Wednesday, 11 September 2019

गांववालों ने सगी बहनों के थैलों में कुछ ऐसा देखा कि मच गया कोहराम


रांची के बुढ़मू में मॉल लिंचिंग का शर्मनाक मामला सामने आया है। यहां दो गरीब सगी बहनों को खेत से सब्जी चुराने के इल्जाम में गांववालों ने इंसानियत को भूलकर बुरी तरह पीटा। दोनों को पेड़ से बांध दिया और फिर प्रताड़ित किया। मामला ठाकुरगांव थाना क्षेत्र के सोगा गांव का है। पीड़िता सालो देवी और बालो देवी दोनों सगी बहनें हैं। गांववाले इतने उग्र थे कि उनकी जान ले लेते। गनीमत रही कि किसी ने इस बारे में पुलिस को सूचित कर दिया और उनकी जान बच गई। इस संबंध में ठाकुरगांव पुलिस ने कुछ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।
सालो और बालो सब्जी बेचकर अपना गुजर-बस करती हैं। दोनों अलग-अलग गांव में रहती हैं। साले कांके प्रखंड के गागी और बालो बुढ़मू प्रखंड के बुतरू गांव में रहती है। दोनों रविवार को उमेडंडा में लगनी वाली साप्ताहिक हाट में सब्जियां खरीदने गई थीं। वे ऑटो में सब्जियां लेकर गांव लौट रही थीं। इस बीच रास्ते में उनका ऑटो खराब हो गया। दोनों बहनों का मायका सोबा गांव में है। चूंकि रात हो गई थी, लिहाजा वे मायके में रुक गईं। सोमवार सुबह वे थैलों में सब्जियां भरकर घर लौट रही थीं। इसी बीच किसी ने अफवाह उड़ा दी कि दोनों बहनें खेतों से सब्जियां चोरी करके जा रही हैं। इस बीच दोनों बहनें रातू चट्टी स्थित बाजार में सब्जियां बेचने जा चुकी थीं। गांववाले उन्हें वहां पकड़कर सोबा गांव लेकर आए। गांववालों ने ठाकुरगांव से भी कुछ लोगों को बुला लिया था। यहां सबने मिलकर दोनों बहनों को मार-मारकर अधमरा कर दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों बहनों को बचाया और रांची के रिम्स में इलाज के लिए भेजा। पुलिस ने दोनों बहनों की शिकायत पर 19 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज की है। हालांकि पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ गांववालों ने मंगलवार को थाने पर प्रदर्शन किया। लोगों ने दोनों महिलाओं के खिलाफ सब्जी चोरी करने की लिखित शिकायत की है। इस बारे में थानाप्रभारी नवीन कुमार ने बताया कि किसी भी व्यापारी या किसान ने महिलाओं पर सब्जियां चोरी करने का इल्जाम नहीं लगाया है। मामले की छानबीन की जा रही है।


No comments:

Post a Comment