Friday, 13 September 2019

अचानक सामने आ गया बेटा, घर पर चल रही थी तेरहवीं की तैयारी


आपने कई बार ऐसा सुना होगा कि मरा हुआ व्यक्ति सालों बाद अपने घर लौट आया और अब ऐसा ही कुछ हुआ है बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में भी, जहां एक युवक घर लौट आया जबकि घर वाले उसकी तेरहवीं की तैयारी में थे. युवक को देख इस दौरान सभी के होश भी उड़ गए. वहीं युवक के लौटने की खबर पूरे गांव में आग की तरह फैल गई थी .
दरअसल, बात यह है कि मुजफ्फरपुर जिले के बुधनगरा गांव का रहने वाला संजीव कुमार 25 अगस्त के दिन से ही घर से लापता था. इसके बाद फिर कुछ दिन बाद गंडक नदी के किनारे पर एक अधेड़ व्यक्ति का शव मिला था, जिसे पोस्टमार्टम के लिए एसकेएमसीएच भेज दिया था और बाद में संजीव के पिता रामसेवक अस्पताल पहुंचे और दावा किया कि ये उनके बेटे की ही लाश है.
संजीव कुमार के परिवार वालों द्वारा इसके बाद पूरे रीति-रिवाज के साथ शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया था और फिर इसके बाद संजीव के घर जब तेरहवीं के दिन श्राद्ध भोज की तैयारी की जा रही थी तभी वह अचानक घर लौट आया. संजीव को सही-सलामत देख सब लोग काफी हैरान रह गए. इसके बाद यह बात पूरे गांव में तेजी से फैल गई.  सभी संजीव को देखने उनके घर पहुंचने लगे. इसे लेकर संजीव के पिता रामसेवक ठाकुर का कहना है कि 25 अगस्त को मेरा बेटा लापता हो गया था और हमने इसकी रिपोर्ट पुलिस में दर्ज कराई थी. बाद में मुझे एक अज्ञात शव के बारे में जानकारी मिली तो मैंने उस लाश को लेकर दावा किया कि ये मेरे बेटे का शव है और फिर हमने उस शव का अंतिम संस्कार कर दिया. लेकिन अब मुझे खुशी है कि मेरा बेटा वापस आ चुका है.


No comments:

Post a Comment