Showing posts with label AJab Gajab. Show all posts
Showing posts with label AJab Gajab. Show all posts

Friday, 9 August 2019

यहां आज भी रहते हैं भीम की राक्षसी पत्नी हिडिंबा के वंशज, पढ़े पूरी खबर

 महाभारत काल से जुड़ी अनेक बातों के बारे में आप जानते होंगे, किन्तु आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारत में एक जगह ऐसी भी है, जहां आज भी महाभारत काल के महाबली भीम की राक्षसी पत्नी हिडिंबा के वंशज निवास करते हैं? 
बता दें कि इस राज्य का नाम नागालैंड है। वर्ष1961 में इस राज्य का नाम नगालैंड रखा गया, जबकि इससे पूर्व इसे नगा हिल्स तुएनसांग एरिया बोला जाता था। प्रारम्भ में ये राज्य एक केंद्र शासित प्रदेश था। एक दिसंबर, 1963 को इसे भारत का 16वां राज्य बनाया गया था।
सूत्रों के मुताबिक, नागालैंड हिंदुस्तान का एकमात्र ऐसा राज्य है, जहां सिर्फ एक ही रेलवे स्टेशन और एक ही हवाईअड्डा है तथा ये दोनों राज्य के सबसे बड़े नगर दीमापुर में हैं। इस राज्य के उत्तर में अरुणाचल प्रदेश, पश्चिम में असम और दक्षिण में मणिपुर राज्य हैं, जबकि पूर्व में ये म्यांमार से घिरा हुआ है।
दिमापुर की महाभारत काल की विरासत आज भी पर्यटकों को काफी आकर्षित करती है। यहां आज भी हिडिंबा का वाड़ा है, जहां राजवाड़ी में मौजूद शतरंज की ऊंची-ऊंची गोटियां हैं, जो अब कुछ टूट चुकी हैं। यहां के लोग ऐसा मानना है कि इन गोटियों से भीम एवं उनके पुत्र घटोत्कच शतरंज खेलते थे। यहां पर पांडवों ने अपने वनवास का बहुत वक्ती व्यतीत किया था।
दीमापुर को कभी 'हिडिंबापुर' के नाम से जाना जाता था। यहां  महाभारत काल में हिडिंब राक्षस एवं उसकी बहन हिडिंबा रहा करते थे। यही पर हिडिंबा ने भीम से शादी रचाई थी। यहां बहुलता में रहनेवाली डिमाशा जनजाति स्वयं को भीम की पत्नी हिडिंबा का वंशज मानती है।




Tuesday, 6 August 2019

बेहद काम की होती है सामान से निकली ये पुड़ियां, जानिए इसके बारे में...


आपने देखा होगा कि वस्त्र, पानी की बोतल या फिर दूसरे खाने की वस्तुएं खरीदते हैं तो इनके डिब्बे में अक्सर एक छोटी-सी सफेद पुड़िया दिखाई देती है। इस पैकेट पर लिखा होता है
प्रत्येक किसी हेतु फाइल एवं महत्वपूर्ण कागजात कई विशेष दस्तावेज होते हैं, ऐसे में इन्हें सीलन या नमी से बचाने हेतु आप इसमें सिलिका जेल के साथ सुरक्षित रख सकते हैं।
लोहे या फिर इलेक्ट्रॉनिक सामानों को जंग से बचाने हेतु भी आप सिलिका का प्रयोग कर सकते हैं, ऐसेमें आपको इन सामनों के साथ इसके पैकेट को रखना होगा।
अगर आपका मोबाइल पानी में गिर जाता है, ऐसे में अपने मोबाइल की बैटरी को शीघ्र निकाल लेवे तथा उसे पोछकर एक पैकेट में सिलिका संग रख देवे। इससे आपकी फोन की बैटरी की नमी चली जाएगी।



