Friday, 11 October 2019

पाकिस्तान में हुई हिंदू मेडिकल छात्रा की मौत की गुत्थी सुलझी, रिपोर्ट में हुआ ये खुलासा


पाकिस्तान में पिछले महीने छात्रावास में हिंदू मेडिकल छात्रा की मौत दम घुटने या ऑक्सीजन की कमी के कारण हुई थी. यह खुलासा मामले से जुड़ी एक रिपोर्ट में किया गया है. जियो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, जमशोरा स्थित लियाकत यूनिवर्सिटी ऑफ मेडिकल हैल्थ साइंसेज द्वारा बनाई गई हिस्टोपैथोलॉजिकल एग्जामिनेशन रिपोर्ट को लरकाना पुलिस के सुपुर्द कर दी गई. रिपोर्ट में संकेत दिया गया है कि निम्रता कुमारी की मौत दम घुटने से हुई थी.
रिपोर्ट में दावा किया गया कि मेडिकल छात्रा की मौत अप्राकृतिक कारणों या जहर से नहीं हुई, नहीं तो उसके शरीर में बदलाव दिखने लगता.
रिपोर्ट में कहा गया कि हालांकि उसके दिल, गुर्दे, फेफड़ों या लिवर में कोई असामान्य लक्षण नहीं दिखा.
वहीं पुलिस ने कहा कि रिपोर्ट में कुमारी की मौत का कारण नहीं बताया गया है. पुलिस अभी इसी बात पर कायम है कि सबूतों से मिल रहे संकेतों के अनुसार, उसने आत्महत्या की.
उन्होंने कहा कि इसका कोई सबूत नहीं है कि उसकी हत्या हुई.
निम्रता कुमारी का शव 16 सितंबर को लरकाना स्थित शहीद मोहतरमा बेनजीर भुट्टो मेडिकल यूनिवर्सिटी के छात्रावास के कमरे में पंखे से लटका मिला था. वह यूनिवर्सिटी में बीडीएस कर रही थी और अंतिम वर्ष की छात्रा थी.
उसके परिजनों के साथ-साथ हिंदू समुदाय के नेताओं ने भी बार-बार यही कहा कि उसकी हत्या की गई है और उन्होंने उसकी मौत की जांच के लिए संयुक्त जांच टीम गठित करने की मांग की.
पुलिस ने निमृता के बाथरूम से नींद की दवाइयां मिलने का भी दावा किया था और कहा था कि वह घबराहट होने पर ये दवाइयां खाती थी.
अधिकारियों ने कहा था कि वे अभी भी यह पता करने की कोशिश कर रहे हैं कि मौत का कारण हत्या है या आत्महत्या.

No comments:

Post a Comment