Saturday, 30 June 2018

शरीर में कहीं भी हो पथरी, गर्म पानी के साथ रात को खाएं ये दवा सुबह तक शरीर से बाहर होगी पथरी


जो लोग कहते हैं कि पथरी नहीं गल सकती उनके लिए हम आज हम ऐसा तरीका लेकर आए हैं कि उनके मुंह पर ताले लग जाएंगे। ये तरीका पूरी तरह आजमाया हुआ है वो सिर्फ एक पर नहीं अनेक मरीजों पर।

एक दवा से शरीर की पथरी गलकर बाहर निकल जाती है। इस दवा की कीमत सिर्फ 30 से 40 रुपए है। जिस पर ये दवा प्रयोग की गई वो कोई छोटी मोटी हस्ती नहीं हैं, बल्कि डॉक्टर बिंदु प्रकाश मिश्र, जो कि महर्षि दयानंद कॉलेज परेल मुंबई में मैथ के प्रोफेसर के रूप में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। और यूनिवर्सिटी सीनेट के सदस्य भी हैं।

डॉक्टर साहब की पित्त की थैली में 21 MM की पथरी थी जिससे काफी दर्द होता था  डॉक्टर ने इनको पित्त की थैली ही निकालने कीसलाह दी थी। मगर इन्होंने आयुर्वेद की शरण में जाने की सोचा। और फिर क्या बस 5 दिनों में ये स्टोन कहां गायब हो गया, पता ही नहीं चला।

ये कुछ और नहीं ये है गुडहल के फूलों का पाउडर अर्थात इंग्लिश में कहें तो Hibiscus powder। ये पाउडर बहुत आसानी से पंसरी से मिल जाता है। अगर आप गूगल पर Hibiscus powder नाम से सर्च करेंगे तो आपको अनेक जगह ये पाउडर online मिल जायेगा। और जब आप online इसको मंगवाए तो इसको देखिएगा organic hibiscus powder क्योंकि आज कल बहुत सारी कंपनिया आर्गेनिक भी ला रहीं हैं तो वो बेस्ट रहेगा। कुल मिला कर बात ये है के इसकी उपलबध्ता बिलकुल आसान है। अब जानिये इस पाउडर को इस्तेमाल कैसे करना है।

गुडहल का पाउडर एक चम्मच रात को सोते समय खाना खाने के कम से कम एक डेढ़ घंटा बाद गर्म पानी के साथ फांक लीजिये। ये थोडा कड़वा होता है।

इसलिए मन भी कठोर कर के रखें। मगर ये इतना भी कड़वा नहीं होता के आप इसको खा ना सकें। इसको खाना बिलकुल आसान है। इसके बाद कुछ भी खाना पीना नहीं है।

No comments:

Post a Comment