे गये लोगों के प्रति शोक व्यक्त किया।

१४, मई को मौसम विभाग ने जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड के दूरदराज के इलाकों में तेज हवाओं के साथ आंधी और बादल गरजने की चेतावनी दी है। इन इलाकों में ५०, से ७०, किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं। पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, उत्तरप्रदेश, पश्चिम बंगाल, झारखंड, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, तेलांगना, रायलसीमा, दक्षिण कर्नाटक के आंतरिक इलाकों, तमिलनाडु और पुडुचेरी में तेज हवाओं के साथ आंधी की चेतावनी दी गई है। ओडिशा के दूरदराज के इलाकों में भारी बारिश का अलर्ट। राजस्थान के कई इलाकों में धूलभरा तूफान उठ सकता है।