Showing posts with label AJab Gajab. Show all posts
Showing posts with label AJab Gajab. Show all posts

Saturday, 6 July 2019

इसे कहते हैं नर्क का दरवाजा, 47 साल से जारी है आग का कहर


हम मनुष्य अक्सर स्वर्ग को लेकर कल्पना करते हैं कि वो कितना खूबसूरत होगा. गोल्डन गेट से एंट्री होकर परियां हमारा स्वागत करेंगी. हम लोग न जाने क्या-क्या सोचते रहते हैं ? वहीं जब हम नर्क को लेकर सोचते हैं तो क्या दिमाग में आता है अंधेरी सुरंग जिसमें आग निकल रही हो कुछ नकारात्मक सा. आइए आज कुछ ऐसी ही बात आपसे करते हैं...
सोशल मीडिया पर काफी समय से 'डॉर टू हेल' की तस्वीरें वायरल हो रही हैं और ये तस्वीरें तुर्कमेनिस्तान की बताई जा रही हैं, जिसमें एक गड्ढा जलता हुआ देखा जा सकता है. तुर्कमेनिस्तान की राजधानी अश्गाबात से 260 किलोमीटर की दूरी पर काराकुम रेगिस्तान के दरवेज गांव में मौजूद इस गड्ढे में 47 सालों से आग जारी है.
जानकारी की माने तो इस जगह को दुनिया का सबसे बड़ा प्राकृतिक गैस का भंडार कहा जाता था और साल 1971 में सोवियत संघ के वैज्ञानिकों द्वारा मिथेन गैस को जमा करने के लिए यहां ड्रिलिंग की गई थी. जबकि एक दिन यहां विस्फोट हुआ था, जिसके बाद 'नर्क के दरवाजे' के नाम से यह मशहूर गड्ढा गैस क्रेटर बना. बताया गया है कि वैज्ञानिकों ने हादसे के बाद मिथेन गैस को वायुमंडल में फैलने से रोकने के लिए यहां आग लगा दी थी और उन्हें लगा था कि ये आग एक दो हफ्ते बाद बंद हो जाएगी, हालांकि आग आज तक 47 सालों से लगातार जल रही है.


जब इस गढ़ के भीतर अचानक गायब हो गई पूरी बारात, जानिए रहस्य


आज हम आपको एक ऐसे किले के बारे में बताएंगे जिसे जानकर आप दंग रह जाएंगे। दरअसल, हम जिस किले की बात कर रहे है वो भारत में भी मौजूद गढ़कुंडार का किला है जो उत्तर प्रदेश के झांसी से करीब 70 किलोमीटर की दूरी पर मौजूद है।
बता दें कि, 11वीं सदी में तैयार ये किला पांच इमारत का है, जिसमें तीन इमारत तो ऊपर हैं, जबकि दो मंजिल जमीन के नीचे हैं। हालांकि, ये किला कब तैयार हुआ एवं किसने निर्माण करवाया, इसके सम्बन्ध में कोई जानकारी नहीं है, लेकिन कहा जाता है कि यह गढ़ 1500 से 2000 वर्ष प्राचीन है।
यहां चंदेलों, बुंदेलों एवं खंगार जैसे अनेक शासकों का शासन रहा। यह किला सुरक्षा की नजर से तैयार करवाया गया एक ऐसा बेजोड़ नमूना है, जो लोगों को शंकित कर देता है। गढ़ ऐसे तैयार किया गया है कि यह चार-पांच किलोमीटर दूर से तो नजर आता है, किन्तु पास आते-आते यह दिखना बंद हो जाता है।
सूत्रों के मुताबिक, इस गढ़ की गिनती हिंदुस्तान के सबसे रहस्यमयी किले में होती है। इर्द-गिर्द के लोग कहते हैं कि काफी वक्त पूर्व यहां पास के ही गांव में एक बारात आई थी। बारात यहां किले में भ्रमण हेतु आई।
भ्रमण करते-करते वो लोग बेसमेंट में चले गए, तत्पश्चात वो रहस्यमयी तरीके से अचानक अदृश्य हो गए। जिनका आज तक पता नहीं चल सका। तत्पश्चात भी कुछ इस तरह की घटनाएं हुई, जिसके बाद गढ़ के नीचे जाने वाले सभी दरवाजों को बंद कर दिया गया।
गढ़ के भीतर अंधेरा रहने के कारण दिन में भी ये काफी डरावना लगता है। बताया जाता हैं कि गढ़ में एक खजाने का रहस्य भी छुपा हुआ है, जिसे खोजने के चक्कर में अनेक लोगों की जान चली गई है।
इतिहास के जानकार कहते हैं कि यहां के राजाओं के पास सोने-हीरे, जवाहरातों की कोई कमी नहीं रही। यहां के खजाने को तलाशने का प्रयास अनेक लोगों ने किया, परन्तु वो सफल नहीं हो पाए।



