Showing posts with label News. Show all posts
Showing posts with label News. Show all posts

Monday, 19 August 2019

AIRTEL का ये पैकेज देगा JIO POSTPAID PLUS को कड़ी टक्कर, जानिए पूरा ऑफर


भारत की अग्रणी कंपनी Reliance की Jio Fiber ब्रॉडबैंड सेवा, Jio पोस्टपेड प्लस समेत कई बड़ी सेवाओं के बारे में 12 अगस्त को आयोजित Reliance की 42वीं AGM मीटिंग में घोषणा की गई. जिसके बाद Jio की मुख्य प्रतिद्वंदी कंपनी Airtel के नए प्लान्स का इंतजार सबको है. Airtel ने अभी तक किसी भी प्लान की घोषणा तो नहीं की है, लेकिन मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो Airtel अपने Airtel Thanks के तहत नए ब्लैक पैकेज पर काम कर रहा है. इस ब्लैक पैकेज में यूजर्स को कई तरह की प्रीमियम सर्विस दी जा सकती है. आगे जाने पूरी योजना
मीडिया रिपोर्ट के अनुसार Jio से मिल रही लगातार चुनौती के बीच Airtel अपने ARPU को बरकरार रखने के लिए प्रीमियम यूजर्स के लिए इस पैकेज को लॉन्च कर सकता है. Airtel अपने Rs 999 या इससे ऊपर के प्लान लेने वाले यूजर्स के लिए इस ब्लैक पैकेज को पेश कर सकता है. इस पैकेज में यूजर्स को प्रीमियम ऐप्स के एक्सेस, OTT मीडिया सर्विसेज के एक्सेस, इंटरनेशनल रोमिंग समेत कई तरह की सुविधाएं ऑफर किया जा सकता है.
आपको बता दें कि Airtel Thanks प्रोग्राम को पिछले साल अक्टूबर में लॉन्च किया गया था. इस प्रोग्राम के तहत यूजर्स को फ्री डाटा, अनलिमिटेड कॉलिंग, एसएमएस समेत Amazon Prime, Netflix जैसे प्लेटफॉर्म्स का सब्सक्रिप्शन दिया जा रहा है. यही नहीं, यूजर्स को Airtel TV Premium भी ऑफर किया जा रहा है जिसमें ZEE 5, ALT Balaji, HoiChoi जैसे वीडियो स्ट्रीमिंग सर्विस भी फ्री में उपलब्ध कराई जा रही है. Airtel अपने पोस्टपेड यूजर्स को Rs 399 के प्लान में Amazon Prime का ईयरली सब्सक्रिप्शन, Airtel TV Premium की सुविधा उपलब्ध करा रहा है. यही नहीं, Rs 499 से शुरू हो रहे प्लान में Netflix समेत कई और सुविधाएं दी जा रही है. Rs 499 या इससे ऊपर के पोस्टपेड प्लान में OTT सर्विसेज के अलावा मोबाइल प्रोटेक्शन जैसी सुविधाएं भी दी जा रही हैं.

महंगे शौक पालती है शाहिद की पत्नी मीरा, पहनी इतनी महंगी शर्ट


बॉलिवुड एक्टर शाहिद कपूर की पत्नी मीरा राजपूत इन दिनों अपने इमेज मेकओवर में लगी हुई हैं. आये दिन वो अपनी कीमती चीज़ों को लेकर सुर्ख़ियों में छाई हुई है. बॉलीवुड स्टार की पत्नी होने के नाते इतना तो बनता है. अभी हाल ही में मीरा अपने नए लुक को लेकर चर्चा में आई है. उनका शर्ट वाला ये लुक काफी कीमती है जो काफी फंकी दिखाई दे रहा है. बता दें, अपने ड्रेसिंग सेंस के जरिए मीरा, न्यू एज फैशन लवर्स को फैशन और स्टाइल गोल्स देती भी नजर आ जाती हैं.
मीरा राजपूत अक्सर ब्रैंडेड कपड़े, महंगे और लग्जूरियस हैंडबैग्स और कई ब्रैंडेड अक्सेसरीज फ्लॉन्ट करती नजर आती हैं. दरअसल, पिछले दिनों मुंबई में एक रेस्तरां के बाहर पति शाहिद कपूर संग नजर आई थी जिसमें उनके लुक को लेकर सभी आकर्षित  हो गए थे. आप देख सकते हैं, मीरा राजपूत ने ब्लैक कलर की सुपर कूल लेदर पैंट्स पहन रखी थी जिसे उन्होंने ब्लैक और वाइट स्ट्राइप वाली शर्ट के साथ टीमअप कर पहना था. साथ में ब्लैक कलर की मैचिंग पॉइंटेड टो हील्स.
आपको जानकर हैरानी होगी कि इसकी कीमत कितनी है. बता दें, मीरा ने मशहूर और लग्जूरियस फैशन ब्रैंड Balenciaga की शर्ट पहनी थी. यह स्कार्फ कॉलर वाली ब्लैक ऐंड वाइट स्ट्राइप वाली स्विंग शर्ट पहनी थी जिसमें गले के ठीक नीचे पीठ पर बैलेनसियागा का लोगो था. इस शर्ट की कीमत 1250 डॉलर यानी करीब 89 हजार रुपये है. इतनी कीमत में निश्चित तौर पर आप एक बेहतरीन बाइक खरीद सकते हैं. अब आप सोच ही सकते हैं कि मीरा के शौक कितने महंगे.

