Sunday, 10 June 2018

कच्ची सड़क पर एंबुलेंस भेजने से किया मना, बांस पर लटकाकर गर्भवती को लटकाकर अस्पताल ले गए लोग


बता दें विशाखापट्टनम में एक गर्भवती महिला को चादर के स्‍ट्रेचर में 6 किलोमीटर ढोकर अस्पताल पहुंचाना पड़ा। वह भी इसलिए, क्योंकि सड़क खराब होने का हवाला देकर एंबुलेंस भेजे जाने से इनकार कर दिया गया था। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, विशाखापट्टनम के अनुकु गांव के निवासियों ने बांस के डंडे और बिस्तर के चादर की मदद से छह किलोमीटर तक एक गर्भवती महिला को ले गए।.

कोटाउरतला गांव की रहने वाली पीड़िता के परिजनों ने बताया कि शुक्रवार को उसे प्रसव पीड़ा उठी तो उन्होंने 108 नंबर डायल कर एंबुलेंस भेजने का अनुरोध किया। लेकिन अस्पताल ने खराब सड़क का हवाला देते हुए एंबुलेंस भेजने से इनकार कर दिया। गांव से अस्पताल सड़क मार्ग से 10 किलोमीटर दूर है। परिजनों ने बताया कि उन्हें गर्भवती महिला को उठाकर करीब 6 किलोमीटर पैदल चलना पड़ा। गनीमत रही कि शेष चार किलोमीटर के लिए उन्हें ऑटो रिक्शा मिला, जिसमें शेष 4 किलोमीटर की दूरी तय की गई।

No comments:

Post a Comment