Thursday, 21 June 2018

बिच्छू के जहर से नींद भगाता है ये ट्रांसजेंडर, 'अर्धनारी' बनकर कर रहा है लोगों की...


साउथ फिल्मों ने देशभर में बीते कुछ सालों से काफी धमाल मचाया हुआ है। इस बार एक साउथ इंडियन फिल्म की यूट्यूब पर धूम है।

ऐसा ही कुछ अर्धनारी के साथ भी है। फिल्म इन दिनों यूट्यूब ट्रेंडिंग में टॉप 20 में है, और इसे देखने वालों की अच्छी-खासी संख्या भी है।

अर्धनारी को अब तक एक करोड़ से ज्यादा बार देखा जा चुका है। 'अर्धनारी' की कहानी रोंगटे खड़े कर देने वाली है। ये कहानी सीरियल किलर की है। फिल्म की कहानी एक ट्रांसजेंडर की है, जो अपने परिवार का बदला लेने के लिए एक के बाद एक कत्ल करता जाता है।

अर्धनारी 2016 में रिलीज हुई तेलुगु फिल्म है। इसके राइटर-डायरेक्टर भानुशंकर चौधरी हैं। फिल्म में अर्जुन यजत ने लीड रोल निभाया था, और ट्रांसजेंडर के किरदार में उन्होंने तहलका मचा दिया था। हालांकि फिल्म को बॉक्स ऑफिस पर बहुत जबरदस्त कामयाबी नहीं मिली थी, और इसने एवरेज बिजनसे किया था लेकिन यूट्यूब पर ये फिल्म खूब धमाल मचा रही है।

फिल्म की कहानी अर्जुन की है जो अर्धनारी बनकर सामने आता है, और एक के बाद एक कत्ल करता जाता है। अर्धनारी दिन में सोती है और रात को अपने काम को अंजाम देती है और नींद न इसके लिए वे खुद को ढेर सारे बिच्छुओं से कटवाती है।

उसके कत्ल करने का तरीका सनसनीखेज है, और उसे देखकर रोंगटे खड़े हो जाते हैं। उसका कत्ल करने का अंदाज वाकई कमाल है, और जब कत्ल करने की वजह सामने आती है तो सब हैरान रह जाते हैं। 'अर्धनारी' थ्रिल से भरपूर है।

एक से ज्यादा PAN कार्ड रखने का ये बड़ा नुकसान नहीं जानते होंगे आप


मौजूदा समय में PAN कार्ड जरूरी आइडेंटी डाक्यूमेंट हो गया. पैन 18 साल से ऊपर की उम्र वाले भारतीयों को वेलिड सोर्स ऑफ इनकम के लिए जारी किया जाता है.

मौजूदा समय में PAN कार्ड जरूरी आइडेंटी डाक्यूमेंट हो गया. पैन 18 साल से ऊपर की उम्र वाले भारतीयों को वेलिड सोर्स ऑफ इनकम के लिए जारी किया जाता है. पैन कार्ड को इनकम टैक्स के एक्ट 1961 के अधीन जारी किया जाता है. सेक्शन 139A के तहत 18 साल से ऊपर की आयु वाले भारतीयों के लिए पैन कार्ड जरूरी है. पैन कार्ड के जरिए सरकार के पास प्रत्येक व्यक्ति का फाइनेंशियल डाटा रहता है. इसके अलावा कॉरपोरेट कंपनियों का टैक्स रिलेटिड कामों के लिए पैन कार्ड बनाया जाता है. 10 डिजिट के परमानंट अकाउंट नंबर अल्फा-न्यूमेरिक नंबर होते हैं.