नाव दुर्घटनाओं को रोकने के लिए योगी सरकार का बड़ा फैसला, बनाई ये योजना


उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने राज्य में नाव दुर्घटनाओं को रोकने के लिए बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने निर्णय लिया है कि प्रदेश में सभी नावों को हल्के पीले रंग से रंग दिया जाएगा और उन्हें एक रजिस्ट्रेशन संख्या दी जाएगी। सूबे में बढ़ती नाव दुर्घटनाओं के मद्देनज़र सरकार ने नाविकों को कई दिशा-निर्देश भी दिए हैं। जिससे दुर्घटनाओं से आसानी से बचा जा सकेगा।
यूपी के बचाव और राहत आयुक्त जी।एस। प्रियदर्शी ने एक अधिसूचना जारी की है, जिसके अनुसार प्रदेश की हर नाव को पीले रंग से रंग दिया जाएगा और नाव की एक अधिकतम सीमा रेखा बना दी जाएगी, जिसके पार वह नाव नहीं जा सकेगी। वहीं नावों और नाविकों को पंचायत और जिला स्तर पर रजिस्टर्ड किया जाएगा। इस हेतु पंचायत को भी कुछ अधिकार दिए जाएंगे। पंचायत के पास नावों का औचक निरीक्षण करने और क्षमता से ज्यादा भार ले जाने से उन्हें रोकने का अधिकार होगा।
अधिसूचना के मुताबिक, सभी नाविकों को नाव चलाने में उनके कौशल के आधार पर रजिस्टर्ड किया जाएगा। जिसमें प्रशिक्षित और अर्ध-प्रशिक्षित दो श्रेणी होगी। वहीं पंचायत और जिला प्रशासन सभी पंजीकृत नावों को एसएमएस के माध्यम से खराब मौसम के बारे में सूचना भेजेगा। खराब मौसम की जानकारी सार्वजनिक सूचना तंत्रों और संबंधित संस्थाओं के जरिए भी दी जाएगी ।

उत्तराखंडः बादलों ने मचाई ऐसी तबाही कि आंखों के सामने आ गया केदारनाथ आपदा का मंजर


उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले के दुचाणू, टिकोची, माकुली और स्नेल गांव में बादल फटने से टौंस नदी उफान पर आ गई। उसके बाद जो हुआ उसने 2013 में आई केदारनाथ आपदा की याद दिला दी। उत्तरकाशी के मोरी ब्लाक के आराकोट क्षेत्र में शनिवार देर रात बादल फटने से कई लोगों की मौत हो गई और दर्जनों मकान पानी के सैलाब में समा गए। रविवार देर शाम तक आराकोट और माकुड़ी से आठ लोगों के शव बरामद हो चुके थे। सोमवार को मृतकों की संख्या बढ़कर 11 हो गई है। जिला प्रशासन ने अभी तक 11 शव बरामद होने की पुष्टि की है।
जबकि क्षेत्र में अलग-अलग जगह 15 से 17 लोगों के बहने और मलबे में दबने की सूचना है। दर्जनों संपर्क मार्ग व पुल बहने से सैकड़ों ग्रामीण अपने गांव-घरों में ही कैद हो गए हैं। पेयजल और बिजली लाइनें क्षतिग्रस्त होने से मुश्किलें और बढ़ गई हैं। वहीं मौके पर भेजी गईं आपदा प्रबंधन टीमें संपर्क मार्ग कटे होने के कारण रविवार देर शाम मौके पर पहुंच पाईं। जिसके बाद राहत-बचाव कार्य शुरू कर दिया गया था।

सस्ता हो सकता है हवाई सफर, विमानन ईंधन पर टैक्स घटाने की तैयारी में सरकार


सरकार ने विमानन ईंधन यानी एयर टरबाइन फ्यूल में बदलाव की तैयारी शुरू कर दी है। इसके तहत विमानन मंत्रालय ने भारत के सभी हवाईअड्डों पर एटीएफ खरीदने पर चुकाए जाने वाले अतिरिक्त करों को औचित्यपूर्ण बनाए जाने के लिए एक समिति का गठन किया है। कुछ वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों ने यह जानकारी दी है। ऐसे में एटीएफ पर कर कम होता है तो हवाई सफर भी कुछ सस्ता हो सकता है।
वर्तमान में विमानन कंपनियां को अपने विमानों के लिए किसी भी हवाईअड्डे पर एटीएफ खरीदने पर थ्रोपुट शुल्क, इनटू प्लेन शुल्क और फ्यूल इन्फ्रास्ट्रक्चर शुल्क जैसे कई शुल्क का भुगतान करना पड़ता है।
एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘इन चार्जेस पर कई बार कर लगता है।’ एक अन्य सरकारी अधिकारी ने कहा कि विमानन कंपनियों और हवाईअड्डा परिचालकों के बीच एक प्रत्यक्ष बिलिंग व्यवस्था विकसित करने के लिए विमानन मंत्रालय ने विमानन कंपनियों, हवाईअड्डा परिचालकों, तेल कंपनियों सहित अन्य के प्रतिनिधित्व वाली एक समिति का गठन किया है। यह समिति जल्द ही अपनी रिपोर्ट जमा कर सकती है।
सरकारी अनुमानों के मुताबिक, यदि प्रत्यक्ष बिलिंग व्यवस्था को लागू किया जाता है तो विमानन कंपनियों को सालाना 400 करोड़ रुपये की बचत होगी। भारत में विमानन कंपनियों के कुल खर्च में एटीएफ की हिस्सेदारी लगभग 40 फीसदी है। इसलिए एटीएफ पर किसी भी तरह के कर से विमानन कंपनियों पर खासा असर पड़ता है।
इस मामले के बारे में विस्तार से बताते हुए पहले अधिकारी ने कहा, ‘थ्रोपुट चार्ज के लिए बिलिंग का ही उदाहरण लें, जो हवाईअड्डा परिचालक द्वारा तेल कंपनी से वसूला जाता है। इसके बदले में तेल कंपनी इस चार्ज को विमानन कंपनी से वसूलती है।
हालांकि जटिल बिलिंग प्रक्रिया के चलते थ्रोपुट चार्जेस पर जीएसटी, उत्पाद शुल्क और वैट जैसे कर जुड़ जाते हैं।’ उन्होंने कहा कि दिल्ली हवाईअड्डे पर यदि हवाईअड्डा परिचालक सिर्फ 100 रुपये थ्रोपुट शुल्क वसूलता है तो विमानन कंपनी को 164 रुपये का भुगतान करना पड़ता है।

