Showing posts with label Fitness. Show all posts
Showing posts with label Fitness. Show all posts

Thursday, 15 August 2019

सेब खाने के बाद कभी न खाएं ये चीज, वरना फायदे की जगह तगड़ा नुकसान पक्का



अक्‍सर देखा जाता रहा है कि जब भी किसी को स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी समस्‍याये होती है तो उन्‍हें फलों का सेवक करने को कहा जाता है। अधिकांश लोगा तो सेब का प्रयोग करते है क्‍योंकि सेब स्‍वास्‍थ्‍य के लिये काफी लाभप्रद रहता है। माना जाता है कि रोज सुबह एक सेब खाने से आने वाली बीमारियों से शरीर को लड़ने की ताकत मिलती है। डॉक्‍टर भी सेब खाने की सलाह देते है, पर सेब खाने के पश्‍चात कुछ ऐसी चीजे है जिन्‍हें भूलकर भी नही खाना चाहियें।


आपकी जानकारी के लिये बता दें कि सेब हमारे शरीर को स्‍वास्‍थ रखने में सहायक बनते है क्‍योंकि सेब में  कई पोषक तत्व विटामिन और खनिज मौजूद होते हैं जो छोटी मोटी बीमारियों से हमारा बचाव करते हैं इसके साथ ही यह बहुत सी बीमारियों को भी नष्ट करने की क्षमता रखता है। जानकारी के लिये बताते चले कि सेब खाना लाभकारी अवश्‍य होता है पर से ब खाने के पश्‍चात कुछ ऐसी चीजे उन्‍हे नही खाना चाहियें वरना सेहत पर काफी बुरा प्रभाव पड़ सकता है, जिन चीजों की आज हम बात कर रहे है वो कुछ इस प्रकार से है…..


रात के समय सेब खाने से बचें : अगर आप सुबह के समय सेब का सेवन करते हैं तो इससे आपके शरीर को काफी लाभ मिलता है, परंतु अगर आप रात के समय सेब का सेवन करेंगे तो इससे शरीर को नुकसान पहुंचता है, विशेषकर उन व्यक्तियों को जो अस्थमा से पीड़ित है उनको अधिक नुकसान पहुंचता है।


मूली का सेवन : अगर आप सेब खाने के तुरंत पश्चात मूली का सेवन करते हैं, तो इससे आपके शरीर पर सफ़ेद दाग पड़ सकते हैं, सेब खाने के पश्चात मूली का सेवन करने से त्वचा संबंधित परेशानियों का सामना करना पड़ता है इसलिए आप सेब खाने के बाद मूली का सेवन मत कीजिए।


दही का सेवन : आप भूल कर भी सेब खाने के पश्चात दही का सेवन मत कीजिए क्योंकि दही की तासीर ठंडी होती है जो आपके शरीर में कफ को बढ़ाने में सहायक होती है ऐसी स्थिति में अगर आप सेब खाने के तुरंत पश्चात दही का सेवन करेंगे तो आपके शरीर में कफ बढ़ेगा इसलिए आप इन बातों का ध्यान रखें।


पानी : अगर आप सेब का सेवन करते हैं तो उसके तुरंत पश्चात भूलकर भी पानी का सेवन मत कीजिए सेब खाने से कम से कम 1 घंटे पश्चात ही आपको पानी पीना चाहिए यदि आप सेब खाने के तुरंत पश्चात पानी का सेवन करते हैं तो इससे आपके शरीर में कफ बनता है।


खट्टी चीजों का सेवन : सेब का सेवन करने के पश्चात भूलकर भी खट्टी चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए यदि आप ऐसा करते हैं, तो इससे आपके स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ेगा अगर आप सेब खाने के तुरंत पश्चात खट्टी चीजों का सेवन करेंगे तो इससे आपके पेट में गैस बनने की समस्या शुरू हो जाएगी जिससे आपको काफी परेशानी का सामना करना पड़ेगा।

Wednesday, 14 August 2019

पांच मिनट में हो जाएं फिट


फिटनेस को लेकर महिलाएं सबसे ज्यादा लापरवाह रहती हैं। हालांकि अगर महिलाएं घर से लेकर बाहर के कार्यों की सभी जिम्मेदारियां निभा रही हैं, तो उनके लिए फिटनेस की अहमियत और भी बढ़ जाती है। बस, जरूरत है अपने लिए दिन में मात्र 5 मिनट का समय निकालने की।

1. मॉर्निंग वॉक करें : हर दिन सुबह 15 से 20 मिनट की सैर से पूरे शरीर के जोड़ों को सुचारु रूप से कार्य करने की क्षमता मिलती है। इससे ह्रदय रोग सहित अन्य बीमारियों से भी बचा जा सकता है।