बड़ी संख्या में टैक्स पे करने वाले ऐसे लोग और कॉरपोरेट कंपनियां हैं जिनके पास एक से ज्यादा पैन कार्ड मिल जाते हैं. कई बार एक से ज्यादा पैन कार्ड लोग जानबूझकर या अंजाने में भी बनवा लेते हैं. लेकिन एक से ज्यादा पैन कार्ड के नुकसान के बारे में शायद ही आपको पता हो. अगर आप लोन के लिए आवेदन करने की सोच रहे हैं तो एक से ज्यादा पैन कार्ड रखने पर आपकी एप्लीकेशन प्रोसेस होनी मुश्किल हो सकती है. आगे पढ़िए एक से ज्यादा पैन कार्ड रखने पर आपको क्या नुकसान हो सकता है
.
सेक्शन 272B के तहत इनकम टैक्स एक्ट 1961 में दो पैन कार्ड रखने पर आपके ऊपर पेनाल्टी (जुर्माना) लगाया जा सकता है. यह पेनाल्टी 10 हजार रुपये तक हो सकती है. लेकिन टैक्स फ्रॉड या टैक्स अपवंचन के मामले में यह ज्यादा भी हो सकती है.


दो पैन कार्ड रखने पर आपके ऊपर मुकादमा हो सकता है. यह मुकदमा टैक्स बचाने, मनी लॉन्ड्रिंग और टैक्स फ्रॉड से जुड़ा हो सकता है. इंडियन टैक्स एंड मनी लॉन्ड्रिंग कानून के तहत आपका इस तरह का अपराध आपको मुश्किल में डाल सकता है.



अगर आपके पास दो पैन कार्ड हैं तो आपकी लोन एप्लीकेशन बैंक की तरफ से कैंसल की जा सकती है. अधिकतर मामलों में बैंक और अग्रणी संस्थान एक से अधिक पैन कार्ड रखने वालों को ब्लैक लिस्ट कर देते हैं और टैक्स अथॉरिटी को रिपोर्ट कर देते हैं.



महिला का दावा कुत्ते का पेशाब पीने से चेहरे पर आता है गजब का निखार..


अमेरिका की एक महिला का दावा है कि अपने कुत्ते का यूरिन पीने से अपके चेहरे से सारे पिंपल्स खत्म हो गए हैं और अब वो और ज्यादा सुंदर हो गई है।  ये सब उस महिला ने एक वीडियो में कहा था।

महिला ने वीडियो में कहा है कि उससे हमेशा लोग पूछते रहते थे कि वो कैसे इतनी चमकती हुई रहती है। कैसे उसका चेहरा हमेशा निखरा हुआ रहता है, और हमेशा परफेक्ट मेकअप के पीछे के क्या कारण हैं। तो गिलास में कुत्ते का यूरिन पीते हुए कहा इन सबके पीछे ये कारण है। वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि महिला पहले एक खाली गिलास में कुत्ते का यूरिन भरती है फिर उसे पी लेती है।

महिला का कहना है कि इससे पहले वो बहुत ही टेंशन में रहती थी, उसके चेहरे पर भी हर जगह पिंपल्स रहते थें। लेकिन जब से उसने यूरिन पीना शुरु किया तब से उसकी जिंदगी अच्छी तरह से चल रही है। उसका चेहरा और ज्यादा खूबसूरत होता जा रहा है। उनसे कहा कि कुत्ते के यूरिन में vitamin A , vitamin E  और 10 ग्राम कैल्शिम मिला हुआ होता है जिससे कैंसर की बिमारी में भी फायदा मिलता है।

यहां सिर्फ एक बर्गर के लिए अपने जिस्म का सौदा कर लेती हैं लड़कियां और औरतें..


पैसे के लिए आपने लोगों को कुछ भी करते देखा या सुना होगा लेकिन दुनिया में एक ऐसी जगह है जहां सिर्फ एक सैंडविच के लिए लड़कियां कुछ भी कर सकती हैं।

यहां तक कि वह मर्दों के साथ हमबिस्तर होने को तैयार हो जाती हैं। यूं तो वेश्यावृत्ति का काला बाजार पूरी दुनिया में फैला पड़ा है लेकिन यहां तो हालात बद से भी बदतर हैं क्योंकि यहां कारोबार में संलिप्त लड़कियां ऐसा जीवन जीने को मजबूर हैं जो वाकई हैरान करने वाला है। आपने पैसे के लिए महिलाओं के जिस्म की डील के बारे में सुना होगा लेकिन क्या कभी सिर्फ एक सैंडविच के लिए लड़कियों के जिस्म का सौदा करने वाली बात सुनी है.