यहां खुदाई में मिली बिट्रिश काल की 8 बंदूकें और तलवारें


जिले में जल संरक्षण के लिए प्रशासन के जरिए चलाये जा रहे 'कुआं तालाब जियाओ अभियान' के तहत देहात कोतवाली अंतर्गत ग्राम महोखर में कुएं की खुदाई के दौरान ब्रिटिश काल की 8 बंदूकें, तलवारें और गोला बरामद हुआ है। इसकी जांच के लिए पुरातत्व विभाग को पत्र लिखा गया है।

जिलाधिकारी के निर्देश पर गांव के पथरी तलैया कुएं में खुदाई का काम 1 सप्ताह पहले शुरू हुआ था। रघुवीर सिंह के मंदिर के समीप स्थित कुएं की सफाई के दौरान 4 दिन एक बंदूक पहले निकली थी।

दूसरे दिन खुदाई में 7 बंदूकें और एक तलवार मिली जिसे बाहर नहीं निकाला गया, बल्कि प्रशासन को इसकी सूचना दी गई। शुक्रवार को सवेरे सीओ सिटी राजीव प्रताप सिंह इलाकाई थाना प्रभारी रामाआसरे यादव के साथ गांव आए और खुदाई में निकली तलवारों को साथ ले गए।

सीओ सिटी राजीव प्रताप सिंह ने बताया कि कुएं से निकली बन्दूकें व तलवार बिट्रिश काल की हैं। इस संबंध में जिलाधिकारी ने पुरातत्व विभाग को पत्र भेजा है ताकि इस बात का पता लगाया जा सके कि बन्दूकें व तलवार बिट्रिश काल में कब की हैं।

Friday, 5 July 2019

करोड़ों में बिका 415 रूपए का चैस का मोहरा, जानें खासियत


लंदन में 2 जुलाई को 6 डॉलर (करीब 415 रुपए) में खरीदा गया शतरंज का मोहरा 6 करोड़ रुपए में नीलाम हुआ. अक्सर देखा जाता है कि पुरानी और कीमती चीज़ें काफी कीमत पर बेचीं जाती है और खरीदने वाले उन्हें काफी कीमत पर अपना बना लेते हैं. ऐसे ही शतरंज का एक प्यादा करोड़ों कीमत के नीलाम हुआ है. आइये जानते है इसके बारे में क्या खासियत है इसकी.
बता दें, शतरंज मोहरे को स्कॉटलैंड के एक व्यक्ति ने 1965 में खरीदा था और यह 12वीं सदी का मोहरा है. आर्ट डीलर कंपनी सोदबी के जरिए नीलाम हुए मोहरे के खरीदार का नाम उजागर नहीं हुआ. यह मोहरा 3.5 इंच लंबा है. दाढ़ी वाले व्यक्ति के इस मोहरे के दाएं हाथ में एक तलवार जैसा हथियार और बाएं हाथ में ढाल है. परिवार को नीलामी में उम्मीद के मुताबिक ही कीमत मिली. परिवार ने नीलामी में 7 करोड़ रु. मिलने की उम्मीद जताई थी.
वहीं, जानकारों की मानें तो यह उन 93 मोहरों में से एक है, जो 1831 में मिले थे. अनुमान के मुताबिक, इन सभी 93 मोहरों को 12वीं या 13वीं सदी में बनाया गया होगा. यह सभी वॉलरस के दांत से बने हैं. इन सभी 93 मोहरों में से 82 लंदन के ब्रिटिश म्यूजियम और 11 स्कॉटलैंड के नेशनल म्यूजियम में रखे हुए हैं. यह सभी मोहरे नॉर्वे से मिले थे. जानकारों की मानें तो इस तरह के पांच पीस अब भी गायब हैं. परिवार के प्रवक्ता ने बताया कि यह मोहरा पिछले 55 साल से अलमारी में रखा हुआ था. दादा के निधन के बाद दादी ने यह अपनी विरासत के रूप में परिवार को दिया है.


ये है दुनिया का सबके बड़ा डॉग, देखकर दंग रह जाएंगे आप...