2. पेल्विक ब्रिजिंग : फर्श पर सीधे लेटकर, घुटने मोड़कर, हाथों को बाहर की तरफ निकालें। इसके बाद कमर को सीधे रखते हुए, ब्रिज के आकार में उठाएं। ऐसी स्थिति में 3 से 5 सेकेंड तक रहें। इसके बाद सामान्य स्थिति में आ जाएं। यह प्रक्रिया तीन से पांच बार करें।

3. सिट टू स्क्वैट : सीधे खड़े होकर, हाथों को शरीर से बाहर, आगे की ओर निकालकर, कुर्सी पर बैठने की मुद्रा में आएं। इस स्थिति में तीन से पांच सेकेंड तक रुकें। इसके बाद सामान्य अवस्था में आ जाएं। यह क्रिया तीन से पांच बार करें। इससे मांसपेशियां मजबूत होती हैं।

4. आसान एक्सरसाइज करें : कुर्सी पर पीठ लगा कर सीधे बैठें। घुटने से पैर को सीधा करें और इस स्थिति में तीन से पांच सेकेंड रहें। इसके बाद पैर सीधा कर लें। यह क्रिया बारी-बारी दोनों पैरों से 4-5 बार करनी होगी।

5. लेग रेज : सीधे लेटकर घुटने को सीधा रखते हुए, पूरी टांग को 30 डिग्री तक सीधा उठाएं। इस स्थिति में 3 से 5 सेकेंड रखें और टांग वापस नीचे ले जाएं। यह प्रक्रिया तीन से पांच बार करें।

6. हील रेज : पंजों के बल सीधे खड़े हो जाएं। ऐसी स्थिति में तीन से पांच सेकेंड तक रुकें। 3 से 5 बार यही प्रक्रिया दोहराएं।


Tuesday, 13 August 2019

लीची जैसा दिखने वाले इस फल के फायदे जानकर आप भी रह जाये दंग


लीची की तरह नजर आने वाले रामबुतान फल के बारे में काफी कम लोग जानते हैं। दक्षिण-पूर्व एशिया में बहुतायत पाया जाने वाला रामबुतान स्वादिष्ट और गुणकारी फल है। अकेले ऑस्ट्रेलिया में इसकी 50 से ज्यादा प्रजातियों की पहचान की गई है, जिनमें से 15 की व्यापारिक रूप से खेती की जाती है। ये फल दिखने में लीची की तरह ही होता है। इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन सी, कॉपर, प्रोटीन, आयरन पाया जाता है। 100 ग्राम रामबुतान फल में सिर्फ 84 कैलोरी पाई जाती हैं। इसके अलावा इस फल में एंटीऑक्सीडेंट गुण भी मौजूद हैं, जो शरीर से फ्री रेडिकल्स को बाहर निकालने में मदद करते हैं। इस फल के सेवन से कई गंभीर बीमारियों से बचा जा सकता है।
पाचन स्वास्थ्य में सुधार।  रामबुतान में मौजूद एंटी बैक्टीरियल गुण आंतों में मौजूद विषैले जीवाणुओं को मारने का काम कर सकते हैं। रामबुतान दस्त से भी आपको निजात दिला सकता है। इसमें मौजूद फाइबर पाचन तंत्र को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है। यह पाचन तंत्र को ठीक बनाए रखने के साथ-साथ कब्ज को रोकने का काम भी कर सकता है।
त्वचा के लिए फायदेमंद- रामबुतान फल का बीज त्वचा को हेल्दी बनाने के काम करता है। इसके बीजों से बने पेस्ट को चेहरे पर लगाने से स्किन के दाग-धब्बे दूर होने के साथ त्वचा में निखार भी आता है। ये फल त्वचा को हाइड्रेट करने का काम भी करता है। रोजाना चेहरे पर इसके बीज का पेस्ट लगाने से त्वचा कोमल और मुलायम बनती है। साथ ही लंबे समय तक त्वचा पर झुर्रियां भी नहीं पड़ती हैं।
हड्डियों को मजबूत बनाता है- फास्फोरस से भरपूर रामबुतान फल हड्डियों के लिए बहुत लाभदायक होता है। फास्फोरस पाया हड्डियों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसके सेवन से लंबे समय तक हड्डियां मजबूत रहती हैं।
डायबिटीज में फायदेमंद- एक चाइनीज अध्ययन के अनुसार रामबुतान के छिलके एंटी-डायबिटिक गुणों से समृद्ध होते हैं।  जो डायबिटीज की बीमारी में फायदेमंद साबित होते हैं।
कामोत्तेजक के रूप में:  माना जाता है कि रामबुतान प्रजनन क्षमता को भी बढ़ा सकते हैं, कुछ स्रोत के अनुसार रामबुतान की पत्तियां कामोत्तेजक के रूप में काम कर सकती हैं। माना जाता है कि पत्तियों को पानी में डुबोकर सेवन करने से कामोत्तेजना बढ़ाने वाले हार्मोंस सक्रिय हो जाते हैं। लेकिन इसे साबित करने के लिए कोई शोध उपलब्ध नहीं है। इस उद्देश्य के लिए रामबुतान का उपयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श जरूर करें।