फेरों के बीच दूल्हे ने की ऐसी मांग, सुनकर लोगों के पैरों तले से खिसक गई जमीन


शादी हमारे हिंदुस्तान देश की सबसे उत्तम परंपरा है। कई सालों से हमारे बड़े बजुर्ग शादी से जुडी रस्मों को निभाते हुए चले आ रहे हैं। किन्तु, इस विवाह को कुछ लालची लोगों ने कारोबार बना रखा है एवं यहां भी वह पैसों के लालच में बेटियों को खरीदते हैं।
इस लालच को भी लोगों ने रस्म का नाम प्रदान कर रखा है जिसको हम दहेज प्रथा के नाम से जानते हैं। हालांकि दहेज लेना एवं देना दोनों ही सही नहीं है एवं कानून भी इसके सख्त विरुद्ध है। लेकिन, इन सब के बावजूद भी आज भी हिंदुस्तान में कहीं ना कहीं इस रस्म को गुपचुप ढंग से अदा किया जा रहा है।
दरअसल, आज हम आपको एक ऐसे मामले के बारे में बताएंगे जहां एक लड़की को बीच मंडप में दहेज की काफी बड़ी कीमत अदा करनी पड़ी। दरअसल, शादी की खुशियों में अकस्मात दुल्हे ने दुल्हन से ऐसी मांग कर डाली, जिसको सुनकर वहां पर उपस्थित लोगों के पैरों तले से जमीन खिसक गई।
दरअसल, फेरों के बीच दुल्हे ने दुल्हन को अकस्मात वस्त्र उतारने का आदेश दे दिया। जिसको सुनकर लड़की वालों के होश उड़ गए। आपकी जानकारी हेतु बता दें कि यह सब सिर्फ एक अफवाह की वजह से हुआ। यह पूरा मामला उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले का है।
जहां विवाह के मंडप में दुल्हे पक्ष को किसी ने कहा कि लड़की को चरम रोग है। जिसके चलते उन्होंने लड़की का सत्य जानने हेतु उसे वस्त्र उतारने को बोल डाला। इस बात को लेकर दोनों पक्षों में बहुत बहस हुई एवं जब मामला अधिक उलझ गया तो पुलिस को बुलवाना पड़ गया।



सोशल मीडिया पर खूब छा रहा ये समझदार बंदर, देखें क्या किया


सोशल मीडिया पर बंदर का एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है. इस वीडियो को देखकर यूज़र्स काफी खुश हो रहे हैं. इस वीडियो में आप देख सकते हैं बंदर किस तरह से नल खोलकर पानी पी रहा है. हालाँकि ऐसा बहुत ही कम देखने को मिलता है. इस वीडियो को देखकर यूज़र्स बंदर को भी समझदार बता रहे हैं और उसकी तारीफ कर रहे हैं. जानते हैं क्या है वीडियो में.
वायरल हुए वीडियो में देख सकते हैं कि एक बंदर नल खोलकर पानी पीते नजर आ रहा है. पानी पीने के बाद उसने नल बंद किया और चल दिया. नल बंद करने के कारण ही सोशल मीडिया पर इस बंदर की खूब तारीफ हो रही है. बंदर द्वारा पानी को बचाने की ये छोटी सी कोशिश लोगों को प्रभावित कर रही है. जानवरों से उम्मीद नहीं की जाती जिसके चलते सोशल मीडिया पर इसे काफी तारीफ मिल रही है.


अगर सपने में दिख जाए इस रंग की बिल्ली तो समझ जाइए होने वाले हैं मालामाल


सपने में बिल्ली को देखने के कई मायने हो सकते हैं और कहते हैं अगर सपने में सफेद रंग की बिल्ली दिख जाए तो आपको सावधान रहने की जरूरत है क्योंकि यह धन हानि का संकेत है. वहीं अगर आपको सपने में काले रंग बिल्ली नजर आए तो यह धन लाभ हो सकता है. इसी के साथ अगर नार्मल यानी भूरी बिल्ली दिखे तो यह स्पष्ट मतलब यह है कि आपकी किसी से लड़ाई हो सकती है.
वहीं अगर आप सपने में बिल्ली से डर के भागते है तो समझ लिजिए समाज में आपकी मान-सम्मान और प्रतिष्ठा को हानि पहुंच सकती है और बिल्ली आदि से यदि सपने में लड़ना देखें और डर लगे तो समझना चाहिए कि परिवार व समाज में आपसे द्वेष बढेगा लेकिन वहीं अगर सपने में आप उनसे लड़कर जीत जाते हैं तो इसका मतलब है कि द्वेष तो बढेगा लेकिन आपके अथक प्रयास से वह शांत हो जाएगा.


Monday, 5 August 2019

जब पायलट ने हाईवे पर ही करा दी प्लेन की लैंडिंग


कई बार ऐसे अजीब हादसे हो जाते हैं जो थोड़े भयानक तो  होते ही हैं साथ में आपको हंसी भी आ जाती है. हाला ही में एक ऐसा ही एक मामला सामने आया है जिसके बारे में आपको बताने जा रहे हैं. दरअसल, अमेरिका की राजधानी वॉशिंटन में कुछ ऐसा हुआ जिसने हर किसी को हैरान कर दिया. आप सोच भी नहीं सकते कि एक पायलट ने अपने एयरक्राफ्ट की इमरजेंसी लैंडिंग हाईवे पर कराई.

एयरक्राफ्ट को हाईवे पर उतरता देख लोग हैरान रह गए और रोड से भाग निकले. वहीं सोशल मीडिया पर इसका वीडियो काफी वायरल हो रहा है. इस पर लोग तरह तरह की कमेंट भी कर रहे हैं. बता दें, गुरुवार की सुबह 8:15 बजे एक छोटा सा प्लेन बिजी रोड पर उतरा. प्राधिकारी ने बताया कि केआर2 एयरक्राफ्ट ने हाईवे पर इसलिए इमरजेंसी लैंडिंग हुई क्योंकि उसके ईंधन प्रणाली की खराबी आई थी. इसे देखकर लोग हैरानी से इधर उधर भागने लगे.

