Friday, 29 June 2018

मधुमक्खियों का शहद बेचकर ये महिला अकेले करती है बिजनेस, साल में कमाती है 7 लाख रूपए


प्रजक्ता एडमाने महाराष्ट्र के गडचिरोली जिले की निवासी हैं। उन्होने फारमेसी और एमबीए से अपनी पढा़ई पूरी की है। वह पूने में एक बहुत अच्छी कम्पनी और सेलेरी पर काम करती थी। लेकिन प्रजक्ता कभी अपनी नौकरी से संतुष्ट नहीं हुई और हमेशा से कुछ और अपनी फील्ड से अलग करना चाहती थी। प्रजक्ता महाराष्ट्र के नक्शल इन्फेस्टिड एरिया से थी, इसलिए वह जानती थीं कि उनके गांव में किसी बात की कोई कमी नहीं है। लेकिन उनका सोचना था कि यह मेरे गांव के लिए अभी सम्पूर्ण नहीं है।

बताया गया है कि उस जिले में बहुत सुन्दर जंगल भी है, और प्रजक्ता भी और लोगों की तरह अपने गांव का नाम बेहतर, क्रीयेटिव और अन्य कारणों की वजह से प्रसिद्ध कराना चाहती थी।  उन्हें ऐसा करने के लिए अपनी नौकरी से कुछ अलग हटकर करने की जरूरत थी। इसके लिए बी-कीपिंग का बिजनेस शुरू करने का सोचा और उसके बाद नौकरी छोड़कर वह एक बी-कीपर बन गईं। उन्होने बताया कि बी-कीपिंग का बिजनेस शुरू करने से पहले मैने इस पर कुछ रिसर्च की और कुछ समय तक नेशनल बी-बोर्ड में ट्रेनिंग भी की जिसके कारण कश्मीर से आंध्र प्रदेश तक सभी बी-कीपर्स से जुड़ पायी।

प्रजक्ता यह सभी प्रकार के हनी अपने खुद के ब्रैंड कस्तूरी हनी के नाम से बेचती हैं। हर एक हनी बॅाटल की 60 से 380 रूपए तक में बिकती है। इसके अलावा प्रजक्ता बी-वेनम भी बेचती हैं। इस वेनम का उपयोग मेडिकल इंडस्ट्री में अर्थराइटिस, नर्व पेन और मल्टीपल स्क्लेरोसिस से लड़ने में किया जाता है। 

No comments:

Post a Comment