दिल्ली में बाढ़ का खतरा, केजरीवाल बोले- 24 घंटे स्थिति पर सरकार की नजर


दिल्ली में यमुना नदी पर पानी खतरे के निशान को पार कर गया है। पानी 205 मीटर के स्तर पर पहुंच गया है जबकि खतरे का निशान 204.50 मीटर है। इसे देखते हुए लोहा पुल पर गाड़ियों की आवाजाही बंद करवा दी गई है।
दिल्ली में बढ़ रहे बाढ़ के खतरों के मद्देनजर सोमवार को सरकार की उच्चस्तरीय बैठक के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कांफ्रेंस में राजधानी के लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि बाढ़ से प्रभावित लोगों के लिए दिल्ली सरकार की ओर से 2120 टेंट के इंतजाम किए गए हैं।
इस दौरान मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि रविवार शाम हरियाणा ने 8.28 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा है, जो आने वाले 36 से 72 घंटे तक दिल्ली पहुंचेगा। ऐसी परिस्थिति में सरकार की ओर से जान-माल के नुकसान से बचने के हर संभव उपाय किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सभी एजेंसियों को अलर्ट पर रखा गया है, सभी तैयारियां कर ली गई हैं, इसलिए घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है।
आपात स्थिति में मदद के लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया गया है।  कुल 23860 लोगों को बाढ़ क्षेत्रों से हटाए जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि यमुना किनारे रहने वाले लोग आज यानी सोमवार शाम 6 से 7 बजे तक टेंट्स में आ जायें। आने वाले दो दिन मुश्किल भरे हो सकते हैं। ऐसे में मुख्यमंत्री ने लोगों को बिना घबराए किनारे के इलाकों से निकल कर खाली टेंट में आने की सलाह दी।
इन टेंट में सभी के लिए भोजन, पानी और शौचालय की पूरी व्यवस्था कर दी गई है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री केजरीवाल ने दिल्ली में रहने वालों को नदि किनारे के इलाकों से हट कर दूसरी जगह जाने को कहा।  उन्होंने कहा कि बाढ़ के हालात में 23 हजार लोगों के प्रभावित होने की संभावना है। सरकार ने विपरीत परिस्थितियों से निपटने के पुख्ता इंतजाम किए हैं।
बता दें कि खतरे का निशान 204.50 मीटर है। बाढ़ की आशंका को देखते हुए दिल्ली में सभी संबंधित एजेंसियां अलर्ट पर हैं। यमुना के बाढ़ क्षेत्र को खाली करने का आदेश जारी हो गया है। अधिकारियों का दावा है कि दिल्ली सरकार हर तरह के हालात से निपटने को तैयार है।

SBI दे सकता है पुराने ग्राहकों को तोहफा, जल्द कम होगी होम लोन की ईएमआई


भारतीय स्टेट बैंक अपने पुराने ग्राहकों को जल्द ही बड़ा तोहफा दे सकता है। बैंक अपने होम लोन ग्राहकों की ईएमआई को कम कर सकता है। इसके लिए बैंक एमसीएलआर वाले ग्राहकों को भी रेपो रेट लिंक्ड रेट से इनको लिंक कर सकता है। इस तरह का संकेत खुद आरबीआई के चेयरमैन रजनीश कुमार ने दिए है।
इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक रजनीश कुमार ने कहा है कि बैंक इस बारे में जल्द फैसला लेगा। एसबीआई में फिलहाल दो तरह के लैंडिंग रेट हैं। इनमें एक एमसीएलआर है, जो 2014 से चल रहा है। वहीं दूसरा बैंक ने हाल ही में शुरू किया है और इसको आरबीआई के रेपो रेट से लिंक किया है। हालांकि रेपो रेट लिंक्ड रेट की सुविधा फिलहाल पुराने ग्राहकों को नहीं मिलती है।
एसबीआई का रेपो रेट लिंक्ड लेंडिंग रेट फिलहाल 7.65 फीसदी है। इस पर 40 से 55 बीपीएस का स्प्रेड है, जिससे यह 8.05 फीसदी से लेकर के 8.20 फीसदी के बीच जाकर के पड़ता है। फिलहाल यह सुविधा केवल उन ग्राहकों को मिलती है, जिनका मासिक वेतन 50 हजार रुपये से ज्यादा का है।
जबकि एमसीएलआर पर आधारित लोन की मिनिमम ब्याज दर 8.35 फीसदी है। पुराने ग्राहकों को आरएलएलआर में शिफ्ट होने की सुविधा मिलने पर पुराने ग्राहकों की ब्याज दर भी 8.05 फीसदी हो जाएगी। इससे उनकी मासिक किस्त में उनके लोन के मुताबिक कमी आएगी। हालांकि एसबीआई की तरफ से यह साफ नहीं किया गया है कि सालाना 6 लाख से कम कमाने वाले को आरएलएलआर आधारित लोन का फायदा मिलेगा या नहीं।

