Sunday, 5 August 2018

जो लोग चिकन खाने के बहुत ज्यादा शौकीन है वह इस खबर को 1 बार जरूर देखें


चिकन को कई सालों से खाया जाता है। चिकन खाने के फायदे और नुकसान दोनों ही होते हैं। आज हम इसी के बारे में बात करेंगे। मुर्गियों को पहले लड़ने के लिए पाला जाता था। चिकन दुनिया में सबसे सामान्य प्रकार की पोल्ट्री है। हजारों सालों से इसे पाला और खाया जाता है। माना गया है कि मुर्गियों को सबसे पहले भारत में इन्हें लड़ने के लिए पाला गया था, फिर बाद में इनको मांस खाने के लिए पाला जाने लगा था। बाद में मुर्गी को एशिया, अफ्रीका और यूरोप के दूसरे हिस्सों में पाला जाने लगा और यह अमेरिका में भी पाले जानी लगी थी।

चिकन उद्योग में मुर्गियों की संख्या बढाने के लिए उन्हें आर्सेनिक खिलाया जाता है, जो मनुष्य के लिए हानिकारक होता है।

दुकानदार इन जानवरों को जल्दी बड़ा करने के लिए ओक्सिटोसिन के इंजेक्शन देते हैं जिससे इनके मांस को खाने से लोगों की सेहत पर बुरा असर होता है।

चिकन सहित अन्य प्रकार के मांस को उच्च तापमान पर पकाने से उसमें एचसीए यानि हेटरोसायक्लिक एमाइंस पाए जाते हैं जो कैंसर के खतरे को बढ़ाते हैं।



No comments:

Post a Comment