दुनिया में आपने कई तरह के जानवर देखे होंगे जिनमे कुछ बड़े होते हैं तो कुछ छोटे. ऐसे ही बड़े बड़े जानवर को आपने देखा भी होगा लेकिन हम जिसे दिखाने जा रहे हैं उसे न तो देखा होगा और न ही इसके बारे में कभी सुना होगा. आपको बता दें, ये कोई और नहीं बल्कि कुत्ता है जिसे दुनिया का सबसे बड़ा और लम्बा कुत्ता घोषित कर दिया गया है. अक्सर लोगों को कुत्ता पालने का शौक होता है लेकिन इन्होने एक ऐसा कुत्ता पाला है जिसे देखकर आपका डरना लाज़मी है.
आपने कुत्ते तो बहुत देखे होंगे लेकिन ऐसा कोई नहीं देखा होगा जिसे हम दिखाने जा रहे हैं. आज हम बात कर रहे हैं इंग्लैंड के एक ऐसे कुत्ते की जो शायद दुनिया का सबसे बड़ा कुत्ता है. इसे देखकर आप भी डर जायेंगे. ये कहना गलत नहीं होगा कि उस कुत्ते की हाइट आपसे भी ज्यादा बड़ी है, आपको भी  यकीन नहीं होगा तो देख लीजिये ये तस्वीरें जहां से वायरल हो रही हैं.
इसके बाद आपको बता दें, Great Dane नस्ल का ये Freddy नाम का कुत्ता अपनी इसी खूबी से दुनियाभर में जाना जाता है. इनके मालिक भी इनका नाम गिनीज़ बुक में लिखवा चुके हैं. क्योकि कुत्तों में अब तक कोई इनसे बड़ा कुत्ता शामिल नहीं हुआ है. Freddy की हाइट लगभग 3 फ़ीट और  4.75 इंच है. ये दुनिया का सबसे स्पेशल कुत्ता है.


Thursday, 4 July 2019

इस औरत की पलकें देखकर आप भी रह जाएंगे हैरान


आज हम आपको एक ऐसी औरत के बारे में बताएंगे जिसे जानकर आप हैरान रह जाएंगे। दरअसल, चीन की यू जियानशिया के बाल 12.40 सेंटीमीटर मतलब  4.88 इंच लंबे हैं।
इसी के चलते उनका नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड्स में सम्मिलित किया गया है। बता दें कि, इससे पूर्व ये रिकॉर्ड कनाडा की गिलियन क्रिमिनिसी के नाम था, जिनकी पलकों की लंबाई 8.07 सेंटीमीटर है।
इसके सम्बन्ध में यू जियानशिया का बताना है कि उन्हें उनकी पलकें काफी खूबसूरत लगती हैं और वे उनकी अच्छी सेहत का संकेत देती हैं। महिला के मुताबिक, लंबी पलकों की वजह से उन्हें कभी कोई दिक्कत नहीं हुई, क्योंकि वे उन्हें अपनी शरीर का भाग मानती हैं।
आगे वो कहती हैं कि उन्हें लंबी पलकों की देखरेख करने में कोई खास मेहनत नहीं करनी पड़ती। वे उन्हें चेहरे संग ही धो लेती हैं। किन्तु कभी इन्हें कटवाती नहीं, यदि कटवा भी लेंगी तो ये फिर से उतनी ही हो जाती है।



इस कपल ने लगातार 58 घंटे तक किया 'KISS', बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड


आज हम आपको एक ऐसे कपल के बारे में बताएंगे जिसे जानकर आप दंग रह जाएंगे। दरअसल, थाईलैंड में जीवन बिताने वाले एक्कचई और लकसाना नामक एक कपल ने पूरे 58 घंटे तक किस कर अपने नाम पर एक अनोखा रिकॉर्ड तो तैयार किया ही है, इसके संग ही लाखों में इनाम भी जीता है।
बता दें कि इस कपल ने 10-15 मिनट नहीं बल्कि पूरे 58 घंटे 35 मिनट एवं 58 सेकंड तक एक-दूसरे को किस किया एवं अनोखा वर्ल्ड रिकॉर्ड कायम कर दिया। कपल ने वेलेंटाइन डे किस्साथन में भाग लिया था और इसे जीत लिया है।
इस किस की विश्व का सबसे लंबा किस कहा गया है। इतना ही नहीं, कपल का नाम इसलिए भी इस रिकॉर्ड में शामिल है क्योंकि दोनों ने शौचालय जाते समय भी एक-दूजे को किस करना बंद नहीं किया।
इस कारण ये अनोखा रिकॉर्ड इनके नाम पर दर्ज हुआ है। इस किस के अनोखे रिकॉर्ड के पश्चात कपल को 2 लाख नकद इनाम व 2 हीरे की अंगूठी भी दी गई है।



