Friday, 15 June 2018

पुलिस भर्ती परीक्षा में आई सारी लड़कियों का हुआ प्रेग्नेंसी टेस्ट और फिर लड़कियों को हो गई जेल


मध्यप्रदेश में पुलिस आरक्षक भर्ती में छूट की मांग को लेकर धरना देने वाली लड़कियों को जेल से रिहा कर दिया गया है। लड़कियों ने जेल से बाहर आकर आरोप लगाया कि उनका प्रेग्नेंसी टेस्ट करवाया गया है। कांग्रेस ने इसे भांजियों का अपमान बताते हुए मामा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से कहा है कि वे माफी मांगें।

लड़कियों ने कहा कि प्रेग्नेंसी टेस्ट से उनके सम्मान को ठेस पहुंची हैं। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि चेंजिंग रूम में जेल प्रहरियों ने ताक-झांक की। इन लड़कियों ने कहा कि वे इस बात की शिकायत महिला आयोग और मानवाधिकार आयोग में करेंगी।

इधर कांग्रेस ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा है कि भांजियों का अपमान हुआ, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को इसके लिए माफी मांगनी चाहिए। इससे पहले आज सुबह महिला कांग्रेस ने अध्यक्ष संतोष कसाना के नेतृत्व में लड़कियों की गिरफ्तारी के विरोध में प्रदर्शन किया।

No comments:

Post a Comment