Friday, 13 September 2019

दुनिया में एक ऐसा सांप, जिसके आंखों से निकलते हैं 'आंसू'


विश्वभर में सांपों की हजारों प्रजातियां मौजूद है। भारत के पूर्वोत्‍तर राज्यों में भी अनेक ऐसे क्षेत्र हैं, जहां सांपों की विभिन्‍न प्रजाति पाई जाती है। जीवविज्ञानियों ने पूर्वोत्‍तर हिंदुस्तान के अरुणाचल प्रदेश में कुछ ही दिन पूर्व एक नई प्रजाति के सांप का पता लगाया है, किन्तु ये जहरीला नहीं है।
बता दें कि, अरुणाचल प्रदेश के लेपा-रादा जिले में प्राप्त हुए  इस सांप को नई 'क्राइंग' प्रजाति का कहा जा रहा है, जिसका जीववैज्ञानिक नाम हेबियस लैक्रिमा है। लैक्रिमा लैटिन भाषा का शब्‍द है, जिसका मतलब आंसू होता है। इसलिए इसे 'क्राइंग स्‍नेक' भी बोला जाता है।
इस सांप की लंबाई 48.7 सेंटीमीटर है एवं ये जहरीला नहीं है। इस नई प्रजाति के सांप का मालुम गुवाहाटी के जीववैज्ञानिक जयादित्‍य पुरकायस्‍थ ने लगाया। पुरकायस्‍थ को ये सांप धान के खेत में प्राप्त हुआ।
उन्‍होंने कहा कि इस प्रजाति का सांप आम तौर पर पानी वाले इलाकों में पाया जाता है तथा इनका खाना आम तौर पर छोटी मछलियां, मेढक व छिपकलियां होती हैं। पिछले 2 दशकों से भी ज्यादा वक्त में अरुणाचल प्रदेश में अनेक जंतुओं, उभयचर प्राणियों और कीटों का मालूम किया जा चुका है।


No comments:

Post a Comment