वाशिंगटन स्टेट पैट्रोल के जॉन्ना बतिस्ते ने बताया कि इस घटना में किसी को भी चोट नहीं आई है. उन्होंने वीडियो और तस्वीरें शेयर की हैं. जिसमें देखा जा सकता है कि प्लेन हाईवे पर लैंड कर रहा है. लैंड करने के बाद एयरक्राफ्ट रेड लाइट पर खड़ा हो जाता है और पायलट हाथ से प्लेन को खींचकर साइड में खड़ा कर देता है.

जॉन्ना बतिस्ते ने घटना के बारे में जानकारी देते हुए Fox 56 को बताया- 'वह जानता था कि उसे आपातकालीन लैंडिंग करनी होगी, और वह ऐसा सुरक्षित रूप से करने में सक्षम था. यह बहुत भाग्यशाली घटनाओं की एक श्रृंखला थी. ट्रैफ़िक को रोका गया और विमान किसी भी वाहन या पैदल यात्रियों के संपर्क में नहीं आया.

Sunday, 4 August 2019

माँ-बेटे की जोड़ी को गर्लफ्रेंड-बॉयफ्रेंड समझते हैं लोग, तस्वीरों पर किए ऐसे कमेंट्स


खुद को हमेशा जवान और फिट रखना कौन नहीं चाहता है. लेकिन उम्र इसके आड़े आ जाती है. इसके साथ-साथ लोगों की खूबसूरती भी धीरे-धीरे कम हो जाती है, चाहे वो कोई महिला हो या पुरुष. हालांकि अमेरिका के लॉस एंजिलिस में रहने वाली एक महिला की उम्र तो जैसे मानो कि थम गई हो. इस महिला की उम्र का कोई भी अंदाजा नहीं लगा सकता है. ऐसे में जब महिला अपने बेटे के साथ घर से बाहर कहीं जाती है, तो लोग दोनों को गर्लफ्रेंड-ब्वॉयफ्रेंड समझने लगते हैं.

22 साल के जोनाथन नूयेन नाम के युवक के साथ ऐसा अक्सर होता ही रहता है और जब भी वह अपनी 40 वर्षीय मां के साथ घर से बाहर निकलता है, तो लोग उन दोनों को देख कर पूरी तरह से हैरान हो जाते हैं और वो या तो उन्हें गर्लफ्रेंड-ब्वॉयफ्रेंड या भाई-बहन कहने लगते हैं.

जोनाथन द्वारा इस अनोखी घटना के बारे में एक ऑस्ट्रेलियन फेसबुक ग्रुप सबल एशियन ट्रेट्स में लिखा गया है और उसके इस पोस्ट पर 7000 से ज्यादा लोग अब तक कमेंट भी कर चुके हैं. इस पर एक यूजर ने लिखा है कि, 'तुम्हारी मां बहुत सुंदर है, हालांकि मैं उसे तुम्हारी गर्लफ्रेंड समझ बैठा था. मैं सोच रहा था कि कितना खूबसूरत कपल हैं.' ख़ास बात यह है कि यूजर्स द्वारा जोनाथन से उसकी मां की खूबसूरती और जवान रहने का राज भी पूछा है, जिसके जवाब में जोनाथन ने कहा कि उसकी मां खूब फल खाती हैं और हर रोज व्यायाम भी करती हैं. साथ ही युवक ने कहा है कि कम कार्बोहाइड्रे़ट वाला खाना खाएं और उच्च वसा वाले भोजन और पहले से तैयार खाद्य पदार्थ से हमेशा बचे.

