Wednesday, 1 August 2018

गांव में रहने वाले युवक का कमाल, बनाई ऐसी मशीन जो कचरे से बना रही कच्चा पेट्रोल-वैज्ञानिक हैरान


बिहार के एक सामान्य से युवक ने वह कर दिखाया है जो बड़े बड़े वैज्ञानिक नहीं कर पा रहे हैं। एक तरफ दुनिया प्लास्टिक के कचरे से परेशान है और इधर बिहार के इस नौजवान ने ऐसी तकनीक विकसित कर दी है जिसमे प्लास्टिक के कचरे से क्रूड ऑयल बना कर बहुत अच्छी कमाई की जा सकती है।

संतोष नाम के इस युवक ने इसके लिए बहुत ही सस्ती देसी तकनीक ईजाद कर सभी को चौंका दिया है। इस तकनीक से 35 रुपये खर्च कर एक लीटर क्रूड ऑयल बनाया जा सकता है और उसी क्रूड ऑयल से पेट्रोल भी बनाया जा सकता है। जिसकी बाजार में कीमत 70 रुपये प्रति लीटर है। मुजफ्फरपुर के संतोष की चर्चा अब काफी दूर दूर तक फ़ैल चुकी है।

बताते हैं कि 40 वर्षीय संतोष की विज्ञान में बचपन से ही गहरी रुचि रही है। उनकी इच्छा वैज्ञानिक बनने की थी। सोच वैज्ञानिक थी, सो कुछ न कुछ रिसर्च करते रहते थे। आर्थिक तंगी की वजह से इंटर साइंस के बाद आगे की पढ़ाई पूरी नहीं कर सके और एक फैक्ट्री में काम करने लगे। वे शोध करना चाहते थे। संतोष बताते हैं कि इसी क्रम में उन्होंने प्लास्टिक व पेट्रोलियम के अणुसूत्र का गहराई से अध्ययन किया। कई किताबें पढ़ीं। सोशल साइटों को खंगाला और पाया कि प्लास्टिक को तोड़ा जाए तो पेट्रोलियम पदार्थ निकाला जा सकता है। वह बताते हैं कि विदेश में कुछ उद्योग यह काम कर रहे हैं।

No comments:

Post a Comment