Saturday, 11 August 2018

अस्पताल में महिला के बराबर में लिटा दिया अंजान आदमी, इसके बाद जो हुआ पूरा अस्पताल देखता रह गया


एक ऐसा मामला सामने आया है मध्यप्रदेश के रोलसाहबसर में । वहां के सरकारी अस्पताल का आलम ये है कि एक ही बेड पर दो-दो मरीजों को लेटाकर ड्रिप चढ़ाई जा रही है।

इस दौरान महिला के बेड पर महिला के पास पुरुष को भी लेटाकर ड्रिप चढ़ा दी। दरअसल सीएचसी में बेड कम होने से ऐसी परिस्थितियां अकसर बन जाती है। सोमवार को एक ही बेड पर महिला व पुरुष को भर्ती करने का मामला सामने आया।

मामला गंभीर होने के बाद भी पूरे समय तक एक ही बेड पर लेटाए रखा। जिसको देखकर महिला के घरवालों ने अस्पताल में जमकर बवाल काटा। लोगों ने महिला और पुरुष की तस्वीर खींचकर अस्पताल प्रशासन से जवाब मांगा। सीएचसी में महज चार ही बेड है।

नियमानुसार सीएचसी में महिला वार्ड अलग होना चाहिए। पीएचसी को 2013 में सीएचसी में कमोन्नत कर दिया गया था, लेकिन पांच साल बाद भी सीएचसी के निर्धारित मापदंड पूरे नहीं हैं।

No comments:

Post a Comment