Showing posts with label News. Show all posts
Showing posts with label News. Show all posts

Saturday, 25 January 2020

निर्भया केस: दोषी विनय ने बनाई पेंटिंग, लिखी डायरी और शीर्षक रखा 'दरिंदा'


निर्भया केस के चारों दोषियों को 1 फरवरी को सुबह 6 बजे फांसी पर लटकाया जाएगा। फांसी की सजा टालने के लिए निर्भया के दोषी और उसके वकील एक के बाद एक चाल चल रहे हैं। पटियाला हाउस कोर्ट में आज सुनवाई के दौरान दोषी पक्ष के वकील एपी सिंह ने दावा किया कि जेल में दोषी विनय शर्मा को धीमा जहर दिया जा रहा है। वहीं दूसरी तरफ सरकारी पक्ष के वकील का कहना है कि तिहाड़ जेल प्रशासन ने दोषियों से जुड़े सभी दस्तावेज समय पर सौंप दिए हैं। हालाकि, दोषियों की तरफ से पेश वकील ने कहा कुछ दस्तावेज कल रात 10:30 बजे दिए गए है। लेकिन दोषी विनय की केस डायरी अभी तक नहीं दी गयी है। वकील ने कहा कि केस डायरी 160 पेज की है वो नहीं मिली है। इसके साथ ही उसकी मेडिकल रिपोर्ट भी नहीं दी गयी है और विनय दिल्ली लोक नायक अस्पताल में 10 दिन था वो भी दस्तावेज नहीं मिला है।
वकील ने बताया कि जेल में रहते हुए विनय ने कुछ पेटिंग भी बनाई है। तिहाड़ हाट में उसकी पेंटिंग्स की बिक्री भी हुई। मैंने उनके बारे में जानकारी चाहता हूं कि आखिर उसकी पेंटिंग्स से क्या कमाई हुई। विनय ने 11 पेंटिंग बनाई और 19 पन्नों की 'दरिंदा' डायरी भी लिखी। जेल प्रशासन ने दोषी विनय की पेटिंग और उसकी डायरी दरिंदा को भी कोर्ट में पेश किया। इसके बाद कोर्ट ने तिहाड़ जेल से कहा कि सभी दस्तावेज दोषियों को दे दिए जाएं। इस पर जेल प्रशासन ने कहा कि सभी दस्तावेद सौंप दिए गए हैं और इसके साथ ही इस अर्जी का निपटारा हो गया।
दोषियों के वकील ने कोर्ट में दावा किया कि उनके क्लाइंट विनय को जेल प्रशासन ने स्लो प्वाइजन दिया है। उन्होंने यह भी कहा कि स्लो प्वाइजन देने के कारण विनय की तबीयत बिगड़ी थी और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। उन्होंने कहा कि अभी तक उन्हें मेडिकल रिपोर्ट नहीं मिली है।
दोषियों के वकील पहले भी कई बार कोर्ट सुनवाई में जरूरी दस्तावेज नहीं मिलने को लेकर झूठे आरोप लगाते रहे हैं। आज भी सुनवाई के दौरान उन्होंने देर रात दस्तावेज सौंपे जाने की पुष्टि की।

इस लेडी सिंघम से नहीं लेता कोई पंगा, बीजेपी नेता की बीच सड़क पर करी थी हालत पंचर


बीजेपी नेता की गाड़ी का चालान कर चर्चा में आई यूपी के कानपुर की निवासी पीसीएस श्रेष्ठा अब लेडी सिंघम के नाम से जानी जाती है। बतादे श्रेष्ठा ठाकुर के बुलंदशहर में डीएसपी पद पर रहने के दौरान बीजेपी के विधायक ने ट्रैफिक नियम तोड़ा था जिसके चलते श्रेष्ठा ठाकुर ने उनका चालान कर दिया था।
जिसको लेकर विधायक मुकेश भारद्वाज से सड़क पर श्रेष्ठा ठाकुर की तीखी बहस हुई थी। जिसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था। वीडियो वायरल होने के बाद श्रेष्ठा ठाकुर को बुलंदशहर से ट्रांसफर कर बहराइच भेज दिया गया था।
श्रेष्ठा ठाकुर के साथ भी हो चुकी है छेड़छाड़, पुलिस अफसर बनने के पीछे की वजह बताते हुए कहा कि जब वह ग्रेजुएशन कर रही थी तो उनके साथ भी दो बार मनचलों ने छेड़छाड़ की थी।
जिसके बाद उन्हें लगा कि उस समय जिस तरीके से मनचलों पर कार्रवाई होनी चाहिए थी वह पुलिस ने नहीं की। उसके बाद उन्होंने पुलिस अफसर बनने की ठानी। जहां एक तरफ लेडी सिंघम का टैग लिए सड़कों पर दबंग की तरह घूमती है वही श्रेष्ठा ठाकुर अंदर से बहुत नरम दिल भी हैं।
श्रेष्ठा ठाकुर ने बताया कि कालेज के दिनों में जब वह 9 से 10 साल के एक लड़के को भीख मांगते हुए देखा था तो उस समय उन्होंने अपने टिफिन का सारा खाना उस बच्चे को दे दिया था। उन्होंने बताया तभी से मैं लाचार, जरूरतमंद बच्चों की काफी सहायता करती हूँ।