यहां 6 लाख बोतलों से तान दिया घर, हर कोई कह रहा वाह


अब तक आपने ईंट-पत्थरों से ही घर बनते हुए देखा होगा, हलांकि क्या कभी आपने ऐसा सुना है कि प्लास्टिक की बोतलों से घर बनाया गया हो. आपको बता दें कि जी हां, कनाडा में कुछ ऐसा ही हुआ है, जो अब आकर्षण का केंद्र बन चुका है और यहां करीब छह लाख बोतलों को रिसाइकिल कर अनोखा घर तैयार किया गया है.
ख़ास बात यह है कि मेटागन नदी के किनारे बने इस घर में तीन कमरे हैं और इसके अलावा घर में एक किचन, बाथरूम और छत भी बना हुआ है. वहीं यह घर बाहर से देखने में भले ही साधारण नजर आता हो, हालांकि अंदर से यह बेहद ही आलीशान भी लगता है, जिसमें तमाम सुविधाएं मौजूद हैं.
इस अनोखे घर को जोएल जर्मन और डेविड सउलनिर नामक कंपनी द्वारा मिलकर बनाया गया है. प्राप्त जानकारी के मुताबिक, इस घर की दीवारें खास तरह के फोम से तैयार हुई हैं, जिसे पी ई टी कहा जाता है और इसे बनाने के लिए प्लास्टिक कचरे को रिसाइकिल करके उसे छर्रेनुमा आकार में ढाल लिया जाता है. इस बोतल से बने घर की दीवारें 15 सेंटीमीटर यानी 5.9 इंच मोटी हैं, जो कठोर से कठोर मौसम का सामना करने में सक्षम हैं और इसके अलावा घर की दीवारें 326 मील प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली हवाओं का भी सामना कर लेती हैं.


यहां DNA मैचिंग से सर्च किये जा रहे हैं बॉयफ्रेंड


अपने लिए एक पेरफ़ेक्ट पार्टनर ढूंढ़ना थोड़ा मुश्किल होता है. कई बार पार्टनर के लिए आपको तरह तरह की ऐप का इस्तेमाल करना पड़ता है. ऐसा ही कुछ जापान में भी हो रहा है. बता दें, जापान में पार्टनर ढूंढ़ने के लिए एक अलग ही तरीका अपनाया जा रहा है जिसे सुनकर आप भी हैरान रह जायेंगे. आइये बता दें, क्या चल रहा है जापान में.
दरअसल, आपको जानकर हैरानी होगी कि जापान में डीएनए मैचिंग के जरिए पार्टनर तलाश किए जा रहे है. इसे स्पीड डेटिंग का नाम दिया गया है. इसके पीछे तर्क है कि जीन जितना अधिक भिन्न होगा, पार्टनर के आकर्षित होने की संभावना उतनी अधिक है. ऐसा भी माना जाता है कि एक जैसे डीएनए वाले कभी पार्टनर नहीं हो सकते. जानकारी के अनुसार, 25 साल से मैच मेकिंग सर्विस दे रही कंपनी Nozze ने डीएनए मैचिंग का प्रोग्राम जनवरी में शुरू किया था. कंपनी यूजर्स से लार के रूप में डीएनए सैंपल लेती है और डीएनए रिपोर्ट के आधार पर मैचिंग कराई जाती है.
परफेक्ट जेनेटिक मैच के लिए सैकड़ों लोगों ने Nozze के इस प्रोग्राम में साइनअप किया है. इतना ही नहीं, पिछले महीने कंपनी ने टोक्यो के गिन्जा में डीएनए मैचिंग पार्टी भी आयोजित की थी. रिपोर्ट के अनुसार, 4 कपल पार्टी के दौरान एक-दूसरे से मैच हुए. दोनों के डीएनए के आधार पर मैचिंग कम्पैटिबिलिटी 80 फीसदी से अधिक आंकी गई थी. एक 41 साल के पुरुष और 32 साल की महिला के स्कोर तो 98 फीसदी पाए गए. कंपनी डीएनए टेस्ट के लिए सैंपल लेती है और फिर साइंटिस्ट HLA जीन को लेकर रिपोर्ट तैयार करते हैं. 



यहां साड़ी के साथ नहीं है ब्लाउज पहनने की अनुमति...


भारतीय संस्कृति विश्व की सबसे प्राचीन संस्कृतियों में से एक है भारतीय संस्कृति विश्व के सब देशों से बिल्कुल अलग हैं. यहां की वेशभूषा भी सबसे अलग है जिसे हर कोई अपनाना भी चाहता है. भारत में अनेक प्रकार की रीति रिवाज, भाषाएं, धर्म और परंपराएं पाई जाती हैं. इनके बारे में आप जानते ही होंगे. यहां के रीती रिवाजों से हर कोई अवगत है. लेकिन आज ऐसा रवाज बताने जा रहे हैं जिसे सुनकर आप भी हैरानी में पड़ जायेंगे.
आज हम आपको भारत के एक ऐसे गांव के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां महिलाएं साड़ी के साथ ब्लाउज नहीं पहन सकती हैं. यहां सिर्फ साड़ी पहनी जाती है लेकिन उसके साथ ब्लाउज नहीं पहना जाता है. भारत के छत्तीसगढ़ राज्य के आदिवासी अंचोला में काम करने वाली महिलाएं साड़ी के साथ ब्लाउज नहीं पहनती हैं. बता दें, इस गांव की महिलाएं पुराने रीति-रिवाजों को मानती हैं. इस गांव की महिलाएं दूसरी महिलाओं को भी साड़ी के साथ ब्लाउज नहीं पहनने देती हैं.
इस गांव में रहने वाले लोग लगभग 1000 साल से इस परंपरा को निभाते आ रहे हैं लेकिन इस गांव की परंपरा अब केवल वृद्ध महिलाएं ही निभा रही हैं और इस गांव की जवान महिलाएं और लड़कियां साड़ी के साथ ब्लाउज पहनने लगी है. आपको बता दें कि अब यह एक परंपरा ही नहीं रह गई है बल्कि शहरों में बिना ब्लाउज के साड़ी पहनने का एक फैशन बन गया है. इसे देखकर ही हर कोई फैशन के तौर पर भी अपना रहा है.


