Showing posts with label AJab Gajab. Show all posts
Showing posts with label AJab Gajab. Show all posts

Sunday, 16 June 2019

हर 30 साल में अंडे देती है ये चट्टान, जानिए रहस्य!


आज​ हम आपको एक ऐसी खबर के बारे में बताएंगे जिसे जानकर आप दंग रह जाएंगे। दरअसल, हम बात कर रहे है चीन की जो बहुत ही अद्भुत वस्तुओं से भरा पड़ा है। दरअसल, आज हम आपको ऐसी चट्टान के संबंध में बताएंगे जो प्रत्येक 30 साल में अंडे देती है।
यह अंडे पहले तो एक कवच में होते हैं तथा चट्टान इनको सेती है किन्तु थोड़े ही दिनों के पश्चात ये अंडे सतह पर गिर जाते हैं। इस चट्टान ने वैज्ञानिकों का भी दिमाग हिलाकर रख दिया है।
जानकारी के मुताबिक, ये चट्टान चीन के दक्षिण-पश्चिमी में 'गिझोउ' प्रांत में मौजूद है जो लगभग 20 मीटर लंबी तथा 6 मीटर ऊंची है। इसका नाम 'चन दन या' है। जब ये अंडे जमीन पर गिरते हैं तो ग्रामीण इन्हें उठाकर अपने घर ले आते हैं।
ये चट्टान 500 लाख वर्ष पूर्व बनी थी। ये एक काली और ठंडी चट्टान है, जो अनेक इलाकों में आमतौर पर प्राप्त हो जाती है।



इस कपल ने बाथरूम में रचाई शादी, वजह कर देगी हैरान


आज हम शादी को लेकर बात करे तो आपको ये बता दें कि विवाह प्रत्येक किसी की जिंदगी का खास दिन होता है। दरअसल, आजकल बाथरूम में शादी करने की खबर इंटरनेट पर काफी वायरल हो रही है।
बता दें कि, ब्रायन स्कूल्ज एवं मारिया स्कूल्ज ने बाथरूम में विवाह किया है। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि दूल्हे की माता को बाथरूम में सांस लेने में दिक्कत हुई तथा उनको बाथरूम में ही ऑक्सीजन देने का निर्णय लिया गया।
ब्रायन के मुताबिक, हम अदलात के बाहर बैठे थे तथा भीतर जाने का इंतजार कर रहे थे। तभी उनकी माता का कॉल आया और उन्होंने कहा कि उनको सांस लेने में दिक्कत हो रही है। उस समय उनकी माता बाथरूम में ही थी।
देखा कि उनका चेहरा पीला हो चुका था, पसीना आ रहा था एवं वो किसी संग बात भी नहीं कर पा रही थी। मोनमाउथ काऊंटी के अधिकारियो ने ब्रायन की माता को बाथरूम में ही ऑक्सीजन देने का निर्णय लिया।
इसके सम्बन्ध में मॉनमाउथ काउंटी पुलिस कार्यालय ने फेसबुक पर लिखा- जोड़ी माता को लेकर बहुत दुखी थी एवं विवाह को 45 दिन हेतु टालने का निर्णय ले रही थी क्योंकि उन्हें शादी का लाइसेंस लेने में 45 दिन का समय लगता।
अधिकारी महिला को बाथरूम से बाहर नहीं लाना चाहते थे। इसलिए उन्होंने बाथरूम में ही विवाह कराने का निर्णय लिया। न्यायाधीश कैटी गुमर बाथरूम में विवाह हेतु मान गई।