गुजरात में घुसे अफगानी पासपोर्ट धारक आतंकी, पूरे राज्य में हाई अलर्ट जारी, बॉर्डर सील


गुजरात में चार अफगानी पासपोर्ट धारकों के भारत में छिपे होने के ख़ुफ़िया इनपुट मिले हैं. इनपुट मिलते ही गुजरात के प्रमुख शहर और गुजरात की बॉर्डर पर फ़ौरन सूचित कर दिया गया है. एटीएस को झांकी नामक पाकिस्तानी आतंकी पर संदेह है कि वे भारत में घुसे अफगानी ग्रुप की मदद कर रहा है.
गुजरात के अरवल्ली में राजस्थान-गुजरात की बॉर्डर पर अलर्ट जारी किया गया है. अगस्त माह की शुरुआत में कुछ आतंकियों द्वारा देश में घुसपैठ किए होने के ख़ुफ़िया इनपुट मिलने के बाद से अलर्ट जारी कर दिया गया है. पहली दफा शामलाजी पुलिस को बुलेट प्रूफ जैकेट दिए गए हैं. 30 जवानों की SRP की एक टीम भी तैनात की गई है. सभी जवान हथियारों से लेस हैं. शामलाजी में जन्माष्टमी महोत्सव की तैयारी को देखते हुए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए है.
गुजरात के डीजीपी शिवानंद झा आईजी और पुलिस अधीक्षक से लगातार संपर्क में है. बनासकांठा जिले के अमीरगढ़ चेकपोस्ट पर कड़ा पुलिस पहरा लगाया गया है. चेकपोस्ट पर पुलिस सहित एसआरपी की तैनाती की गई है. अमीरगढ़ चेकपोस्ट पर राजस्थान से आ रही सभी गाड़ियों की तलाशी ली जा रही है. आतंकी हमले के मद्देनज़र राजस्थान से गुजरात आ रही सभी गाड़ियों की गहन तलाशी ली जा रही है.

ये महिला अफसर थी बालाकोट एयरस्ट्राइक में शामिल, आज बताई पूरी कहानी


भारतीय वायु सेना द्वारा बालाकोट में एयरस्ट्राइक के बारे में तो हर भारतीय जानता है, पर ये हर कोई नहीं जानता की इस मिशन में एक भारतीय महिला अफसर भी शामिल थी। ये महिला अफसर भारतीय वायु सेना के बालाकोट हवाई अड्डे पर पाकिस्तान की जवाबी कार्रवाई के दौरान उड़ान नियंत्रक के रूप में काम कर रही थी। ये महिला थी स्क्वाड्रन लीडर, मिंटी अग्रवाल। आपको बता दें कि युद्ध के दौरान विशिष्ट सेवा के लिए मिंटी को युद्ध सेवा मेडल दिया गया है।वायु सेना की अफसर मिंटी ने ने आज मीडिया के साथ अपना एयरस्ट्राइक का अनुभव साझा किया।
उन्होंने कहा कि 26 फरवरी को हमने गैर-सैन्य शिविरों में बालाकोट मिशन को सफलतापूर्वक अंजाम दिया। हमें पाकिस्तान के द्वारा जवाबी कार्रवाई की उम्मीद थी, हम इसके लिए तैयार थे और उन्होंने सिर्फ 24 घंटे में जवाबी कार्रवाई की।
मिंटी अग्रवाल ने आगे बताया कि हमारे पास कुछ अतिरिक्त विमान थे जो पाक विमानों को जवाब देने के लिए तैनात थे और हमने बाद में पाक विमानों का मुकाबला करने के लिए इन अतिरिक्त विमानों का इस्तमाल किया। पाकिस्तान के विमान हमारे विमानों का विनाश के इरादे से आए थे लेकिन हमारे पायलटों, नियंत्रकों और टीम की क्षमता के कारण उनके मिशन को विफल कर दिया गया।
उन्होंने बताया कि उन्होंने विंग कमांडर अभिनंदन की भी मदद की थी। उन्होंने कहा कि मैं अभिनंदन को हवाई स्थिति की जानकारी उपलब्ध करा रही था। इसके साथ-साथ शत्रु विमान के बारे में जानकारी भी मेरे द्वारा अभिनंदन को दी जा रही थी।

सुनील शेट्टी ने न्यूयॉर्क में फहराया तिरंगा, सैंकड़ों लोगों ने लगाए भारत माता की जय के नारे