Saturday, 3 August 2019

नौकरी छोड़ 70 वर्षीय मां को स्कूटर पर लेकर तीर्थ कराने निकला बेटा


आज के इस युग में भारत सहित विश्वभर में जहां वृद्ध मां-बाप को अपने बेटों के जरिए अकेला छोड़ देने की खबरें आती रहती हैं। किन्तु हम आपको ऐसी खबर पढ़ाने जा रहे हैं जो आपके मन को सुकून देने संग ही दिल को भी छू लेने वाली है। यह खबर एक ऐसे पुत्र की है जिसने अपनी माता की तीर्थ यात्रा करने की इच्छा पूर्ण करने हेतु अपनी नौकरी तक छोड़ डाली।
बता दें कि यह कहानी है कर्नाटक के मैसूर शहर में जीवन बिताने वाले 41 वर्षीय कृष्ण कुमार की, जो अपनी 70 साल की माता को 20 साल पुराने बजाज चेतक स्कूटर पर बिठाकर भारत के धार्मिक तीर्थ स्थलों की यात्रा कराने हेतु निकल पड़े हैं। अपनी मां को यात्रा कराते हुए कृष्ण अगरतला तक पहुंच चुके हैं। तत्पश्चात वो आगे के तीर्थ स्थलों हेतु रवाना होंगे।
माता को ऐसे यात्रा कराने के अपने संकल्प को कृष्ण ने 'मातृ सेवा संकल्प यात्रा' नाम दिया है। उन्होंने इसके तहत अपनी माता की हिंदुस्तान के तीर्थ स्थलों की यात्रा करने की लालसा पूरी करने की ठानी है जिसके लिए वो निकल पड़े हैं।
कृष्ण के मुताबिक, वो बेंगलुरु में एक कॉर्पोरेट कंपनी में टीम लीडर का कार्य करते थे। उनके पिता 4 वर्ष पूर्व ही गुजर गए थे। तत्पश्चात वो अपनी माता को अपने साथ ले आए। किन्तु एक दिन माता ने बोला कि उन्होंने कर्नाटक के सिवा बाहर का कोई भी स्थान नहीं देखा है। यह बात सुनकर कृष्ण ने अपनी मां को भारत के तीर्थ स्थलों की यात्रा कराने की ठान ली।
तत्पश्चात वो माता को अपने बजाज चेतक स्कूटर पर लेकर भारत के तीर्थ स्थलों का सफर कराने हेतु निकल पड़ा। दोनों मां पुत्र अब तक देश के अनेक प्रमुख तीर्थस्थलों का सफर कर चुके हैं एवं उनकी ये यात्रा फिलहाल जारी है।


कल मध्यरात्रि को खुलेंगे साल भर में एक बार खुलने वाले पट


मध्यप्रदेश के उज्जैन में महाकालेश्वर मंदिर परिसर में बने नागचंद्रेश्वर मंदिर के नागपंचमी के अवसर पर साल भर में एक बार खुलने वाले पट कल मध्यरात्रि खुलेंगे। आगामी पांच अगस्त को मनने वाली नागपंचमी के लिए रविवार रात इस मंदिर के पट खुलेंगे।
मंदिर के पट सोमवार रात 12 बजे बंद हो जाएंगे। मंदिर के विशाल परिसर में इस मौके के लिए दर्शनार्थियों की सुविधा व सुरक्षा को देखते हुए व्यापक इंतजाम किये गए हैं।
जिला व पुलिस प्रशासन तथा श्री महाकालेश्‍वर मंदिर प्रबंध समिति ने इस बार देश के विभिन्न प्रांतों से यहां आने वाले दर्शनार्थियों के लिये व्यापक स्तर पर प्रबंध किये है।
आधिकारिक जानकारी के अनुसार मंदिर में कल व्यवस्थाओं के लिए बैठक आयोजित की गई, जिसमें अपर कलेक्‍टर एवं आंतरिक व्‍यवस्‍था प्रभारी एस एस रावत शामिल हुए। बैठक के बाद उन्होंने मंदिर परिसर का भ्रमण कर व्‍यवस्‍थाओं का जायजा लिया।



सांप ने अपने मुंह से एक-एक करके उगल दिए 11 प्याज, देखें


इंटरनेट पर आए दिन कोई ना कोई वीडियो तो वायरल होता ही रहता है एवं ऐसा ही एक वीडियो कुछ ही दिन पूर्व सामने आया है जिसमें एक सांप ने चौंकाने वाला कारनामा कर दिखाया है। इस वीडियो में आप भी देख सकते हैं सांप ने अपने मुंह से एक-एक करके 11 प्याज उगल डाले।
दरअसल सांप ने मेंढक खाने के चक्कर में एक साथ 11 प्याज भी निगल लिए। ऐसा बोला जा रहा है कि ये घटना उड़ीसा के अंगुल जिले के चेंदीपाढ़ा ग्राम की है। वीडियो में साफतौर से ये देखा जा सकता है कि सांप एक-एक करके ना जाने कितने ही प्याज उगलता हुआ जा रहा है।
जिसने भी ये वीडियो देखा वो बहुत दंग रह गया। खबरों के मुताबिक, ये सांप सुशांत बेहेरा नामक शख्स के घर का है। जब सुशांत ने अपने घर में एक सांप को लगातार अपने मुख में से प्याज उगलते हुए देखा तो वो काफी दंग रह गया एवं उसने शीघ्र ही सांप का वीडियो तैयार कर लिया।
जब तक उसने वीडियो बनाना शुरू किया तब तक सांप लगभग 9 प्याज निकाल चुका था व वीडियो में अंत में दो ही प्याज निकलते हुए देखा जा सकता है।



यहां पुलिस में भर्ती होने के लिए औरतों को देना पड़ता है ये गंदा टेस्ट, जानकर होंगे हैरान


