Tuesday, 31 July 2018

बेमेतरा में आंगनबाड़ी सहायिका ने ढाई साल के बच्चे को गंर्म चिमटे से दागा


खण्डसरा आंगनबाड़ी क्रमाक-3 में सहायिका ईश्वरी नेताम की बर्बरता सामने आई है। उसने ढाई साल के रिशभ रजक के कुल्हे को गर्म चिमटे से जला दिया। बच्चा रोते हुए घर पहुंचा। उसके कुल्हे पर फफोले उभर आए थे। परिजन द्वारा कारण पूछने पर सहायिका ने पहले कहा कि बच्चे ने आंगनबाड़ी केन्द्र में यूरिन कर दिया था। इसी कारण उसे सबक सिखाने के लिए दागा।

विवाद बढ़ता देख अब वह दूसरे बच्चे पर रिशभ को जलाने का आरोप लगा रही है। बच्चे के पिता महेश रजक के मुताबिक घटना तीन दिन पहले की है। उन्होंने गांव के प्रमुखों के साथ पर्यवेक्षक रुचि ठाकुर को सहायिका की करतूत के बारे में बताया। प्रभारी परियोजना अधिकारी मुन्नी पंत को भी इसकी जानकारी दे दी गई है। बेमेतरा परियोजना अधिकारी सीपी शर्मा ने जांच में दोषी पाए जाने पर सहायिका की सेवा समाप्त करने का निर्देश जनपद पंचायत को दिया है।

No comments:

Post a Comment