भारतीय समुदाय ने रविवार को न्यूयार्क के मेडिसन स्कॉयर पर इंडिया डे परेड कार्यक्रम का आयोजन किया। इसमें बड़ी संख्या में भारतीय समुदाय ने हिस्सा लिया। इस कार्यक्रम का आयोजन फेडरेशन ऑफ इंडिया द्वारा किया गया था।
इस कार्यक्रम में बॉलीवुड स्टार्स सुनील शेट्टी, हिना खान और गुलशन ग्रोवर ने भी हिस्सा लिया। सुनील शेट्टी और हिना खान ने तिरंगा भी फहराया। इस दौरान पूरा मेडिसन स्कॉयर तिरंगे के रंग में रंगा नजर आया। लोग वंदे मातरम, जय हिंद और भारत माता की जय के नारे भी लगा रहे थे।
इस दौरान कई झांकियां भी निकाली गई। जिसमें एक व्यक्ति महात्मा गांधी की वेशभूषा में नजर आया। इस दौरान बड रहे ढोल-नगाड़ों और ड्रम की आवाज ने लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया।
इससे पहले सुनील शेट्टी ऋषि कपूर से भी मिले। बॉलीवुड के सीनियर एक्टर ऋषि कपूर न्यूयॉर्क में पत्नी नीतू कपूर के साथ अपने इलाज के आखिरी पड़ाव पर हैं। इस बीच एक्टर से मिलने के लिए फैमिली और फ्रेंड्स के अलावा इंडस्ट्री के लोग भी पहुंचते रहते हैं। इसी बीच बॉलीवुड एक्टर सुनील शेट्टी अपने फैमली के साथ ऋषि कपूर-नीतू कपूर मिलने के लिए पहुंचे हुए हैं। सुनील शेट्टी के फैन क्लब इंस्टाग्राम ने एक फोटो शेयर करते हुए इस बात की जानकारी दी है।

प्रेमी ने प्रेमिका के बदले उसके पति को दी 71 भेड़ें, जानिए पूरा मामला!


उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में एक औरत का दाम 71 भेड़ें लगाया गया। दरअसल एक शख्स के जरिए अपनी शादीशुदा प्रेमिका को भगा ले जाने के मुआवजे के तौर पर प्रेमिका के पति को 71 भेड़ देने को बोला गया। रिपोर्ट की माने तो, पीपराइच में एक पंचायत ने आदमी को अपनी प्रेमिका के पति को 'मुआवजे' के तौर पर 71 भेड़ें देने का फरमान सुनाया।
बता दें कि, यह मामला 22 जुलाई से तब प्रारम्भ हुआ, जब एक शादीशुदा औरत अपने प्रेमी संग भाग गई। जब मामले में हस्तक्षेप किया गया, तो उसने अपने पति को छोड़ने की अभिलाषा व्यक्त की। हालांकि, मामले को निपटाना इतना सरल नहीं था एवं कुछ दिन के पश्चात ही दोनों व्यक्तियों में झगड़ा प्रारम्भ हो गया।
ऐसे में पंचायत बुलाई गई और प्रेमी से बोला गया कि वह या तो प्रेमिका के पति को मुआवजा देकर विवाहेत्तर संबंध को जारी रखे, या फिर इस संबंध को समाप्त कर डाले। इस पर प्रेमी ने अपनी प्रेमिका को साथ में रखने का चुनाव किया।
पंचायत ने प्रेमी को अपने 142 भेड़ों के झुंड में से 71 भेड़ देने हेतु बोला और तीनों इस बात पर सहमत भी हुए। इसी बीच मामले ने तब फिर तूल पकड़ लिया, जब प्रेमी के बाप ने पंचायत के निर्णय पर आपत्ति व्यक्त करते हुए भेड़ों का झुंड वापस मांगा। यहां तक कि उन्होंने पुलिस स्टेशन में एक लिखित शिकायत दर्ज की एवं बिना शर्त के अपने भेड़ें वापस मांगी।
यहां तक कि प्रेमी के बाप ने औरत के पति पर उसकी भेड़ें चुराने का आरोप भी लगाया। हालांकि, औरत ने अपना निर्णय नहीं बदला। अब यह मामला पुलिस में है। खोराबार की एसएचओ अंबिका भारद्वाज के मुताबिक, हम शिकायतकर्ता पक्ष के संपर्क में हैं तथा पुलिस सभी पक्षों से बात करके मामले को सुलझाने की कोशिश कर रही है।

3 महीने के बच्चे के साथ थी औरत, शख्स ने घसीटकर फेंका, देखें VIDEO


छत्तीसगढ़ से हैरान करने वाला वीडिया सामने आया है। इस वीडियो में एक औरत को बहुत ही बेरहमी से घसीटा ज रहा है।
कहा जा रहा है कि वीडियो कोरिया के बड़वानी कन्या आश्रम का है। दरअसल, स्कूल में अपने 3 माह के बच्चे संग छात्रावास में महिला सफाई कर्मी ने आश्रय लिया था।
इससे स्कूल अधीक्षक सुमिला सिंह के पति रंगलाल सिंह काफी नाखुश हो गए। उन्होंने महिला सफाई कर्मी को घसीटकर स्कूल से बाहर फेंक डाला।
ये वीडियो वायरल होने के पश्चात पुलिस शीघ्र ही आरोपी को गिरफ्तार करने का दावा कर रही है।

VIDEO: इस आदमी के सिर पर गिरी बिजली, फिर हुआ कुछ ऐसा..!


इंटरनेट पर बिजली गिरने की एक हैरान करने वाला वीडियो काफी वायरल हो रहा है। वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि एक आदमी के सिर के ऊपर बिजली गिरी तथा वो बाल-बाल बच गया। बिजली छाते को छूती हुई निकल गई। यह  घटना कैमरे में कैद हो गई।
बता दें कि ये घटना अमेरिका के साउथ कैरोलिना में बीते शुक्रवार को घटित हुई। स्कूल में काउंसलर रोमुलुस मैकनील वर्षा के वक्त छाता लेकर जा रहे थे। इसी दौरान उनके ऊपर बिजली गिरी। उन्होंने फेसबुक पर इसके सम्बन्ध में सूचना प्रदान की।
बिजली गिरने के वक्त उनके हाथ से छाता नीचे गिर गया। झटका खाने के पश्चात उन्होंने फिर से अपना छाता उठा लिया। ये घटना सर्विलांस कैमरे में रिकॉर्ड हो गई।
इंटरनेट पर टिपण्णी करते हुए कई यूजर ने आदमी की क्षमता की तारीफ की है और उन्हें सुपर पावर वाला शख्स बताया है। हालांकि, रोमुलुस ने कहा कि इस घटना के दौरान वे काफी डर गए थे। उन्होंने कहा कि उन्हें बहुत जोर का झटका महसूस हुआ था।

इस शख्स के कारनामे को देखकर आप रह जाएंगे हैरान!