इंडोनेशिया में यदि कोई औरत पुलिस में भर्ती होना चाहती है तो वह उसके लिए एकदम भी सरल नहीं है। यहां पर महिलाओं को पुलिस में भर्ती होने से पूर्व उच्च शिक्षा पूरी करना, कुंवारी होना एवं 17.5 से 22 साल की आयु होना जरुरी है।
इन सब शर्तों के पश्चात उन्हें वर्जिनिटी टेस्ट देना पड़ता है। टू फिंगर नाम का यह टेस्ट दुष्कर्म के पश्चात लड़कियों का किया जाता है। चौंकाने वाली बात तो ये है कि यहां पर भर्ती होने से पूर्व औरतों को सेलेक्शन कमेटी के समक्ष अपनी सुंदरता का प्रदर्शन भी करना पड़ता है।
यहां की औरतों को जो कमेटी चुनती है उसमें सिर्फ मर्द ही होते हैं और यह मर्द सिर्फ सुंदर महिलाओं को ही पुलिस में भर्ती करते हैं। जानकारी के मुताबिक, हिंदुस्तान में ऐसी कोई भी जांच नहीं होती है जबकि इंडोनेशिया में औरतों को पुलिस में भर्ती होने हेतु इस जांच से गुजरना पड़ता है।
दरअसल यहां का नियम है कि जो औरत पुलिस में भर्ती होना चाहती है उसे भर्ती तक बिना शादी के रहना पड़ता है। एमनेस्टी इंटरनेशनल के जरिए इसको कौमार्य परीक्षण को 1 अपमानजनक एवं मानव अधिकारों का उल्लंघन करने वाला टेस्ट कहा गया है। इस वजह से ये अनेक देशों में बैन है।



बंदर ने नल से पानी पीने के बाद किया कुछ ऐसा, लोग बोले- ये तो इंसानों से ज्यादा समझदार है


पानी के महत्व को इंसान भले ही ना समझें, लेकिन बंदर बखूबी समझते हैं। सोशल मीडिया पर वायरल हुआ एक टिकटॉक का वीडियो इस बात का जीता-जागता उदाहरण है। दरअसल, एक बंदर नल से पानी पीता है और फिर समझदारी दिखाते हुए नल को बंद भी कर देता है, ताकि पानी की बर्बादी ना हो।
इस वीडियो को देश के पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त डॉक्टर एस. वाई. कुरैशी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है और लिखा है, इंसानों के लिए यह कितना खूबसूरत संदेश है!' महज 11 सेकेंड के इस वीडियो को अब तक एक लाख 61 हजार बार देखा जा चुका है, जबकि 17 हजार से ज्यादा लोगों ने इसे लाइक और करीब 5500 लोगों ने रिट्वीट किया है।
सोशल मीडिया पर लोग इस बंदर की समझदारी देखकर हैरान हैं और तरह-तरह के कमेंट्स कर रहे हैं। सुधाकर रेड्डी नाम के एक शख्स ने लिखा है, 'मुझे बड़ा आश्चर्य हो रहा है कि आखिर एक बंदर को कैसे अहसास हुआ कि पानी बचाना चाहिए और उसने नल बंद कर दिया।' वहीं चंद्र बाबू नाम के एक अन्य शख्स ने लिखा है कि बंदर इंसानों से ज्यादा समझदार और जिम्मेदार होते हैं।'


जिराफ की सवारी शराबी को पड़ी महंगी, देखिए कैसे उठा-उठाकर पटका


सोशल मीडिया पर अक्सर ऐसे-ऐसे वीडियो वायरल होते रहते हैं, जो काफी मजेदार होते हैं। एक ऐसा ही मजेदार वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक शख्स जिराफ की सवारी करने की कोशिश कर रहा है, लेकिन जिराफ ने उसे ऐसा उठा-उठाकर पटका कि उसका हालत ही खराब हो गई।
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शख्स उस वक्त शराब के नशे में था। वीडियो में आप देख सकते हैं कि शराबी किस तरह जिराफ की सवारी करने के लिए बाड़े के ऊपर चढ़ गया और किनारे पर खड़े जिराफ की पीठ पर चढ़ गया। कुछ समय तो वो आराम से जिराफ की पीठ पर बैठा रहा और उसे सहलाता रहा, लेकिन उसके बाद जिराफ ने उसे झटक कर नीचे गिरा दिया। 
हालांकि शख्स भी कुछ कम नहीं था। वो फिर से बाड़े के ऊपर चढ़कर जिराफ की पीठ पर बैठ गया, लेकिन फिर से जिराफ ने भी वैसा ही किया, जैसा पहले किया था। यानी जिराफ ने उसे फिर से नीचे पटक दिया। हालांकि उसके बाद शख्स बाहर आ गया। वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस शख्स को ढूंढने में जुट गई है।
मेट्रो.को.यूके की खबर के मुताबिक, यह घटना कजाखस्तान के शिमकेंट चिड़ियाघर की है। इस वीडियो को तुर्किस्तान टुडे ने 27 जुलाई को अपने इंस्टाग्राम पर शेयर किया था, जो देखते ही देखते वायरल हो गया। दो मिनट 50 सेकेंड के इस वीडियो को अब तक 95 हजार से ज्यादा बार देखा जा चुका है।


इस गांव में पैदा होती है बस लडकियां, मेयर बोले- बेटा पैदा करोगे तो...


