Saturday, 13 July 2019

एक्सीडेंट नहीं श्रीदेवी का हुआ था मर्डर? IPS पर जमकर भड़के बोनी कपूर


श्रीदेवी की मौत को लेकर आईपीएस अधिकारी और केरल के डीजीपी जेल ऋषिराज सिंह ने हैरान करने वाले दावे किए हैं।
13 अगस्त 1963 को जन्मी श्रीदेवी का पिछले साल 24 फरवरी को दुबई में आकस्मिक निधन हो गया था। उनका पूरा नाम श्री अम्मा येंजर अय्यपन था। वह एक भारतीय फ़िल्म अभिनेत्री थीं, जिन्होंने तमिल, मलयालम, तेल्गु, कन्नड़ और हिन्दी सिनेमा में काम किया था। भारतीय सिनेमा की पहली "महिला सुपरस्टार" कही जाने वाली श्रीदेवी ने पांच  फिल्मफेयर पुरस्कार भी प्राप्त किये। 1980 और 1990 के दशक में श्रीदेवी सबसे अधिक वेतन प्राप्त करने वाली अभिनेत्रयों में शामिल थीं, और उन्हें उस युग की सबसे लोकप्रिय अभिनेत्री माना जाता है। 2013 में भारत सरकार ने उन्हें पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित किया।
24 फरवरी 2018 को जब उनके निधन की खबर दुबई से भारत पहुंची तब पूरे देश में गम का माहौल बन गया था। हालांकि यह पहले घोषित किया गया था कि मौत का कारण दिल का दौरा है, लेकिन बाद में दुबई पुलिस द्वारा जारी की गयी फोरेंसिक रिपोर्ट में संकेत मिले है कि इनकी मृत्यु होटल में बाथटब में दुर्घटनाग्रस्त रूप से डूबने से हुई है। उस समय, वह अपने पति बोनी कपूर और बेटी खुशी के साथ अपने भतीजे मोहित मारवा के संयुक्त अरब अमीरात में विवाह समारोह में थी। लेकिन हाल ही खबर मिली हैं कि अब श्रीदेवी की मौत को लेकर आईपीएस अधिकारी और केरल के डीजीपी जेल ऋषिराज सिंह ने हैरान करने वाले दावे किए हैं। 
ऋषिराज सिंह ने केरल के एक न्यूजपेपर में एक कॉलम लिखा है। इसमें उन्होंने लिखा- "श्रीदेवी की मौत बाथटब में डूबने से नहीं हुई थी, बल्कि उनका मर्डर किया गया था।" उन्होंने ये दावा फॉरेंसिक एक्सपर्ट और उनके करीबी दोस्त डॉ. उमादथन के हवाले से किया है।
मिस्टर सिंह ने अखबार में आगे लिखा- 'मेरे दोस्त और दिवंगत फॉरेंसिक डॉक्टर उमादथन ने बातचीत के दौरान श्रीदेवी की मौत का जिक्र हुआ था। उन्होंने मुझसे कहा था कि हो सकता है कि श्रीदेवी की हत्या हुई हो, आकस्मिक मौत नहीं। यह बात उन्होंने मुझे तब बताई जब मैंने जिज्ञासावश उनसे पूछा था। इतना ही नहीं उन्होंने अपने दावों को साबित करने के लिए कुछ तथ्यों को भी बताया।
उन्होंने आगे लिखा- 'उनके अनुसार, एक व्यक्ति एक फुट गहरे पानी में कभी नहीं डूबेगा, चाहे उसने कितनी भी शराब क्यों ना पी हो। वह तभी डूबेगा जब कोई उसके दोनों पैरों को पकड़कर उसके सिर को पानी में डुबोए।'
ऋषिराज के बयान पर बोनी कपूर काफी भड़क गए हैं। बोनी कपूर ने कहा, "मैं इन बेवकूफाना स्टोरीज पर प्रतिक्रिया नहीं देना चाहता हूं। इन कहानियों पर रिएक्ट करने की जरूरत नहीं है क्योंकि ऐसी कहानियां आती ही रहेंगी। ये किसी इंसान की इमैजिनेशन है और इससे ज्यादा कुछ नहीं है।"


No comments:

Post a Comment