हजारीबाग जिला मुख्यालय से लगभग 40 किलोमीटर दूर उच्चघाना ग्राम के किसान 33 साल के महेश करमाली ने गांव-घर में चल रही ‘जुगाड़ तकनीक’ की मदद से एक स्कूटर के इंजन का उपयोग कर खेत जुताई का उपाय खोज लिया, बल्कि इसके इस्तेमाल से वो खेत की जुताई कर रहे हैं।
शख्स ने मीडिया से बातचीत में कहा कि उन्होंने अपने इस नवाचार का नाम ‘पोर्टेबल पावर टिलर’ रखा है। उन्होंने कहा कि उनकी आर्थिक स्थिति ऐसी है, कि न तो वह बैल खरीद सकते थे एवं न ही ट्रैक्टर। इस बीच वह छोटे ट्रैक्टर का रूप तैयार करने लगे।
उन्होंने बताया कि अपने मित्र के गैराज से उन्होंने पुराने बजाज चेतक स्कूटर का स्क्रैप लगभग 4500 रुपये में खरीदा और उसे अलग-अलग तरीके आजमाकर छोटे टै्रक्टर का रूप दे दिया, जिसमें ट्रैक्टर का छोटा हल लगा हुआ है।
अपने इस नवाचार के इस्तेमाल के विषय में कहते हुए उन्होंने कहा कि इस पावर टिलर को तैयार करने में लगभग 9000 रुपये खर्च आए, जो सिर्फ 2$5 लीटर पेट्रोल खर्च पर 5 घंटे की भरपूर जुताई करता है।
आदमी की ये मशीन पूरे गांव हेतु प्रेरणादायी बन गई है। इसे तैयार करने की योजना के विषय में पूछने पर महेश कहते हैं, ‘‘इसके लिए सर्वप्रथम 20 इंच बाई 41 इंच का चेचिस बनाया। अब इंजन तथा हैंडल की आवश्यकता पूरी करने के लिए स्कूटर का इंजन लगा दिया।
गेयर बक्स, हैंडल एवं  दोनों चक्कों को निकाल कर बनाए गए उस चेचिस में फिट कर दिया।’’ महेश हालांकि अगले वर्ष तक पावर टिलर के ज्यादा बड़े व शक्तिशाली संस्करण को लाने की योजना बना रहा है।

दहेज में अच्छी नस्ल की गाय नहीं देने पर औरत संग किया ऐसा काम...


राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले में खुइयां थाना क्षेत्र के गौरखान गांव में दहेज में बढ़िया नस्ल की गाय नहीं देने पर महिला की हत्या कर देने का मामला सामने आया है।
पुलिस के अनुसार मृतक शर्मिला के पिता हरिमोहन की दहेज के लिए उनकी बेटी की हत्या कर देने की रिपोर्ट के आधार पर दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है। आज शर्मिला के शव का पोस्टमार्टम कराया गया।
चूरू जिले में साहवा थाना क्षेत्र के गांव बाय निवासी हरिमोहन ने मुकदमे में बताया कि उसकी दो पुत्रियां शर्मिला और कौशल्या की शादी लगभग छह वर्ष पहले सुभाष एवं सुरजीत निवासी गौरख़ान के साथ की गई थी।
उसने अपनी हैसियत के अनुसार दोनों पुत्रियों की शादी में दान दहेज दिया, लेकिन ससुराल वाले कुछ ही समय बाद दोनों बहनों को प्रताड़ित करने लगे कि वह अपने पीहर से एक लाख रूपए और दो मोटरसाइकिल लाकर दे।
उन्होंने ससुराल वालों को समझाने के लिए कई बार पंचायत भी की। कुछ दिन पहले शर्मिला ने फोन कर हरिमोहन को बताया कि ससुराल वाले बढ़िया नस्ल की गाय देने के लिए कह रहे हैं। करीब पन्द्रह दिन पहले उन्होंने एक बढ़िया नस्ल की गाय गोरखाना भिजवाई।

शादी करने जा रहे आदित्य रॉय कपूर, इस मॉडल से होगी सगाई !


आशिकी 2 फिल्म से बॉलीवुड में अपनी एक अलग और खास पहचना बनाने वाले अभिनेता आदित्य रॉय कपूर और मॉडल दीवा धवन के रिलेशन की खबरें सुर्खियों में चल रही हैं. दोनों को कई बार साथ में देखा जा चुका है और अब ऐसा कहा जा रहा है दोनों अपने रिश्ते को नाम भी देना चाह रहे हैं.
आदित्य द्वारा कॉफी विद करण शो मे पहली बार अपने रिश्ते पर बात की थी और एक्टर ने था कि दीवा और वह महज दोस्त हैं और वे उनकी बहुत ही पुरानी दोस्त है. उनके मुताबिक़, बता दें कि दोनों की मुलाकात एक फैशन शो में हुई थी और दोनों रिलेशन में नहीं हैं. हालांकि अब मुंबई मिरर की एक खबर के अनुसार दोनों अपने रिश्ते को आगे बढ़ाना चाहता हैं और खबर के अनुसार दोनों जल्द सगाई भी कर सकते हैं और फिर इसके बाद कपल अलगे साल शादी के बंधन में बंध जाएगा.
अभिनेता आदित्य और दीवा को कई बार साथ में देखा गया है. वाहनदोनों के रिलेशन की खबरें मीडिया में बहुत दिनों से चल रही हैं. आपको बता दें कि दीवा धवन एक फैशन एक फैशन डिजाइन हैं, उनका जन्म न्यूयॉर्क में हुआ था. दीवा द्वारा महज 14 साल की उम्र से अपने करियर की शुरुआत की गई थी. वहीं आदित्य जल्द ही सड़क 2 में नजर आने वाले हैं और इस फिल्म में संजय दत्त और आलिया भट्ट भी होगी.

