Sunday, 24 June 2018

अब चाय वाले की बेटी उड़ाएगी एयरफोर्स का फाइटर जेट,हैरान कर देगी


कहते हैं जहां मेहनत होती है वहां कामयाबी झक मारकर आती है और जहां सिर्फ ऐश और आराम होता है वहां इंसान नल्ला होता है।

ये कहावत ही नहीं एक ऐसा सच है जिसे कई लोगों ने अपनी कड़ी मेहनत से सच कर दिखाया है। उन्ही लोगों में एक नाम और जुड़ गया है। वो नाम है मध्यप्रदेश की बेटी आंचल गंगवाल का।

आंचल गंगवाल अब एयरफोर्स में फाइटर जेट की पायलेट बनने जा रही हैं। वे कॉकपिट में बैठकर दुश्मनों को धूल चटाएंगी। आंचल के पिता मप्र के नीमच में चाय बेचते हैं। जी हां सही पढ़ा आपने चाय बेचते हैं। दिन भर केतली लेकर चाय पिलाने के बाद कहीं जाकर उनको परिवार के लिए दो वक्त की रोटी का इंतजाम होता है।

नीमच सिटी रोड पर चाय बेचने वाले सुरेश गंगवाल कहते हैं उन्होंने कभी सोचा भी नहीं था कि उनकी बेटी आसमान छूएंगी। घर की माली हालत भी ऐसी नहीं कि इतना ऊंचा सपना देख सके लेकिन यह सपना देखा उसकी लाड़ली बेटी आंचल ने।

संघर्षों से लड़कर आंचल गंगवाल ने पांच लाख स्टूडेंट्स के बीच एयरफोर्स कामन एडमिशन टेस्ट की परीक्षा पास कर ली। नीमच ही नहीं बल्कि पूरे मप्र की एक मात्र ऐसी बेटी है जो फाइटर पायलट बनने जा रही है।

उसकी इस सफलता में पिता सुरेश गंगवाल और मां बबीता गंगवाल का उम्रभर संघर्ष शामिल है, जिन्होंने तमाम परेशानियां झेली लेकिन बेटी को आसमान पर पहुंचा दिया। अब आंचल लड़ाकू विमान उड़ाएंगी।

एयरफोर्स कॉमन एडमिशन टेस्ट में सफल हुई प्रदेश की इकलौती तथा नीमच की बेटी आंचल गंगवाल को भोपाल में सीएम हाउस के पास स्थित जहानुमा पैलेस में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने सम्मान किया।

No comments:

Post a Comment