Saturday, 13 April 2019

जब सिर के आर-पार हो गई मौत, अकेले अस्पताल पहुंचा युवक, फिर हुआ कुछ ऐसा



महाराष्ट्र के नागपुर में एक 21 साल के युवक के सिर के दाहिने हिस्से में लोहे की एक सरिया घुस गई. गनीमत रही कि इतने वीभत्स हादसे के बाद भी युवक की जान बच गई और उसने होश में रहकर उसी हालत में बालाघाट से नागपुर तक सफर भी किया और अस्पताल में वह खुद ही भर्ती हुआ. जबकि उसी दिन डॉक्टरों ने सर्जरी कर युवक के सिर से सरिया निकालकर उसकी जान बचा ली.

बता दें कि इस मरीज का नाम संजय बाहे है जो अपनी मजदूरी के बचे हुए पैसे से घर में कुआं बना रहा था. जानकारी के मुताबिक़, संजय एक किसान परिवार से ताल्लुक रखते हैं और उन्होंने बताया कि कुएं का निचला हिस्सा पूरा हो गया था लेकिन सरिया निकालनी बाकी रह गई थी. उनकी मुताबिक, 'जिस स्टैंड पर मैं बैठा था वह अचानक से टूट गया और मैं सरिया पर गिर गया था. जहां उनकी साथ यह भीषण हादसा हुआ.

एक सरिया उनके सिर के दाहिने हिस्से में घुस गई और बाईं तरफ से आर-पार हो आई. जबक उनकी एक हाथ में एक सरिया घुस गया.  न्यूरोसर्जन डॉ. प्रमोद गिरि और उनकी टीम ने मरीज की सर्जरी कर सरिया निकाली और ऑपरेशन के बाद भी उन्हें आईसीयू में रिफर करने की जरूरत नहीं पड़ी. खास बात यह रही कि ऑपरेशन के बाद भी संजय होश में थे और स्थिर थे।डॉक्टरों ने हाथ से सरिया भी निकाल दी थी. हालांकि उन्हें इस दौरान मामूली सी चोटों का सामना करना पड़ा है. 

No comments:

Post a Comment