जन्माष्टमी पर घर लें आएं चांदी का यह सामान और रख लें तिजोरी में, हो जाएंगे मालामाल


साल 2019 में जन्माष्टमी मनाने के लिए लोग खूब बेताब हैं क्योंकि यह त्यौहार बहुत ख़ास माना जाता है. ऐसे में 23 और 24 अगस्त को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का शुभ पर्व मनाया जाने वाला है और कान्हा के जन्म का उत्सव सारी दुनिया में परंपरागत रूप से मनाया जाता है. अब आज हम आपको बताने जा रहे हैं इस दिन किए जाने वाले उपाय जो आपको चारों तरफ से धन, संपदा, समृद्धि और सफलता दिलाने में मदद करने वाले हैं. जी हाँ, आइए जानते हैं उन उपायों के बारे में.
चांदी की बांसुरी : कहते हैं इस दिन चांदी की बांसुरी को लाकर कान्हा को चढ़ा देने से सभी संकट कट जाते हैं. इसी के साथ पूजा संपन्न होने के बाद उस बांसुरी को अपने पर्स में हिफाजत से रख लेने से धन की कभी कमी नहीं होती है.
माखन-मिश्री : कहा जाता है जन्माष्टमी के दिन माखन और मिश्री का भोग लगाकर 1 साल से छोटे बच्चों को अपनी अंगुली से चटा देने मात्र से सभी मनोकामना पूरी हो जाती है.
झूला : कहा जाता है इस दिन सुंदर सुसज्जित झूला लाकर उसमें कान्हा जी बिठाने से भी सारे काम बन जाते हैं.
राखी : कहते हैं इस दिन कान्हा जी और बलराम जी को राखी बांधना चाहिए जिससे वह हर संकट के समय आपके साथ रहे.
तुलसी : कहा जाता है कान्हा पूजन में तुलसी का प्रयोग जरूर करना चाहिए यह शुभ होता है.
शंख : कहते हैं जन्माष्टमी पर भगवान कृष्ण के नंदलाल स्वरूप का शंख में दूध डालकर अभिषेक करने से आपके जीवन में सुख ही सुख आता है.
फल व अनाज : मान्यता है कि कृष्ण जन्माष्टमी के दिन धार्मिक स्थल पर जाकर फल और अनाज दान करना शुभ होता है.
गाय-बछड़ा : ऐसा माना जाता है इस दिन गाय-बछड़े की नन्ही प्रतिमा लाने से भी धन और संतान संबंधी चिंताएं दूर होना शुरू हो जाती है.
मोर पंख: मोर पंख श्रीकृष्ण को अत्यंत प्रिय है इस कारण से जन्माष्टमी पूजन में इसे जरूर शामिल करना चाहिए.
पारिजात : कहते हैं हारसिंगार, पारिजात या शैफाली के फूल श्रीकृष्ण को बहुत पसंद है इस कारण अपनी पूजा में इन्हे शामिल करें.

85 सालों से चली आ ये अजीब परम्परा, किया जाता है मिर्च से अभिषेक


हमारे देश में कई मंदिर हैं जिनकी अलग अलग परंपरा है. हर मंदिर के अपने विशेष रीति-रिवाज होते हैं. कई रिवाज तो ऐसे अनोखे होते हैं जिनपर विश्वास कर पाना बेहद ही मुश्किल होता हैं. कुछ बेहद ही कठिन होते हैं तो कुछ ऐसे होते है जिसे देखकर और जानकर आप हैरान रह जाते हैं. आज हम आपको ऐसे ही एक मंदिर के अनोखे रिवाज के बारे में बताने जा रहे हैं जहां पर मिर्ची से अभिषेक किया जाता है. तो जानते हैं इसी के बारे में.
दरअसल, वर्ना मुथु मरियम्मन मंदिर तमिलनाडु के सबसे बड़े जिले वेलुप्पुरम में विश्व प्रसिद्ध ऑरोविले इंटरनेशनल टाउनशिप के पास एक गांव इद्यांचवाडी में स्थित है. ये मंदिर काफी प्रसिद्द है और हर साल  8 दिनों तक ऐसा त्योहार मनाया जाता है, जिसमें मिर्ची का अभिषेक देखने बड़ी संख्या में लोग पहुंचते हैं. ये लोगों के स्वस्थ रहने की कामना के लिए किया जाता है. इसका अलग ही रिवाज है जिसे 85 साल निभाया जा रहा है.
आपको बता दें, मंदिर की परंपरा के अनुसार यहां के तीन सबसे वरिष्ठ लोग पहले अपने हाथ में कंगन धारण करते हैं और फिर दिनभर उपवास रखते हैं. इसके बाद उनका मुंडन संस्कार होता है. फिर पुजारी उन्हें देवताओं की तरह पूजा स्थान पर बैठाकर उनकी पूजा की जाती है. उनका विभिन्न सामग्रियों से अभिषेक किया जाता है. इसमें चंदन, कुचले हुए फूल आदि शामिल होते हैं. इसके बाद मिर्ची का अभिषेक होता है. इसमें तीनों को मिर्च के लेप से स्नान कराया जाता है. उससे पहले इन्हें मिर्च का लेप खिलाया जाता है.
इन सब हैरानी भरे अभिषेक के बाद आखिर में उन्हें नीम के जल से स्नान कराकर मंदिर के अंदर ले जाया जाता है. यहां उन्हें जलते हुए अंगारों पर चलना होता है. 