जब अदालत में खुद को साबित करने आईं गाय, जज को कुर्सी छोड़ आना पड़ा बाहर


अक्सर आपने इंसानों को अदालत में पेश होते हुए देखा और सुना होगा, हालांकि क्या कभी आपने गाय को भी अदालत में पेश होते हुए देखा है. राजस्थान के शहर जोधपुर में एक ऐसा ही मामला देखने को मिला है, जिसमें एक गाय अदालत में पेश हुई थे और तब जाकर जज ने फैसला भी सुनाया.
मामला कुछइस तरह से है कि शिक्षक श्याम सिंह और कांस्टेबल ओमप्रकाश के बीच गाय के मालिकाना हक को लेकर अगस्त 2018 से ही विवाद जारी था और इस मामले को लेकर मंडोर थाने में केस दर्ज हुआ था. लेकिन थाना प्रभारी ने अपने स्तर पर इस मामले को सुलझाने की पूरी कोशिश की, लेकिन वे इसमें सफल नहीं हो सके.
थाना अधिकारी ने विवाद निपटारे के लिए गाय को बीच में खड़ा किया और फिर एक तरफ शिक्षक श्याम सिंह और दूसरी तरफ कांस्टेबल ओम प्रकाश को खड़ा किया गया औरइन दोनों से गाय को आवाज देने के लिए कहा गया, हालांकि गाय ने दोनों की बातों को ही अनसुना कर दिया. आगे एक पक्ष ने दावा किया  कि गाय जब दूध देती है तो वो अपना दूध खुद पीती है और इसके बाद गाय को मंडोर गौशाला में रखा गया था. जबकि यहां पर सीसीटीवी कैमरा भी लगाए गए थे. लेकिन अंत में यह तरीका भी फेल हो गया. बाद में मामला अप्रैल 2018 में अदालत पहुंचा तो उसे जज के सामने पेश किया गया. लेकिन इस मामले की सुनवाई के लिए न्यायधीश को अपनी कुर्सी से उठकर कोर्ट रूम के बाहर आना पड़ा और उसके बाद उन्होंने गाड़ी में खड़ी गाय के आसपास दोनों फरियादियों को खड़ा किया. बाद में जज द्वारा दोनों पक्षों के बयान दर्ज किए गए.


वर्ल्डकप की दीवानगी में इस शख्स ने बना डाले सोने के बैट-बॉल


वर्ल्ड कप 2019 का शबाब चरम पर है. खिलाड़ियों से लेकर फैंस तक में इसके जुनून को महसूस किया जा सकता है. इस समय एक अलग सी ही धूम होती है. कई कई लोग इसके लिए काफी दीवाने होते हैं और जूनून में न जाने क्या क्या कर जाते हैं. इसी जूनून में अहमदाबाद के मनीष सोनी ने वर्ल्ड कप से जुड़ी चीजें जैसे वर्ल्ड कप, स्टम्प, बैट और गेंद सोने की बना डाली. उनकी बनाई चीजों को लोग देखने भी पहुंच रहे हैं. आइये आपको भी बता देते हैं इसके बारे में.
जानकारी के लिए बता दें, तकरीबन 1.5 लाख रुपये की लागत में बनी इन चीजों में 50 ग्राम सोने का इस्तेमाल किया गया है. इसमें करीब 3 इंच का वर्ल्ड कप, 2 इंच का बल्ला और करीब 1 इंच का स्टम्प बनाया गया है. मनीष द्वारा बनाई गई इन चीजों को देखने के लिए क्रिकेट प्रशंसक उनके घर पहुंच रहे हैं. मनीष इसे लोगों को दिखा भी रहे हैं. इन्हें देखकर सभी हैरान हैं.
इस बारे में मनीष का कहना है की बचपन से ही उन्हें क्रिकेट के प्रति लगाव है. वे क्रिकेटर बनना चाह रहे थे लेकिन नहीं बन पाए. अब वे क्रिकेट के प्रशंसक बन गए हैं. इसीलिए उन्होंने सोने की चीजें बनाकर क्रिकेट के प्रति अपनी दीवानगी जाहिर की है.

जाफराबाद के दरिया में फंसा 'आकेर' जहाज, देखें वीडियो


गुजरात के अमरेली में जाफराबाद के दरिया में आकेर नाम के एक जहाज के फंसने की खबर सामने आ रही है. बताया जा रहा है कि पानी का बहाव तेज़ होने की वजह से जहाज दरिया में चला गया. खबर है कि बढ़ती लहरों के चलते देर रात तक जहाज डूब सकता है. एंकर पर जहाज को बांधकर जहाज के साभी लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है. दरिया में उठ रही लहरों की वजह से जहाज को किनारे पर लाना मुश्किल लग रहा है.