यहां बच्चे जहरीले सांप को समझते हैं खिलौना, खेलते हैं मौत का खेल


सांप का नाम सुनते ही कई लोग भाग निकलते हैं. लेकिन कुछ ऐसे भी  होते हैं जिन्हें जानवरों से प्यार होता है. लेकिन विषैले जानवरों के साथ रहना खतरे से भरा हो सकता है.अगर कोई सांप को इलाके या उसके नुकसान पहुंचाने की कोशिश करता है तो सांप उसपर तेजी से पलटवार करते हैं और अपने जहरीले विष से जान ले लेते हैं. हम आपको ऐसा मामला बताने जा रहे हैं जहां पर बच्चे सांप के साथ खेलते हैं. एक ऐसा ही वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल रहा है.
 वायरल  होते इस वीडियो में आप देख सकते हैं कि एक गांव में कुछ लोग हैं. इन्ही के बीच एक छोटा बच्चा भी बैठा है. जिसके सामने एक जहरीला सांप है. इसे आम भाषा में नाग कह सकते हैं. इस वीडियो में आप[ देख सकते हैं कि कैसे बच्चा इस जहरीले सांप के साथ खेल रहा है. जिस उम्र में हाथ में खिलौना होना चाहिए था उसमें बच्चा सांप से खेल रहा है. अब ये बच्चे ऐसा कैसे कर लेते हैं या इनके परिवार वाले साँपों के साथ कैसे रह लेते हैं ये तो वही जाने. लें इस वीडियो को देखकर तो कोई भी हैरान रह जाये तो डर जाए.
वैसे यह वीडियो किसने-कब और कहां शूट किया था इस बात कि पुष्टि तो नहीं हो पाई है. लेकिन वीडियो देख के अंदाजा लगाया जा सकता है कि इस गांव में सांपो को पाला या सपेरे रहते होंगे. फिलहाल इस वीडियो को देखने के बाद बड़े-बड़ों की सांसे थम जाती है.

Wednesday, 3 July 2019

रोड साइड पर अंकल का यह डांस वीडियो तेजी से हो रहा वायरल, लोगों ने की जमकर तारीफ


इंटरनेट पर डांस के अनेक वीडियो वायरल होते रहते हैं जिन्हें अनेक बार पसंद भी किया जाता है। ऐसा ही एक वीडियो जो बहुत वायरल हो रहा है। दरअसल, आप सभी सुपरस्टार माइकल जैक्सन के बारे में अच्छी तरह से परिचित है।
उनके गाने और डांस स्टेप सारे  विश्व में प्रसिद्ध है। बता दें कि माइकल के गाने पर रोड साइड में एक अंकल ने ऐसा डांस किया है, जिसकी इंटरनेट पर काफी जमकर प्रशंसा हो रही है। 
इस वीडियो में आप  देख सकते हैं कि एक अंकल सड़क पर माइकल के गाने पर स्टेप से स्टेप मिलाने का प्रयास कर रहा है। केवल डांस स्टेप नहीं बल्कि माइकल माइक पकड़ने से लेकर उनके चलने के अंदाज को हूबहू फ्रेम में उतारने का प्रयास कर रहा है।
अंकल का यह डांस वीडियो काफी तेजी से वायरल हो रहा है। लोग इस डांस वीडियो की काफी प्रशंसा कर रहे हैं। लोगों के मुताबिक, ऐसे लोगों को मंच पर जगह दी जाए, तो ये सारे संसार में हिन्दुस्तान का नाम रोशन कर सकते हैं।


जब ब्रिज से अचानक 'गायब' होने लगी कारें, देखने वाले रह गए दंग!