यहां मौजूद है दुनिया की दूसरी सबसे गहरी गुफा, एक झलक देखने से कांप उठता है इंसान


दुनिया में आज भी कई हैरान कर देने वाली और आश्चर्यजनक जगहें मौजूद हैं और ऐसी ही एक जगह है जॉर्जिया के अबखाजिया में, जिसे दुनिया की दूसरी गहरी गुफा भी कहते हैं और यह गुफा इतनी गहरी है कि ऊपर से देखने मात्र से ही लोग कांप उठते हैं. बता दें कि इस गुफा का नाम क्रुबेरा गुफा है और इसकी गहराई 2197 मीटर यानी 7208 फीट है.
वैसे तो यहां पर्यटकों की भीड़ काफी लगी रहती है, हालांकि यह एक बहुत ही दुर्गम इलाका है, इसलिए यहां पर साल में केवल चार महीने ही जाने लायक मौसम है. जानकारी के मुताबिक़, क्रुबेरा गुफा की खोज साल 1960 में हुई थी और इस गुफा को वोरोन्या गुफा के नाम से भी जानते हैं. वोरोन्या का मतलब होता है कौओं की गुफा. अब आपको बता दें कि इसे यह नाम इसलिए दिया, क्योंकि जब 1980 में पहली बार इस गुफा में प्रवेश किया गया तो वहां पर कौओं के बहुत सारे घोंसले पाए गए थे. यूं तो इस गुफा के अंदर कई खोजी दल जा चुके थे, हालांकि साल 2012 में विभिन्न देशों के 59 खोजियों का एक दल जब इसमें उतरा, तो इसकी गहराई 2197 मीटर यानी कि 7208 फीट नापी गई थी और इस दल ने गुफा के अंदर कुल 27 दिन गुजारे थे.
आपको जानकारी के लिए बता दें कि इस गुफा में जाने के लिए लोगों को आसानी से इजाजत नहीं मिलती है. दरअसल, बात यह है कि अबखाजिया द्वारा साल 1999 में अपने आप को जॉर्जिया से अलग स्वतंत्र राष्ट्र घोषित कर दिया गया था, जबकि जॉर्जिया अभी भी इसे अपना हिस्सा ही मानता है और इसकी यही वजह है कि इस जगह को लेकर हमेशा मतभेद बने ही रहते हैं.

इस गलती की सजा आज भी भुगत रहा ये पेड़, कैद है जंजीरों में


कैदियों के गिरफ्तारी के किस्से आपने कई सारे सुने होंगे, लेकिन क्या आपने पेड़ की गिरफ्तारी का मामला सुना है. आज हम आपको ऐसा ही एक पेड़ बताने जा रहे हैं जिसे गिरफ्तार किया गया है और कई सालों से वो जंजीरों में कैद है. सुनकर हैरानी हो रही होगी लेकिन आपको बता दें, ये पेड़ एक दो साल से नहीं बल्कि 121 साल से कैद में है. इसे 121 साल पहले अंग्रेजी शासनकाल में कैद किया गया था.आइये जानते हैं क्या है इसका पूरा मामला.
अजीब बात ये है कि बरगद का ये पेड़ आज भी सजा काट रहा है. ये मामला साल 1898 का है जब पाकिस्तान, भारत का ही हिस्सा हुआ करता था. दरअसल पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वाह स्थित लंडी कोटल आर्मी कैंटोनमेंट में तैनात एक अफसर जेम्स स्क्विड शराब की नशे में धुत होकर पार्क में घूम रहा था. अचानक उन्हें लगा कि ये पेड़ हमला करने उसकी तरफ आ रहा है. उसने तुरंत अपने सिपाहियों को इस पेड़ को गिरफ्तार करने का आदेश सुनाया. इसके बाद उस बरगद के पेड़ को शक की आधार पर सिपाहियों ने गिरफ्तार कर लिया.
इसके बाद अंग्रेज अफसर जेम्स जब होश में आया तो उसे अपनी गलती का एहसास हुआ. लेकिन उसने पेड़ की जंजीरें खोलने नहीं दी. वह इससे लोगों को एक संदेश देना चाहते था. जेम्स बताना चाहता था कि अंग्रेजी शासन के विरुद्ध जाने पर किसी का भी यही हश्र होगा. आप देख सकते हैं कि इस पेड़ पर एक तख्ती भी लटकी दिखाई देती है. इस तख्ती पर लिखा है 'I am Underarrest'. इसके साथ ही पूरा किस्सा भी लिखा हुआ है. लेकिन अंग्रेज चले गए और भारत-पाकिस्तान अलग हो गए, लेकिन ये पेड़ आज भी अंग्रेजी हूकुमत के काले कानून की याद दिलाता है. यह पेड़ ब्रिटिश शासन के दौरान फ्रंटियर क्राइम रेगुलेशन कानून (FCR) की क्रूरता को दर्शाता है.