Friday, 22 June 2018

96 साल की इस महिला ने शुरू की पढ़ाई, 4th क्लास में ले रही हैं एडमिशन


केरल के अलप्पूझा जिले की रहने वाली 96 साल की कर्थयायनी अम्मा साक्षरता मिशन के तहत फोर्थ ग्रेड में एडमिशन ले रही हैं। उन्होंने 10वीं क्लास तक पढ़ने का फैसला किया है। उन्हें सबसे उम्रदराज स्टूडेंट माना जा रहा है।

लोकल मीडिया के मुताबिक, जनवरी 2018 में चेप्पड ग्राम पंचायत की साक्षरता टीम सरकार द्वारा बुजुर्गों के लिए बनाई गई लक्षम वेदु कॉलोनी गई थी। कॉलोनी में रह रही ज्यादातर बुजुर्ग महिलाओं ने जहां इस साक्षरता मिशन से बचने की कोशिश की, वहीं कर्थयायनी अम्मा इसका हिस्सा बनने के लिए तैयार हो गईं।

अभी अम्मा मैथमेटिक्स की पढ़ाई कर रही हैं और 3 तक के पहाड़े याद करने में व्यस्त हैं। इसके अलावा वो मलयालम के अल्फाबेट्स भी सीख रही हैं। आने वाले साल में अम्मा अंग्रेजी भी सीखेंगी, जिसे उनके कोर्स में शामिल किया जा रहा है।

अम्मा बताती हैं कि उनके अंदर पढ़ाई करने का शौक पिछले कुछ साल में तब जागा, जब उन्होंने अपनी बेटी अम्मिनी अम्मा को पढ़ते देखा। अम्मा की बेटी ने 60 साल की उम्र में लिटरेसी मिशन का कोर्स पास किया। साक्षरता मिशन का ये कोर्स क्लास 10वीं के पारंपरिक कोर्स के बराबर है।अम्मा की इस पहल के बाद 30 बुजुर्गों ने इस कोर्स के लिए अपना एनरोलमेंट कराया है।

कर्थयायनी अम्मा के पिता पेशे से ट्यूटर थे। पर इसके बावजूद वो और उनकी बहन ने 12 साल की उम्र में पढ़ाई छोड़ दी थी। वो दोनों घर के पास मौजूद एक मंदिर में काम करने लगी थीं।

No comments:

Post a Comment