जिस्मफरोशी की दलदल में फंसी यह लड़कियां पैसे के लालच में ये सब नहीं करती, बल्कि इनकी माली हालत ने इन्हें ऐसा करने पर मजबूर कर दिया है। जी हां, एक सैंडविच के लिए ग्रीस की लड़कियां अपना जिस्म बेचती हैं। 2015 में जब ग्रीस आर्थिक संकट से जूझ रहा था तो वहां के हालात कुछ ऐसे ही बन गए थे। आज तक ग्रीस की वेश्याएं इससे उभर नहीं पाई हैं।इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि महज कुछ जरूरतों की चीजों के लिए यहां लड़कियां अपने जिस्म का सौदा कर देती है।

शादी के तुरंत बाद परीक्षा देने गई दुल्हन, पति करता रहा घंटों इंतजार...


दरअसल, राजधानी के जलालपुर के देशराज का विवाह सेमरी लोहाबाद के लक्ष्मी से तय हुआ था। मंगलवार को बारात पहुंची थी।

बारात के पहुंचने पर द्वारचार का प्रोग्राम शुरू हुआ। जिसमें ससुर हरी सिंह ने अपने दामाद को स्पेलेंडर प्रो बाइक दी। देशराज ने कहा जिंदगी बचाने के लिए हेलमेट जरूरी होता है, आप बाइक दे रहे तो मुझे एक हेलमेट और साथ में दे। दूल्हे की बात को मानते हुए दुल्हन पक्ष ने रात के समय ही दूल्हे के लिए हेलमेट मंगाया। हेलमट लाने की वजह से करीब आधे घंटे तक शादी का प्रोग्राम रुका रहा।

वहीं दूसरी शादी मंगलवार को कैलाश नारायण शर्मा की बेटी अर्चना की शादी रत्नेश शर्मा से हुई थी। शादी के अगले दिन वह विदा होने के बाद सीधे गार्डन से नेहरू डिग्री कॉलेज अपने एलएलबी छठवें सेमेस्टर की परीक्षा देने पहुंची।

नवविवाहिता ने बताया कि विवाह और शिक्षा दोनों ही जीवन में एक बार होते हैं। इसलिए दोनों का अपने जीवन में महत्वपूर्ण स्थान है। उनके पति रत्नेश खुद परीक्षा केंद्र छोड़ने और लेने पहुंचे।

एक ऐसा मंत्र जो 3 मिनट में उतार देता है जहरीले सांप का जहर..


एक बार भगवान शंकर लोक कल्याण के लिए तपस्या करने मैकाले पर्वत पहुंचे उनके पसीने की बूंदों से इस पर्वत पर एक कुंड का निर्माण हुआ इसी क्रम में एक बालिका उत्पन्न हुई जो शंकरी व नर्मदा कहलाई। शिव के आदेश के अनुसार वह एक नदी के रूप में देश के एक बड़े भूभाग में आवाज करती हुई प्रभावित होने लगी आवाज करने के कारण इसका नाम रेवा भी प्रसिद्ध हुआ। मैकाले पर्वत पर उत्पन्न होने के कारण वह मैकाले सुता भी कहलाई। एक अन्य कथा के अनुसार चंद्र वंश के राजा हिरण्य तेजा के पितरों को तर्पण करते हुए यह एहसास हुआ कि उनके पितृ अतृप्त है।

उन्होंने भगवान शिव की तपस्या की तथा उन्हें वरदान स्वरुप नर्मदा को पृथ्वी पर अवतरित करवाया भगवान श्री प्रकाश शुक्ला सप्तमी पर नर्मदा को लोग कल्याणार्थ पृथ्वी पर जल स्वरूप होकर प्रवाहित रहने का आदेश दिया नर्मदा द्वार वर मांगने पर भगवान शिव ने नर्मदा के हर पत्थर को शिवलिंग का पूजन का आशीर्वाद दिया तथा यह वह विद्या के तुम्हारे दर्शन से ही मनुष्य पूर्णता को प्राप्त करेगा इसी दिन को हम नर्मदा जयंती के रुप में मनाते हैं।

विष्णु पुराण के अनुसार नर्मदा का जल ग्रहण करने से ही साप भाग जाते हैं। नर्मदा को नमस्कार कर नर्मदा का नामोच्चारण करने से सर्प दंश का भय नहीं रहता है। नर्मदा के इस मंत्र का जप करने से विषधर सर्प का जहर उतर जाता है।

