Sunday, 24 June 2018

मजहब के नाम पर लड़ने वालों इन मुसलमानों को देख लो


मजहब के नाम पर लड़ने वाले लोगों के लिए एक ऐसी खबर है जिसे जानकर हर किसी का दिल खुश हो जाएगा। दरअसल, मैंगलोर में मुस्लिमों ने चंदा करके एक हिंदू महिला का अंतिम संस्कार किया।

हिंदू परिवार की मदद कर इस मुस्लिम परिवार ने मिसाल कायम की है। महिला की उम्र 52 साल है। यह घटना पुट्टुर तालुक के विद्यापुरा में जनवती कॉलोनी की है। दरअसल पैसे की कमी की वजह से महिला के अंतिम संस्कार में परेशानी हो रही थी। उनके भाई कृष्णा ने बहन के अंतिम संस्कार के लिए अपने ही रिश्तेदारों से मदद मांगी।

हद तो तब हो गई जब मदद मांगने पर भी किसी ने भी इनकी मदद नहीं की। लेकिन शुक्र है इस मुस्लिम परिवार का। ये ना होते तो शायद इस महिला का अंतिम संस्कार ना हुआ होता। महिला की मदद करने के लिए शौकत, हमजा, नाज़ीर, रियाज और फारूक विद्यापुरा से आए और परिवार की मदद करने के लिए चंदा इकट्ठा शुरू कर दिया। इन मुसलमानों ने अंतिम संस्कार के लिए करीब  7 हजार रुपए जमा कर लिए।

फारुक ने कहा कि ऐसा हम खुद को फेमस करने के लिए नहीं कर रहे हैं, बल्कि हम इसलिए कर रहे हैं ताकि समाज में ये संदेश भेजा जा सके कि अंतिम संस्कार के लिए मना नहीं किया जाना चाहिए। हमने महिला की मदद निस्वार्थ भाव से इंसानियत के नाते की है। हमने इसका जाति-धर्म नहीं देखा। उन्होंने आगे कहा कि हमें जाति-धर्म को दूर रखकर इंसान की मदद करनी चाहिए।

No comments:

Post a Comment