'नजर का धोखा' आमतौर पर इंटरनेट पर वायरल हो ही जाया करते हैं। ऐसे अनेक वीडियो सामने आते हैं जिनमें ये देखा जाता है एवं सभी देखकर हैरान भी हो जाते हैं। देखने वाले यही विचार करते रह जाते हैं कि दरअसल हो क्या रहा है।
कुछ ही दिन पूर्व ऐसा ही एक वीडियो सामने आ रहा है जिसे देखकर आप भी दंग रह जाएंगे। बता दें कि, वायरल होते इस वीडियो में देखा जा सकता हैं कि एक ब्रिज पर चलती कारें एवं मोटरसाइकिलें अचानक रास्ता बदलकर नदी की ओर मुड़ती हुई दिखाई देती हैं और फिर अदृश्य हो जाती है।
जानकारी के मुताबिक, डैनियल नामक यूजर के जरिए माइक्रो-ब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर पर अपलोड किए गए इस वीडियो में ट्रैफिक अकस्मात ब्रिज पर से गायब होता नजर आ रहा है।
इस पर इंटरनेट वालों के अनेक तरह के रिएक्शन समक्ष आए है। काफी यूजरों ने मजाक में इस वीडियो में नजर आ रहे पुल को बदनाम बरमूडा ट्रायंगल जैसा करार दिया। आखिरकार, कुछ लोगों ने इस वीडियो में नजर आ रहे ब्रिज और अदृश्य होते ट्रैफिक के रहस्य को समझ ही लिया।
ट्विटर के एक यूजर ने समझाया कि वीडियो में जो ब्रिज नजर आ रहा है, वह असल में पुल है ही नहीं, साधारण सड़क है एवं वीडियो में जो नदी दिखाई दे रही है वो भी असल में एक पार्किंग लॉट की छत है, जिसमें गाड़ियां घुस रही हैं।



सूअर ने दिया एक विचित्र बच्चे को जन्म, देखकर उड़ जाएंगे होश


दुनिया में कुछ खबरें ऐसी भी होती हैं, जिन पर भरोसा करना संभव नहीं हो पाता है। किन्तु जब सामने आती है तो होश तक उड़ जाते है। ऐसा ही कुछ आज हम आपको बताएंगे जिसे जानकर आपके रौंगटे खड़े हो जाएंगे।
खबरों के मुताबिक, हिंदुस्तान में एक सूअर ने विचित्र बच्चे को पैदा किया है। इसके हाथ-पैर इंसानों की तरह है। मगर नाक और होठ का भाग सूअर की तरह है।
इस शिशु की पूंछ भी है। कुछ लोग इसे शैतानी ताकत बता रहे हैं। वहीं, अनेक लोगों हेतु यह भगवान का करिश्मा है।व्हाट्सऐप से लेकर ट्विटर तथा फेसबुक तक पर इस जीव की फोटोज वायरल हो रही हैं।
वैसे तो विज्ञान की दृष्टि में ऐसा संभव है। इन्हें हाइब्रिड प्राजाति बोला जाता है। विश्वभर में ऐसे कई मामले भी सामने आए हैं जहां तकनीक की मदद से जानवर अपनी प्रजाति से भिन्न किस्म के बच्चे को पैदा करते है।
किन्तु आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस बच्चे को लेकर जो दावें किए जा रहे हैं, वे सब फर्जी हैं। दरअसल, ये कोई जीव नहीं बल्कि वस्तु है। जो सिलिकॉन रबर से तैयार किए गए खिलौने हैं। इटली में जीवन बिताने वाली  Laira Maganuco नामक एक औरत ने इसे बनाया है।
उसने अपने इंस्टाग्राम पर इन फोटोज को शेयर भी किया है। यही नहीं, वो ऐसे अनेक खिलौने तैयार करती रहती है। वे दिखने में इतने असली लगते हैं कि पूर्व ही  नजर में कोई भी धोखा खा सकता है।




आर्मी महिला अफसर की मांग- सेना में सेक्स के लिए भर्ती करो लड़के-लड़कियां


ऑस्ट्रलेयिन आर्मी में बढ़ते सेक्सुअल हरेसमेंट को रोकने के लिए सेना की महिला कैप्टन ने सेना में सेक्स वर्कर भर्ती करने की मांग की है। सेना की कैप्टन सैली विलियमसन ने कहा है कि सेक्स इंसानों की जरूरत है और सेना के जवान महिला और पुरुष दोनों, फौजी बाद में पहले इंसान हैं। उनकी जरूरतों का सरकार को ख्याल रखना होगा। उन्होंने कहा कि सेना में अब सेक्स वर्कर की जरूरत बेहद ज्यादा है वरना यौन उत्पीडन के मामले बढ़ते रहेंगे।
मिडिल ईस्ट कोर पर तैनात सैली विलियमसन ने ये सुझाव आर्मी की आधिकारिक वेबसाइट पर भी डाला है। उन्होंने ये भी कहा कि सेक्स वर्करों की भर्ती होने तक जवानों को सेक्स टॉय भी दिए जाएं। उन्होंने मेल और फीमेल सेक्स वर्कर दोनों की भर्ती करने की मांग रखी है।
कैप्टन की मांग पर सेना के उच्च अधिकारियों की बैठक होना बाकी है। इसी बैठक में उनकी मांग पर फैसला होगा। वहीं ऑस्ट्रेलिया की सेना ने एक बेहतरीन गन का प्रोटोटाइप तैयार किया है।
यह एक इलेक्ट्रोनिक मशीनगन है जो प्रति मिनट 16 लाख गोलियां चलाने की क्षमता रखती है। यह सेकेंड के हर 60वें हिस्से में 180 गोलियां फायर कर सकती है। यह 360 डिग्री घूम सकती है और 24 हज़ार टारगेट्स को हिट कर सकती है। इस गन का फिलहाल सफल परीक्षण किया जा चुका है और 2020 तक यह ऑस्ट्रेलियन सेना और यूएस आर्मी को मिल जाएगी।


Tuesday, 2 July 2019

मेट्रो में सबके सामने ऐसा काम करने लगा यह कपल, वीडियो देख उड़ जाएगा...