Friday, 24 January 2020

जाने आखिर कहां से आया कोरोना वायरस, क्या है इसके लक्षण और बचाव


सबसे बड़ा सवाल जो है कि आखिर यह वायरस कहां से फैलना शुरू हुआ? तो आपको बता दे, यह वायरस आमतौर पर जानवरों में पाए जाते हैं। वैज्ञानिकों का मानना है कि कई बार जानवरों से इसका संचार इंसानों में भी हो जाता है। इस वायरस से ग्रसित होने पर श्वास संबंधी गंभीर बीमारियां हो सकती हैं। इसके लिए कोई खास इलाज का इजाद नहीं हो पाया है। कई बार बीमारी के लक्षण खुद-ब-खुद खत्म हो जाते हैं। इस वायरस के मामले सबसे पहले चीन में देखने को मिले।
वहीं, चीनी वैज्ञानिकों के ताजा अध्ययन में वायरस के चमगादड़ों से सांपों में और फिर सांपों से इंसानों में फैलने की संभावना प्रकट हुई है। चीन की राजधानी पेइचिंग में शोधकर्ताओं का अध्ययन जर्नल ऑफ मेडिकल वायरॉलजी में प्रकाशित किया गया है। इसमें कहा गया है कि करॉनाा वायरस सांपों से इंसान तक पहुंचा है। चीन में सांप खाने की परंपरा है। चीन के वुहान में ऐसे जीव-जंतुओं का बाजार है जहां सांप, चमगादड़, मैरमोट्स, पक्षी, खरगोश आदि बिकते हैं। इन जीवों को चीन के लोग खाते हैं। वैज्ञानिकों का मानना है चमगादड़ से फैलने वाला SARS का वायरस सांप के जरिए लोगों में फैला। वैज्ञानिकों का मानना है कि SARS वायरस सांप में गया तो वह कोरोनावायरस में तब्दील हो गया। सांप के शरीर में बने नए कोरोनावायरस का कोई इलाज अभी तक नहीं मिल पाया है। कोरोना वायरस पर अध्ययन करने वाले वैज्ञानिक वी जी ने यह खुलासा किया है कि चमगादड़ से सांप में आने के बाद वायरस ने अपने जीनोम में बदलाव कर लिया। इससे यह बेहद खतरनाक हो गया है। वी जी ने विभिन्न जीव-जंतुओं से कुल मिलाकर 217 वायरस के सैंपल लिए थे। इनमें से पांच सैंपल कोरोना वायरस के थे। जब सभी जीवों में मिलने वाले वायरस की तुलना इस नए वायरस से की गई तो पता चला कि यह वायरस सांपों में मिल रहे वायरस से मिलता है।
वी जी की बात का समर्थन करते हुए पेंसिलवेनिया स्थित पिट्सबर्ग यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर हाईताओ गुओ ने बताया कि यह खुलासा बेहद हैरान करने वाला है। चमगादड़ और सांप के वायरस ने आपस में मिलकर कोरोना वायरस बनाया है।