PM मोदी से शादी को लेकर जसोदाबेन ने कही चौंकाने वाली बात, खुशी से उछल पड़ेंगे


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से दूर रह रहीं उनकी पत्नी जसोदाबेन ने मध्य प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के उस बयान पर आपत्ति जाहिर की है, जिसमें उन्होंने मोदी को अविवाहित बताया था।

जसोदाबेन का कहना है, एक पढ़ी लिखी महिला का एक शिक्षिका के बारे में ऐसा कहना बिल्कुल अनुचित है। उनके इस बयान से भारत के प्रधानमंत्री की छवि को भी नुकसान पहुंचा है। वह  मेरे लिए आदरणीय हैं, वह मेरे लिए राम हैं।

एक गुजराती अखबार से बातचीत में मध्य प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन ने दावा किया था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अविवाहित हैं। जसोदाबेन ने अपने भाई के मोबाइल फोन से बनाए गए एक वीडियो में कहा है, "मैं नरेंद्र मोदी की शादी नहीं होने वाले आनंदीबेन की टिप्पणी से हैरान हूं।

उन्होंने 2014 में लोकसभा चुनाव के दौरान अपने दस्तावेज दाखिल करते हुए इसकी घोषणा की है कि वो शादीशुदा हैं। दस्तावेजों में उन्होंने ने मेरे नाम का उल्लेख भी किया है।" जसोदाबेन का ये वीडियो काफी वायरल हो रहा है। उत्तर गुजरात के अपने गृहनगर ऊंझा से एजेंसी से बात करते हुए जसोदाबेन के भाई अशोक मोदी ने इस बात की पुष्टि की है कि वीडियो में जसोदाबेन बात कर रही हैं।

उन्होंने कहा, जब आनंदीबेन का बयान सोशल मीडिया पर आया, तो हमे विश्वास नहीं हुआ। लेकिन यह 19 जून को प्रमुख अखबार में आया। अब यह गलत नहीं हो सकता। उन्होंने कहा, इसी वजह से हमने इसका उत्तर देने का फैसला किया। हमने अपने घर के मोबाइल फोन से जसोदाबेन का बयान रिकॉर्ड किया।

एयर एशिया के पायलट ने यात्रियों से की बदसलूकी, जबरन उतारने के लिए तेज कर दी AC..


भारत में प्राइवेट एयरलाइंस की मनमानी रूकने का नाम नहीं ले रही है। पिछले दिनों फ्लाइट में ओवर बुकिंग के कारण एक यात्री को बैठने नहीं दिया गया और अब पायलट द्वारा यात्रियों से अमानवीय व्यवहार करने का मामला सामने आया है।

20 जून को कोलकाता से बागडोगरा जा रही एयर एशिया की फ्लाइट के पायलट ने यात्रियों को उतारने के लिए एसी की हवा को तेज कर दिया। एसी की मशीन की पावर हाई होने के कारण पूरे प्लेन में हवा भर गई जिससे यात्री डर गए।

इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के कार्यकारी निदेशक दीपांकर राय भी इसी विमान में सवार थे। उन्होंने इस पूरे घटनाक्रम का एक वीडियो अपने ट्विटर पर शेयर किया है। उन्होंने लिखा, भारत में एविएशन इंडस्ट्री आज इस तरह चल रही है। यह एयरएशिया सर्विस तो खास तौर से डरावनी थी।

फ्लाइट जैसे ही बागडोगरा पहुंची, उस वक्त वहां पर काफी बारिश हो रही थी, ऐसे में लोगों ने फ्लाइट से निकलने से इनकार कर दिया। यात्री आगे क्रू मेंबर्स और पायलट से कुछ कहते इतने में ही पायलट ने एसी का पावर हाई कर दिया। उन्होंने बताया कि एसी की पावर हाई होने के कारण पूरे विमान में धुंध सी छा गई और लोगों को सांस लेने में दिक्कत होने लगी। इतना ही नहीं कुछ महिलाओं ने ट्रेन में ही उल्टी करना भी शुरू कर दिया।