क्या आपने कभी किसी ऐसे गांव के बारे में सुना है, जहां सिर्फ बेटियां ही पैदा होती हों? जी हां, पोलैंड और चेक रिपब्लिक की सीमा पर एक ऐसा अनोखा गांव है, जहां सिर्फ लड़कियां ही जन्म लेती हैं और इस गांव में पिछले नौ सालों से किसी भी लड़के ने जन्म नहीं लिया है.
इस गांव का नाम है मिजेस्के ओद्रजेनस्की. जहां पर आखिरी बार साल 2010 में एक लड़के का जन्म हुआ था, हालांकि उसके बाद लड़का और उसके परिवार वाले गांव छोड़कर दूसरी जगह चले गएथे. यहां की आबादी फिलहाल 300 के करीब की है, जिसमें लड़कियों और महिलाओं की संख्या सबसे ज्यादा है और लड़के न के बराबर यहां पर है.
गांव में फिलहाल जो सबसे छोटा लड़का है, वह 12 साल है. मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो, यहां लड़कियां तो अक्सर पैदा होती हैं, हालांकि लड़कों का जन्म काफी दुर्लभ है और यही वजह है कि यहां के मेयर रेजमंड फ्रिशको द्वारा यह एलान किया गया है कि जिसके घर बेटा पैदा होगा, उसे इनाम मिलेगा. इस गांव के लोगों की माने तो गांव वालों के मुताबिक, वो इसकी वजह नहीं जानते है कि आखिर क्यों यहां सिर्फ लड़कियां ही पैदा होती हैं. लेकिन पोलैंड की राजधानी वारसॉ के एक विश्वविद्यालय द्वारा इस रहस्य को जानने के लिए रिसर्च शुरू की गई है.



Friday, 2 August 2019

जादुई ढंग से एयरपोर्ट पर एंट्री लेता दिखा हवाई जहाज, देखें ये दमदार वायरल वीडियो


दुबई में अमीरात एयरलाइन की फ्लाइट A380 की एयरपोर्ट पर रहस्यमई एंट्री ने सबका ध्यान अपनी और खींच लिया। विदेशी मीडिया में इस वीडियो की चर्चा ज़ोरों से हो रही है। इस वीडियो के वायरल होने के बाद अमीरात की इस फ्लाइट को अब लोग 'आसमान की रानी' के नाम से बुला रहे हैं। 11 सेकंड का ये जादुई वीडियो वाकई में हैरान कर देने वाला है।
वीडियो में शुरुआत के एक सेकंड में आसमान खाली लगता है फिर अगले ही सेकंड अचानक से बादलों के बीच से निकलते प्लेन को देखना अविश्वसनीय नज़ारा है। बता दें कि फ्लाइट A380 साल 2008 से 50 मंज़िलों और 73 एयरपोर्ट से होकर 10 करोड़ 50 लाख यात्रियों को उनके गंतव्य स्थान पर पहुंचा रही है। गौरतलब है कि एयरपोर्ट से कुछ ही ऊंचाई पर मंडरा रहे इन बादलों को स्ट्रैटस बादल कहा जाता है। ये बदल 0 से 1,200 फीट तक की ऊंचाई पर कहीं भी मंडरा सकते हैं। स्ट्रैटस एक लैटिन शब्द है जिसका मतलब होता है चपटा या फैला हुआ।


यूपी के इस इलाके में तीन सिर वाली बच्ची ने लिया जन्म, लोग मान रहे हैं देवी का अवतार


पौराणिक सीरियल में तो आपने बहुत से देवी-देवताओं के तीन मुख देखे होंगे। मगर क्या आपने इसे हकीकत में देखा है। दरअसल उत्तर प्रदेश के एटा में एक बच्ची तीन सिर के साथ जन्मी है। इसे देख जहां माता-पिता हैरान हैं। वहीं इलाके के लोग बच्ची को देवी का स्वरूप मान रहे हैं।
मामला एटा के पिलुआ कस्बे का है। जहां सुंती नामक महिला ने ऐसी बच्ची को जन्म दिया है। बताया जाता है कि महिला को प्रसव पीड़ा होने पर उसका पति उमेश उसे नजदीकी अस्पताल लेकर पहुंचा। वहां महिला की सामान्य डिलीवरी हुई। मगर उन्होंने तीन सिर वाली बच्ची को जन्म देकर सबको हैरत में डाल दिया।
घटना की खबर इलाके में फैलते ही बच्ची को दूर-दूर से लोग देखने आने लगे। कई लोगों का मानना है कि सावन में बच्ची पैदा हुई है। ऐसे में ये देवी का अवतार है। हालांकि डॉक्टरों के मुताबिक बच्ची की ऐसी संरचना मां के गर्भ में रहते हुए चौथे महीने में ही बन गई थी। अगर महिला उस वक्त अल्ट्रासाउंड करातीं तो इस परेशानी से बचा जा सकता है। बच्चे के सिर के जुड़े होने का कारण अब सीटी स्कैन के जरिए ही लग सकेगा। इसलिए नवजात को अलीगढ़ रेफर किया गया है।


