Thursday, 26 July 2018

यहां बिस्तर पर बंदूक के साथ सो रही हैं महिलाएं, वजह सुरक्षा नहीं कुछ और है जो हैरान कर देगी


इस फोटो सीरीज में महिलाओं को पूरे गर्व से गन के साथ पोज करते दिखाया गया है। इसमें स्कूल टीचर से लेकर हाउस वाइफ और क्रिमिनल कोर्ट की जज तक सभी वर्ग की महिलाएं हैं।  हॉस्टन में पली-बढ़ी फोटोग्राफर काल्टन ने बताया कि बचपन से ही गन जिंदगी का हिस्सा थीं, जिसके साथ हम खेलते-खेलते बड़े हुए।

उन्होंने कहा कि इसमें बदलाव तब आया जब उनका एक दोस्त अचानक खेल-खेल में चली गन से जख्मी होकर मर गया।  इसके बाद ऐसी ही एक घटना सैलून में हुई, जिसके बाद दोबारा उनका इंट्रेस्ट फायरआर्म कल्चर में जागा और उन्होंने एक फोटोग्राफी प्रोजेक्ट शुरू किया। काल्टन ने पहले अपने सर्किल की औरतों की फोटोग्राफी की और फिर इसे उन्होंने दायरा बढ़ाते हुए लाइसेंस हैंडगन के साथ टेक्सास की महिलाओं की फोटोज कैप्चर की।

अमेरिकी गन इंडस्ट्री सालाना 91 हजार करोड़ रुपए का रेवन्यू जेनरेट करती है। पर बंदूकों से होने वाली हिंसा से कहीं ज्यादा नुकसान भी हो रहा है। 2012 में हथियारों से होने वाली हिंसा और मौतों से 20 हजार करोड़ रुपए का नुकसान हुआ था। यह जीडीपी का 1.4 फीसदी हिस्सा है।

No comments:

Post a Comment