आपको जानकारी के लिए बता दें कि ट्विटर पर इस वीडियो को मैरी कैर नामक एक लेखिका द्वारा शेयर किया गया है, जो कि अब तेजी के साथ वायरल हो रहा है और इस वीडियो में एक लड़का और लड़की कुछ ऐसा काम करते हुए नजर आ रहे हैं, जिसे देखकर आप भी हैरान रह ही जाएंगे. वीडियो ने फिलहाल जमकर आग उगल दी है.

आपने देखा होगा कि अक्सर लोग जब मेट्रो में बैठते हैं तो अपने मोबाइल में गेम खेलते हुए वेनजर आते हैं, हालांकि इस लड़के और लड़की को देखिए, ये दोनों मेट्रो के अंदर ही पिंग-पॉन्ग यानी टेबल टेनिस खेलते हुए नजर आ रहे हैं और इस वीडियो को लोग कितना पसंद कर रहे हैं, इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि महज दो दिन में इस वीडियो को लगभग 50 लाख से भी अधिक लोग देख चुके हैं. बताया जा रहा है कि यह वीडियो न्यूयॉर्क का है.

लापरवाह हुए डॉक्टर, बच्चे के अच्छे-भले हाथ पर चढ़ा दिया प्लास्टर


यह घटना बिहार की बताई जा रही है, जहां डॉक्टर की लापरवाही बखूबी देखने को मिली है.

दरअसल, बिहार के डीएमसीएच हॉस्पिटल में डॉक्टर की लापरवाही के चलते सात साल के बच्चे के दाहिने हाथ में प्लास्टर चढ़ा दिया गया और फ्रैक्चर उसके बाएं हाथ में हुआ था. बीते मंगलवार को जब इस मामले का खुलासा हुआ था, तो विभाग में भी काफी हड़कंप मच गया था.

प्राप्त मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, जिस बच्चे के साथ यह अप्रिय घटना घटी है, इस नन्हे बच्चे का नाम मो. शहजाद बताया जा रहा है जो हनुमान नगर का रहने वाला है. जहां बीते सोमवार को पेड़ से गिरने के चलते उसके बाएं हाथ में चोट लग गई थी और जब चोट बढ़ने लगी तो परिजन बच्चे को लेकर अस्पताल पहुंच गए. जहां उन्होंने बच्चे को हड्डी विभाग में दिखाया. लेकिन बच्चे की परेशानी कम होने के स्थान पर और अधिक बढ़ गई.

Monday, 1 July 2019

इस लड़की के कारनामे को जानकर आप रह जाएंगे हैरान


आज हम आपको एक ऐसी लड़की के बारे में बताएंगे जिसे जानकर आप चौंक जाएंगे। दरअसल, कोलोराडो में जीवन बिताने वाली 10 साल सेलाह स्केनेतर न केवल 3 हजार फीट ऊंचे पहाड़ पर चढ़ी बल्कि सबसे कम उम्र की क्लाइंबर बनी। हाल में ही लड़की ने अमेरिका के कैलिफोर्निया का योसेमिते पार्क में मौजूद ईएल कैपिटन पर्वत पर 5 दिन में चढ़ाई पूरी की।
बता दें कि इस पर्वत पर चढ़ने हेतु साल 1905 से 31 लोग मर चुके हैं, वहीं, लड़की ने बिना किसी दिक्कत के इसे पार कर लिया। इस चढ़ाई में साथ देने हेतु लड़की पिता माइक एवं दोस्त मार्क भी गए।
पर्वत पर चढ़ने के पश्चात लड़की ने बताया कि मुझे विश्वास नहीं हो रहा कि मैंने यह कर लिया हैं। इस पर्वत पर चढ़ने का अनुभव मेरे लिए बहुत अच्छा रहा, मैं तो इस पर्वत पर केवल मजे हेतु चढ़ रही थी।
माइक के मुताबिक, यह उनके लिए पर्वातरोही की सबसे अच्छी  ट्रिप रही क्योंकि उन्हें अपनी पुत्री संग वक्त व्यतीत करने का अच्छा मौका मिला, उन्होंने वक्त-वक्त पर उन्हें बहुत कुछ सिखाया।



मृतक की आत्मा को लेने अस्पताल पहुंचे परिजन, फिर हुआ ऐसा...