वड़ोदरा में मगरमच्छों का कब्ज़ा, ऑफिस, शॉपिंग जाने से महरूम लोग रूम में कैद हैं


भारी बारिश से इन दिनों पूरा देश परेशान है. गुजरात में भी ज्यादातार जगहों पर लगातार बरसते पानी से भारी दिक्कत हो रही है. इसी बाढ़ में एक वीडियो वायरल हो रहा है. कुछ सेकेण्ड के इस वीडियो में दिखाई दे रहा है एक मगरमच्छ. एक गली दिखाई दे रही है. गली पूरी तरह पानी से भरी हुई है. दो कुत्ते भी गली में दिखाई दे रहे हैं. दोनों का ध्यान अचानक पानी से निकल आए मगरमच्छ पर बिल्कुल भी नहीं है.

अचानक उनके पीछे से पाने के बाहर एक मगरमच्छ झांकता है. धीरे-धीरे उन कुत्तों की तरफ़ बढ़ता है. और एक वक़्त ऐसा भी आता है जब मगरमच्छ उन कुत्तों के ठीक बगल में जाकर ठहर जाता है. कुत्ते अब भी अनजान दिख रहे हैं. फिर मगरमच्छ एक कुत्ते के पांव पकड़ने के लिए झपट्टा मारता है लेकिन कुत्ते की किस्मत अच्छी थी. बच निकलता है. बताया जा रहा है कि ये वीडियो वड़ोदरा का है.

पिछले 12 घंटों से लगातार पानी बरसने की वजह से पूरा वड़ोदरा डूबा हुआ है. NDRF और सेना लगातार लोगों को बाहर निकालने के काम में लगे हुए हैं. 18 घंटों में रिकॉर्ड पानी बरसा है. और इस डूबे हुए शहर पर अब मगरमच्छों का ख़तरा अलग से मंडरा रहा है. अलग-अलग जगहों से मगरमच्छ देखे जाने की ख़बरें आ रही हैं.

अब पानी से बचाने के लिए सेना और NDRF की टीमें तो लगी हुई हैं, लेकिन इन अचानक बहकर आ गए मगरमच्छों से कौन बचाएगा? लोग इस वजह से भी पानी में जाने से डर रहे हैं.

नींद में जबरदस्त कलाकारी पेश करता है यह शख्स, लेकिन जागने के बाद...'


दुनिया में एक ऐसा इंसान भी है, जो कि नींद में तस्वीरें बनाता है. इसका नाम है ली हैडविन. यह शख्स ब्रिटेन के वेल्श सूबे के कार्डिफ़ शहर में रहता हैं. ली हैडविन जब केवल चार बरस के थे, तो उन्होंने दीवार पर चित्र बनाने शुरू किए दिए थे और अब आप कहेंगे कि भला कौन सा बच्चा इस उम्र मे दीवारें नहीं रंगता है. बाक़ी बच्चों और ली में फ़र्क़ यह था कि वो सोते वक़्त ड्रॉइंग बनाते थे. जैसे-जैसे वे बड़े होते गए, सोते हुए चित्र बनाने का उनका हुनर और भी सुधरता चला गया.
जानकारी की माने तो 15 साल की उम्र में हैडविन ने हॉलीवुड अभिनेत्री मर्लिन मुनरो के तीन पोर्ट्रेट बनाए थे. हालांकि आज उन्हें इस बारे में कुछ भी याद नहीं है. साथ ही मज़े की बात ये है कि सोते वक़्त बारीक चित्र बनाने वाले ली हैडविन जागते हुए कोई चित्रकारी नहीं कर पाते हैं. ली की इस हैरान कर देने वाली कला के बारे में कार्डिफ़ यूनिवर्सिटी की पेनी लुइस द्वारा रिसर्च की गई है और इस पर उनका कहना है कि सोते वक़्त चित्र बनाना, उनके आधे सोए और आधे जागे मस्तिष्क की वजह से होता है. पेनी लुइस की माने तो लोग नींद में करवट बदलते हैं. बड़बड़ाते हैं या फिर चलने लगते हैं. ये सब हमारे दिमाग़ में मची उथल-पुथल का नतीजा होता है. ये बहुत सामान्य सी घटना है. हालांकि, ली हैडविन का मामला इससे भी आगे चला गया है. वो पेंसिल, ब्रश और यहां तक कि हड्डियों से भी चित्र गढ़ने लगते हैं. ये सामान्य बात होती, अगर वो जागते हुए ऐसा करते तो.
पेनी बताती है कि ली के दिमाग़ की बनावट और काम करने का तरीक़ा, दोनों ही बेहद पेचीदा हैं और वो इस मसले को समझने की कोशिश में हैं. वे कहती हैं कि जब हम सो रहे होते हैं, तो ये मान कर चलते हैं कि हमारा ज़हन भी सो रहा है. हालांकि, हमारे दिमाग़ का एक हिस्सा उस वक़्त भी बेहद सक्रिय रहता है.