इस मामले में एयर एशिया ने सफाई देते हुए कहा है कि तकनीकी खामी के कारण उड़ान में चार घंटे की देरी हुई। वहीं, पायलट द्वारा एसी तेज करने के आरोप को कंपनी ने सिरे से खारिज किया है। कंपनी का कहना है कि ज्यादा आद्रता में एयर कंडिशन चलाने पर हर विमान में ऐसी समस्या आती है। कंपनी का दावा है कि यात्रा के दौरान और बाद में भी यात्रियों को आराम से एयरपोर्ट पर उतारा गया।

पत्नी की याद में बनवाया मंदिर, पति रोज चढ़ाता है फूल


शाहजहां की कहानी तो लगभग हर किसी को मालूम है कि उन्होंने अपनी बेगम की याद में आगरा में ताजमहल बनवा दिया. लेकिन आज के वक्त में ये कहानी बेहद दिलचस्प है कि एक पति ने अपनी पत्नी की याद में मंदिर बनवाया. आइए जानते हैं पूरा मामला और देखते हैं मंदिर की फोटोज...

मामला तेलंगाना के सिद्दिपेत जिले का है जहां बिजली विभाग के रिटायर्ड कर्मचारी चंद्र गौड़ ने अपनी पत्नी राजमणि की याद में मंदिर बनवा दिया.

चंद्र अपनी पत्नी से गहरा प्यार करते थे. पत्नी की बीमारी की वजह से मौत हो गई. इससे वे टूट गए और उनकी यादों को जिंदा रखने के लिए मंदिर बनाने का फैसला किया.

सिद्दिपेत जिले के दुब्बका मंडल में उन्होंने राजमणि की याद में मंदिर बनवाया. यहां वे रोज पूजा करते हैं और फूल चढ़ाते हैं.

रोज मंदिर में आना चंद्र के लिए रुटीन हो गया है. वे पत्नी को याद कर भावुक हो जाते हैं.

हालांकि, आसपास के लोगों के लिए ये मंदिर आकर्षण का केंद्र बन गया है. दूर के गावों से भी लोग इस मंदिर को देखने आते हैं.

केरल के फुटबॉल फैन का पागलपन, मैच देखने साइकिल से पहुंच गया रूस...


ऐसी दीवानगी, देखी नहीं कही , सच शाहरूख खान का ये गाना इस परिस्थिति पर बिल्कुल सटीक बैठता है.केरल के 28 साल के इस युवा ने फुटबॉल के सारे फैंस को पीछे छोड़ दिया। वह फुटबॉल के काफी बड़े फैन हैं और फीफा वर्ल्ड को लाइव देखने की अपनी चाहत को पूरा करने के लिए साइकिल से रूस पहुंच गए.। वो भी साइकिल से सलाम है इस युवा के जज्बें को।

इनके जुनून की हद तो देखिए..पहले ये जनाब दुबई गए और वहां से साइकिल खरीद कर.ईरान के दक्षिण पूर्व में स्थित बंदरगाह शहर, बंदर अब्बास पहुंचे, जहां से उन्होंने रूस के लिए साइकल यात्रा शुरू की। और इस यात्रा में ये अकेले नहीं थे इनके साथ कुछ और जुनूनी लोगों ने इनका साथ दिया। क्लिफिन फ्रांसिस ने अपना सफर 23 फरवरी को शुरू किया था और 5 जून को रूस पहुंच चुके हैं।

क्लिफिन फ्रांसिस ने बताया कि मैं यूएई से ईरान शिप पर गये थे. दरअसल, मैं जॉर्जिया के रास्ते रूस जाना चाहता था, लेकिन मुझे वीजा नहीं मिला. इसलिए अजरबेजान होते हुए रूस गया'। उन्होंने बताया बचपन से लेकर अबतक मेरी फेवरिट टीम अर्जेंटीना है. फीफा वर्ल्ड कप को लाइव देखना मेरा बड़ा सपना है। वहीं इस सपने को पूरा करना मेरे लिए महंगा साबित हो रहा है। इसलिए मैने ये बीच का रास्ता निकाला। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ये जनाब पेशे से टीचर है, ये बच्चों को मैथ्स की कोचिंग भी देते हैं.कोचिंग से जोड़े हुए पैसे के जरिए ही क्लिफिन ने साइकिल खरीदी थी