Monday, 11 June 2018

अंतिम संस्कार के लिए किशोरी के शव को करा रहे थे स्नान, अचानक हुआ कुछ ऐसा कि वहां मच गई भगदड़


दरअसल मामला पुरकाजी थाना क्षेत्र के गांव भूराहेड़ी का है। यहां शख्स अपने परिवार के साथ रहते है आैर परिवार का पालन पोषण करते है। शख्स की पत्नी काफी समय पहले घर छोड़कर चली गई थी। जिसके बाद से वह अकेले ही अपने बच्चों का पालन पोषण कर अपना जीवन व्यतीत कर रहे है। उनकी दो बेटी आैर एक बेटा है।

इसी में उनकी 16 वर्षीय बेटी को मंगलवार को पेट में दर्द हुआ। इस पर पिता ने बेटी को पेट के दर्द की दवार्इ दे दी। लेकिन अगले ही दिन नाबालिग की मौत हो गर्इ। जिसके बाद दर्द को बेटी की मौत का कारण मानकर पिता व अन्य लोग नाबालिग के दाह संस्कार की तैयारी में जुट गया।

वहीं महिलाए दाह संस्कार से पहले किशोरी के शव को स्नान कराने लगी। इसी दौरान महिलाओं को किशोरी के शरीर पर चोट के निशान दिखाई दिए। मौत पर संदेह होने के बाद परिजनों ने मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर परिजनों की सहमति से पंचनामा भरकर कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

वहीं मृतका के पिता ने लिखित में शिकायत देकर पड़ोस की एक महिला पर आरोप लगाया कि मंगलवार को वह उनकी बेटी को जंगल में काम करने के लिए लेकर गई थी। जहां उसके साथ बालात्कार किया गया। इसके चलते उसकी मौत हो गर्इ। बहराल मौत का कारण और बलात्कार होने का खुलासा पाेस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही होगा। पुलिस मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच में जुट गर्इ है।

No comments:

Post a Comment