मरने के बाद इंसान की आत्मा अपने ही परिजनों को परेशान करती है। आत्मा को मनाने के लिए परिजनों को उसे घर में जगह देनी पड़ती है अन्यथा मृतक की आत्मा परिजनों को परेशान करती है। ऐसा ही अंधविश्वास आज भी समाज में व्याप्त है। अंधविश्वास में जकड़े लोग अपने परिजनों की आत्मा को लेने के लिए अस्पताल पहुंचते हैं।
प्रशासन की आंखों के नीचे कथित पूजा-पाठ और तांत्रिक क्रियाएं सम्पन्न कर आत्मा को ले जाने का दावा करते हैं। ऐसे ही मामले कोटा के सरकारी एमबीएस अस्पताल में देखने को मिले। अस्पताल में ग्रामीण अपने मृतक परिजन की आत्मा को लेने पहुंचे। पूजा-पाठ हुआ, महिलाओं ने गीत गाए, आत्मा को प्रसन्न किया गया जिसके बाद आत्मा को ज्योति के रूप में लेकर परिजन अपने घर की ओर चले गए।
अंधविश्वास का यह खेल करीब आधा घंटे तक चलता रहा। अस्पताल में तमाशबीन लोगों का भीड़ लग गई। ग्रामीणों ने बताया कि बूंदी के हिंडोली कस्बे के ग्राम चेता निवासी एक साल के बालक की अस्पताल में दो साल पहले इलाज के दौरान मौत हो गई थी। बालक की मौत के बाद परिवार के सदस्यों की तबीयत खराब रहने लगी।
घर में अशांति होने पर परिजनों ने देवता की शरण ली। भोपे ने मृतक की आत्मा अस्पताल में भटकने की बात बताते हुए अस्पताल से आत्मा लाने की सलाह दी। इसी के चलते करीब दो दर्जन महिला-पुरुष मृतक की आत्मा लेने एमबीएस अस्पताल पहुंचे। अस्पताल के पुराने आउटडोर के पास परिजनों ने बाकायदा पूजा-अर्चना की। इस दौरान पुलिसकर्मी व अस्पताल के सुरक्षा गार्ड भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने परिजनों को समझाया और अस्पताल के अंदर जाने से मना कर दिया।
इधर महिलाएं बाहर आत्मा की शांति के लिए गीत गाती रही। करीब आधा घंटे तक परिजन अंधविश्वास के फेर में उलझे रहे। बाद में मृतक की आत्मा लेकर चले गए। विज्ञान के युग में अंधविश्वास की बातें हमारे समाज में कई तरह के सवाल खड़े करती है। ऐसा लगता है आज भी गावों में शिक्षा और समझ की दरकार है।


ऋषि कपूर ने शेयर किया रोचक वीडियो, कुर्सी पर बैठे शख्स पर गुजर जाती है ट्रेन


बॉलिवुड अभिनेता ऋषि कपूर पिछले साल से ही न्यूयॉर्क में मौजूद हैं, जहां वह अपना इलाज करवा रहे हैं. जहां इलाज के दौरान तमाम बॉलिवुड सितारे और उनके अपने उनसे मिलने वहां पहुंचते रहे है, जिनकी तस्वीरें शेयर कर उनकी पत्नी नीतू कपूर द्वारा फैन्स को जानकारी भी दी गई है. वहीं अब हाल ही में रणबीर कपूर, आलिया भट्ट, ऐश्वर्या राय, अभिषेक कपूर जैसे तमाम सितारे भी ऋषि से मिलने के लिए पहुंचे थे, जिनकी तस्वीरें नीतू कपूर द्वारा शेयर कीं गई थी. जबकि अब ऋषि कपूर द्वारा अपने ट्विटर अकाउंट पर एक विडियो शेयर किया है. जो कि काफी मजेदार है.
आपको बता दें कि यह विडियो उन्हें मिलने पहुंचे किसी गेस्ट से सम्बंधित नहीं है, बल्कि यह कुछ ऐसा है जिसे शेयर करने से वह खुद को रोक बही पाए है और याद दिला दें कि ऋषि कपूर बीमारी से पहले उन सितारों की लिस्ट में काफी ऊपर रहते थे, जो सोशल मीडिया पर काफी सकृत रहते हैं. जहां फ़िलहाल ऐसा नजर भी आ रहा है कि ऋषि अपने पुराने फॉर्म में लौट रहे हैं और फैन्स के लिए किसी बड़ी खुशखबरी से यह कम नहीं है.
विडियो में चलती ट्रेन के आगे एक व्यक्ति कुर्सी पर बैठता दिख रहा है और तेज रफ्तार से आ रही वह ट्रेन उस शख्स के ऊपर से गुजर जाती है, जिसका अंत देखकर ऋषि कपूर खुद भी हैरान हैं और सभी फैंस भी. यह विद्ये फ़िलहाल खूब सुर्खियां बटोर रहा है.