भ्रष्ट अधिकरियों पर चला सीएम योगी का डंडा, 13 अफसरों पर गिरी गाज


यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में राज्य सरकार भ्रष्टाचार के प्रति जीरो टॉलरेंस की नीति पर लगातार कार्य कर रही है. शुक्रवार को इस दिशा में बड़ी कार्रवाई करते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने बदायूं कोषागार में स्टाम्प मैनुअल का अनुपालन न करने एवं कार्य में शिथिलता के इल्जाम में 13 अधिकारियों को निलंबित कर विभागीय जांच के आदेश जारी किए हैं.
सीएम योगी ने बदायूं कोषागार में कार्यरत 3 वरिष्ठ कोषाधिकारियों को 5 करोड़ रुपए के गबन के इल्जाम में निलंबित कर जांच के आदेश दिए गए हैं. उक्त मामले में ही तहसीलदार स्तर के 10 अधिकारियों को भी ससपेंड कर उनके खिलाफ विभागीय जांच के आदेश दिए गए हैं. सीएम योगी ने बीमा कंपनियों द्वारा क्लेम का भुगतान ना किए जाने की शिकायतों को गंभीरता से लिया है.
बाराबंकी में बड़ी तादाद में किसानों को बीमा क्लेम देने में आनाकानी की शिकायतें प्राप्त हो रही थीं. इसे देखते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने बीमा कंपनी के खिलाफ जांच का आदेश जारी किया है. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कासगंज जिले के अलीपुर बड़वारा और सहसवान के मध्य गंगा नदी पर ब्रिज के पहुंच मार्ग और सुरक्षात्मक कार्य निर्माण के लिए 174.97 करोड़ रुपए जारी करने के निर्देश जारी किए हैं. 

Thursday, 23 January 2020

मुंबई पुलिस ने सेक्स रैकेट में पकड़ी बॉलीवुड की ये दो हस्तियां, तीन लड़कियों को छुड़वाया


मुंबई में पुलिस इन दिनों लगातार सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ कर रही है। पिछले एक महीने में पुलिस तीन ऐसे सैक्ट रैकेट का खुलासा कर चुकी है जिसका सीधा संबंध बॉलीवुड से है। हाल ही में मुंबई की उपनगरी गोरेगांव के एक पांच-सितारा होटल में चल रहे देह व्यापार रैकेट का पुलिस ने भंडाफोड़ कर एक बॉलीवुड अभिनेत्री और मॉडल को गिरफ्तार किया था। इस मामले को बिते 10 दिन भी नहीं हुए थे कि मंगलवार को एक बार फिर पुलिस ने ऐसे ही एक रैकेट का पर्दाफाश किया जिसमें बॉलीवुड से जुड़े लोग बेनकाब हो गए।
दरअसल, ये नया मामला मुंबई के अंधेरी इलाके स्थित इंपीरियल पैलेस होटल का है। पुलिस ने छापेमारी में एक प्रोडक्शन मैनेजर और कास्टिंग डायरेक्टर को गिरफ्तार किया है। इन दोनों पर दो विदेशी छात्राओं समेत तीन महिलाओं को देह व्यापार में धकेलने का आरोप है। पुलिस की सामाजिक सेवा शाखा की एक महीने में यह चौथी छापेमारी है।
रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने बताया कि मुंबई के अंधेरी इलाके स्थित इंपीरियल पैलेस होटल में छापेमारी कर उन्होंने प्रोडेक्शन मैनेजर नवीद शरीफ अहमद अख्तर और कास्टिंग डायरेक्टर नवीद सादिक सयाद को गिरफ्तार कर तीन महिलाओं को वहां से सुरक्षित निकाला।
मिली जानकारी के मुताबिक इनमें से दो विदेशी छात्राएं तुर्कमेनिस्तान की हैं जो पुणे के एक कॉलेज में पढ़ती हैं। फिल्मों में काम करने की चाहत के चलते ये मुंबई आई थीं और इस बीच इनकी दोस्ती अख्तर और सयाद से हो गई। इन आरोपियों ने छात्राओं पर समझौता करने का दबाव बनाया। इसके बाद इन्हें देह व्यापार में धकेल दिया।
बीते दिनों पुलिस ने अंधेरी इलाके से एक सेक्स रैकेट में फंसी तीन अभिनेत्रियों को बचाया था। इसे चलाने वाली एक महिला को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया था। रिपोर्ट्स के मुताबिक रेस्क्यू की गईं लड़कियों में से एक अभिनेत्री सावधान इंडिया में नजर आ चुकी हैं। वहीं दूसरी अभिनेत्री ने वेब सीरीज में काम किया है। इसके साथ ही तीसरी अभिनेत्री मराठी फिल्मों में काम कर चुकी हैं।