Friday, 14 June 2019

करोड़ों में बिका खतरनाक वायरस वाला लैपटॉप, करवाया 95 अरब डॉलर का नुकसान


लैपटॉप में वायरस का पता चलते ही हम सभी कंप्यूटर एक्सपर्ट के पास भागते-भागते हुए जाते हैं और हम लोगों के हिसाब से सिस्टम में वायरस होना मतलब गड़बड़ी है, लैपटॉप में मौजूद डाटा खतरे में इसे चले जाता है. आप सेल करेंगे तो शायद ही कोई इसे खरीदें. लेकिन हाल ही में एक मामला ठीक इसका उल्टा आया है. दरअसल, बात यह है कि दुनिया के 6 सबसे खतरनाक वायरस जिस लैपटॉप में मौजूद थे, उसे करोड़ों रुपये की कीमत में बेचा है. बताया जा रहा है कि इस लैपटॉप को 9 करोड़ रु देकर खरीदा गया है.
यह लैपटॉप ऑनलाइन नीलामी में खरीदा गया है और जानकारी के लिए आपको बता दें कि सैमसंग के इस लैपटॉप में दुनिया का सबसे खतरनाक वायरस मौजूद था. बताया जा रहा है कि इस खतरनाक वायरस ने दुनिया भर में करीब 95 अरब डॉलर का नुकसान पहुंचा है.
आपको जानकारी के लिए बता दें कि गुओ ओ डॉन्ग और साइबर सिक्योरिटी कंपनी डीप इंस्टिंक्ट के मुताबिक ये वायरस हार्मफुल ना हो इसके लिए ढेर सारे सेफ्टी टिप्स का इस्तेमाल किया गया हैं. वहीं फिलहाल इस लैपटॉप के पोर्ट को डिसेबल किया जा रहा है और इन तरीकों से इसमें मौजूद वायरस सक्रिय नहीं हो सकेंगे.


No comments:

Post a Comment