Tuesday, 4 December 2018

40 फीसदी सस्ती हुई बिजली की कीमतें, उत्तरी राज्यों में कम मांग से दिखा असर


बिजली की औसत कीमतें अक्तूबर के मुकाबले नवंबर में 40 फीसदी गिरकर 3.59 रुपये प्रति यूनिट रहीं। इंडियन एनर्जी एक्सचेंज ने मंगलवार को कहा कि मुख्य रूप से सर्दियां शुरू होने से उत्तरी और पश्चिमी राज्यों में कम मांग के कारण कारण कीमतों में गिरावट आई। अक्तूबर में बिजली की औसत कीमत 5.94 रुपये प्रति यूनिट थी।

आईईएक्स के बयान में कहा गया है कि नवंबर में बिजली का औसत बाजार समाशोधन मूल्य 3.59 रुपये प्रति यूनिट दर्ज किया गया। इसमें पिछले साल की समान अवधि के 3.55 रुपये प्रति यूनिट के मुकाबले 1.12 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई। बयान के मुताबिक, समीक्षाधीन महीने में थर्मल पावर उत्पादकों के साथ कोयले की उपलब्धता में सुधार हुआ है। एक राष्ट्र-एक कीमत को 17 दिनों तक महसूस किया गया।

नेशनल लोड डिस्पैच सेंटर के आंकड़ों के मुताबिक, 2 नवंबर को अखिल भारतीय स्तर पर बिजली की मांग सबसे अधिक 162 गीगावाट रही, जो पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 9 फीसदी अधिक थी। वहीं, आपूर्ति 1,00,547 एमयू रही। पिछले साल की समान अवधि के 94,371 एमयू के मुकाबले इसमें 7 फीसदी की वृद्धि देखी गई।

No comments:

Post a Comment