Sunday, 10 June 2018

महज 10 से 20 रुपए में गली-गली में बिक रही है ये जानलेवा बीमारी, 24 घंटे में मरीज की मौत है पक्की


गर्मियो का मौसम आ गया हैं। ऐसे में लोग कई प्रकार के पेय पदार्थो का सेवन बड़े ही शौक से करते हैं।
पेय पदार्थो की सूचि में अनेक प्रकार की कोल्डड्रिंक्स और गन्ने का रस भी आता हैं। गन्ने के रस के बारे में बताने जा रहे हैं जो गर्मी में पीने वाला सबसे अधिक और सस्ता पेय पदार्थ हैं और लोग इसे बड़े शौक से नमक डाल-डाल कर पीते हैं।

उनसे होने वाले नुकसान के बारे में ध्यान नहीं देते हैं जिस कारण हमें गंभीर बिमारियों से दो-चार होना पड़ता है। हम गर्मी से छुटकारा पाने के लिये पेय पदार्थो का सेवन तो कर ही लेते हैं। लेकिन उनसे होने वाली घातक बीमारियो के बारे मे थोड़ा भी नहीं सोचते हैं।

गन्ने का रस पीने से पहले एक बार देखिए कि वह बनता कैसे है, जिस गन्ने का जूस आप पी रहे हों, उस पर खेतों की मिट्टी न हटाई गई हो. या नींबू धब्बेदार हो. उसके बीज भी नहीं निकाले जाते.

पुदीना धोया नहीं जाता. रस निकलकर जिस पतरे में आता है उसे हाथ से तपेली की तरफ बढ़ाया जाता है। हाथ कभी धोए नहीं जाते. बस यहीं से बीमारी के सारे लक्षण शुरू हो जाते हैं। इसमें मौजूद कीटाणु 24 घंटे में जान भी ले लेते हैं।

No comments:

Post a Comment