रोलरकॉस्टर राइड पर बैठी लड़की पर पक्षी ने किया हमला और फिर..


ऑस्ट्रेलिया के क्वींसलैंड के मूवी वर्ल्ड में एक महिला के साथ हादसा हो गया जिसके बारे में सुनकर आप भी हैरान रह जायेंगे. हालाँकि ये मामला अजीब था पर उसे हानि नहीं हुई. असल में एम्यूजमेंट पार्क में एक 10 वर्षीय लड़की रोलरकोस्टर राइड पर बैठी. ऊपर जाते ही वो डर के मारे चीखने लगी. इसी के बाद उसके साथ कुछ ऐसा हुआ कि वो भी हैरान रह गई और कुछ समय के लिए डर गई. इस बात की जानकारी उसने फेसबुक पर भी दी थी. जानते हैं क्या रहा मामला.
दरअसल, रोलरकोस्टर राइड पर बैठी लड़की जब चीख रही थी तो अचानक एक पक्षी आ गया. इसी के बीच वो पक्षी सिर पर मार कर चला गया. क्वींसलैंड में रहने वाली पेज ऑर्मिस्टन के साथ ये हादसा हुआ. इस वीडियो को उनकी मां निकोल ऑर्मिस्टन ने शनिवार को सोशल मीडिया पर शेयर किया है. इस वीडियो के साथ उन्होंने लिखा कि 'रोलरकोस्टर राइड के दौरान एक पक्षी ने पेज को मार दिया. पक्षी ने उसको बहुत जोर से मारा. उसके कंधे पर पक्षी के चोच के निशान हैं. वो काफी डरी हुई है. लेकिन ज्यादा चोट नहीं आई है.' यहां देखे वीडियो.
उन्होंने कहा- 'मैं काफी डरी हुई थी, क्योंकि मुझे पता नहीं था कि क्या करना चाहिए, मैं सीट पर लॉक थी. मैंने देखा कि वो सफेद रंग की थी. उसने आते ही अटैक कर दिया.' इसी के बाद उस लड़की की चीख और भी जोर से निकली. इस वीडियो को काफी देखा जा रहा है और काफी पसंद भी किया जा रहा है. इस वायरल वीडियो के 4 लाख से ज्यादा व्यूज हो चुके हैं. बात करते हुए पेज ने कहा कि ये हादसा काफी डरावना था.


बेजुबान जानवर ने बना डाला अनोखा रिकॉर्ड, हैरत में पड़ गए वैज्ञानिक


कुछ दिनों पहले एक लोमड़ी द्वारा कुछ ऐसा रिकॉर्ड बनाया गया है जिसे अबतक सिर्फ इंसान ही करते आए हैं और इसे प्रकृति का करिश्मा कहें या जानवर की अविश्वसनीय क्षमता का नतीजा कहा जाए. हालांकि ऐसे कारनामे का रिकॉर्ड अब तक सिर्फ मनुष्यों के नाम ही था, लेकिन अब इतिहास में पहली बार जानवर भी इस श्रेणी में शामिल हुआ है.
जानकारी के मुताबिक़, एक लोमड़ी द्वारा चार महीने में एक अविश्वसनीय दूरी को पूरा कर वैज्ञानिकों को चौंका दिया गया है और इस जानवर को तटीय या नीले लोमड़ी के रूप में भी जाना जाता है, इसने नॉर्वे के स्वालबार्ड द्वीपसमूह के सबसे बड़े द्वीप, स्पिट्सबर्गेन से 2,700 मील की दूरी तय की है, जो कि कनाडा के नुनावुत में एलेस्मेरे द्वीप पर मौजूद है. बता दें कि यह किसी प्रजाति द्वारा तय की गई सबसे लंबी यात्राओं में से एक मानी जा रही है.
शोधकर्ताओं की माने तो नॉर्वेजियन पोलर इंस्टीट्यूट के शोधकर्ताओं द्वारा पहली बार 2017 में एक ट्रैकिंग कॉलर के साथ लोमड़ी को 'आर्कटिक लोमड़ियों के स्थानिक पारिस्थितिकी' के बारे में चल रहे अध्ययन के हिस्से के रूप में प्रकृति में छोड़ दिया गया था. जहां महीनों तक लोमड़ी पश्चिमी स्पिट्सबर्गेन के समुद्र तट के किनारे ही रही. वहीं पहली बार बर्फ से ढके समुद्र को खोजने के बाद, लोमड़ी द्वारा स्पिट्सबरगेन को छोड़ दिया गया और21 दिन में लगभग 939 मील की यात्रा करने के बाद, वह 16 अप्रैल, 2018 को ग्रीनलैंड पहुंची थी. बता दें कि इस कारनाम से वैज्ञानिक भी हैरत में पड़ गए हैं.