Friday, 28 June 2019

गूगल का ये टूल है जबदस्त, पासवर्ड चोरी का देगा जानकारी


कई खबरें सुनने में पिछले कुछ दिनों में यूजर्स के डेटा लीक होने की आई हैं. इनमें यूजर्स के पासवर्ड और यूजरनेम के अलावा कई निजी जानकारियों की भी चोरी हुई थी. सिस्टम में आई सिक्यॉरिटी से जुड़ी गड़बड़ी के कारण यूजर्स के डेटा का लीक होना आजकल काफी आम होता जा रहा है. इसीलिए जरूरी है कि यूजर्स समय-समय पर अपने पासवर्ड को बदलते रहें.सिक्यॉरिटी ब्रीच होने पर इस बात की प्रबल संभावना होती है कि आपका भी पासवर्ड चोरी हो गया हो. हालांकि, यह जरूरी नहीं हर डेटा ब्रीच में आपका पासवर्ड भी लीक हो. ऐसे में सबसे बड़ा सवाल यह आता है कि आखिर कोई कैसे जाने कि उसका पासवर्ड लीक हो गया है या फिर वह सुरक्षित है.
इसी का पता लगाने के लिए इस वक्त कुछ ऐसी सर्विसेज मौजूद हैं जिनसे पता लगाया जा सकता है कि पासवर्ड चोरी हुआ है या सेफ है. हाल में गूगल ने भी गूगल क्रोम के एक्सटेंशन के तौर पर एक नए टूल Password Checkup का ऐलान किया है. इसकी मदद से यूजर्स चेक कर सकते हैं कि उनका पासवर्ड हैक हुआ है या नहीं. आइए जानते हैं कि क्या है यह टूल और यह कैसे काम करता है.
आपकी जानकरी के लिए बता दे कि सबसे पहले आपके पास गूगल क्रोम का लेटेस्ट वर्जन होना चाहिए.इसके बाद सबसे जरूरी है कि आपका सिस्टम इंटरनेट से जुड़ा हो.गूगल पासवर्ड चेकअप को डाउनलोड करें.इसे डाउनलोड करने के लिए अपने कंप्यूटर पर गूगल क्रोम ओपन करें.इसके बाद गूगल क्रोम स्टोर ओपन करें.यहां आपको पासवर्ड चेकअप टूल को सर्च करना है.इसे इंस्टॉल करने के लिए 'Add to Chrome' पर क्लिक करें.
इस प्रकार टूल करता है काम  पासवर्ड टेकअप टूल यूजर्स के अकाउंट या सर्विस पर लॉगइन करने पर ऑटोमैटिकली अकाउंट के पासवर्ड को मॉनिटर करता है. अगर यह एक्सटेंशन सिक्यॉरिटी में किसी प्रकार की गड़बड़ी या पासवर्ड लीक को डिटेक्ट करता है तो वह लाल रंग के वॉर्निंग बॉक्स में यूजर को तुरंत उस अकाउंट का पासवर्ड बदलने का मेसेज देता है. अगर इस मेसेज को किसी कारण से यूजर अनदेखा करते हैं तो वह तब तक लाल रहेगा जब तक उसे बदल ना दिया जाए. पासवर्ड सेफ होने की स्थिति में यह हरे रंग का रहता है.इंटरनेट यूज करने वाले लगभग सभी यूजर्स को अपने अकाउंट का पासवर्जड चेंज करने का तरीका मालूम होता है. हालांकि यह पासवर्ड चेकअप टूल यूजर्स को 'Learn more' का एक ऑप्शन देता है. इसपर क्लिक करने के साथ ही यूजर को उस वेबसाइट के सपॉर्ट पेज पर रीडायरेक्ट कर दिया जाएगा जहां वे अपने पासवर्ड को बदल सकते हैं. इस प्रोसेस से पासवर्ड को बदलना काफी आसान हो जाता है.


No comments:

Post a Comment