Tuesday, 30 July 2019

जानें छोटी से इलाइची किस तरह देती है आपको सेहत के लाभ



इलाइची आपकी कई परेशानियों को दूर कर सकती हैं. ये सेहत में कई तरह के लाभ देती है.  अकसर लोग सोचते हैं कि छोटी इलायची यानी हरी इलायची ठंडी होती है. लेकिन आपको बता दें, हरी इलायची भी बड़ी इलायची की तरह ही गर्म तासीर की होती है. इसमें मिठास होने के कारण इसे चाय और मीठे व्‍यंजनों में भी इस्‍तेमाल किया जाता है. आज हम इसी के बारे में बताने जा रहे हैं कि इसके क्या लाभ हो सकते हैं. 

पोटेशियम, कैल्शियम, मैग्नेशियम जैसे खनिज पदार्थों से भरपूर इलायची दिल की धड़कन को सही रखने में सहायता करती है.

आयुर्वेद में इलायची की तासीर गर्म मानी गई है, जो कि बॉडी को गर्मी देने का काम करती है, इसलिए इसके सेवन से आपके शरीर पर ठंड का प्रभाव कम होता है.

इलायची के सेवन से सांस लेने की समस्या जैसे अस्थमा, तेज जुकाम और खांसी से राहत मिलती है. साथ ही यह फेफड़ों की परेशानी दूर करने में भी बहुत ही सहायता करती है.

मानव शरीर में कई सारी बीमारियां उच्च रक्तचाप के कारण जन्म लेती है, यदि आप नियमित रूप से दो से तीन इलायची का सेवन करें तो रक्तचाप नियंत्रित करने में सहायता मिलेगी.

इलायची का उपयोग न केवल व्‍यंजनों में स्‍वाद को बढ़ाने के लिए किया जाता है, बल्कि इससे पाचन तंत्र भी दुरुस्‍त रहता है. इसमें एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं, जो मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने का काम करता है.

यदि आप तनाव की समस्या से घिरे रहते हैं, तो इलायची का सेवन आपके लिए लाभकारी हो सकता है. ऐसा देखा गया है कि इलायची चबाने से हार्मोन में तुरंत बदलाव देखने को मिलता है और आप तनाव से मुक्त हो जाते हैं.


Friday, 19 July 2019

बाजार में आए जामुनी आम, मधुमेह के रोगी भी कर सकते है सेवन!


आज हम आम को लेकर बात करे तो आपको ये बता दें कि ये एक ऐसा फल है जिसे आप हर मौसम में बड़े ही चाव से सेवन करते है। आपको ये जानकर हैरानी होगी कि अब के रोगी भी आम का सेवन कर सकते है। जिससे आपका बल्ड शुगर भी बिल्कुल नहीं बढ़ेगा। आपको बता दें कि आज की एक ऐसी किस्म तैयार की गई है। जिसमें आम एवं जामुन का कॉम्बिनेशन है। इंटरनेट पर  जामुनी रंग का आम काफी अधिक वायरल हो रहा है। जो कि ब्लड शुगर के मरीजों हेतु बहुत लाभदायक है। अब ये आम हिंदुस्तान में भी उत्पन्न हो रहा है।
जानिए साधारण आम जैसे जामुनी आम खाने के भी बेहतरीन फायदे...
जामुनी आम में भरपूर मात्रा में पोटैशियम एवं अनेक तरह के एंटी ऑक्सीडेंट मौजूद होते है। जो कि आपके दिमाग को हेल्दी रखने में सहायता प्रदान करता है।
जामुनी आम में पोटेशियम एवं सोडियम काफी ही कम मात्रा में पाया जाता है। जो कि आपके ब्लड प्रेशर को भी कंट्रोल रखता है।
इस आम में काफी मात्रा में विटमिन ई पाया जाता है। जो कि आपके कोलेस्ट्रॉल को ठीक रखने में सहायता करता है।
इसमें काफी मात्रा में विटामिन सी के साथ-साथ ऐसे एंटी ऑक्सीड़ेंट मौजूद होते है। जो कि आपको बॉडी को इंफेक्शन से कई दूर रखता है।
इस आम को खाने से आपका ब्लड शुगर भी कंट्रोल रहेगा।