Friday, 11 May 2018

gogle 2018 में लॉन्च किया गया ऐंड्रॉयड P वर्जन


अडैप्टिव ब्राइटनेस फीचर मशीन लर्निंग को इस्तेमाल करता है ताकि यह समझ सके कि यूजर्स अलग-अलग सेटिंग में किस तरह के ब्राइटनेस रखना पसंद करते हैं। ऐंड्रॉयड P में ऐप ऐक्शंस भी मौजूद हैं जो ये भविष्यवाणी कर सकते हैं कि आपको क्या करने की जरूरत है ताकि आप ज्यादा तेज और रचनात्मक हो सकें। स्लाइसेज आपको सबसे ज्यादा इस्तेमाल करने वाले ऐप की और अधिक जानकारी देता है।

साथ ही बता दें कि इस वर्जन को अब पिक्सल और दूसरी कंपनियों के फ्लैगशिप स्मार्टफोन्स में दिया जाएगा। एंड्रॉयड में सिक्योरिटी को भी बेहतर किया गया है। सोने के समय आप Wind Down नाम का फीचर यूज कर सकते हैं जिससे आपकी फोन की स्क्रीन खुद से ग्रे स्केल हो जाएगी। Android P में sush नाम का फीचर दिया गया है जो डु नॉट डिस्टर्ब को शुरू कर देता है. इस दौरान डिस्प्ले पर किसी तरह के नोटिफिकेशन्स नहीं दिखेंगे।