Showing posts with label News. Show all posts
Showing posts with label News. Show all posts

Monday, 10 June 2019

इटावा में राजधानी एक्सप्रेस की चपेट में आए प्लेटफार्म पर खड़े यात्री, चार की मौत


उत्तर प्रदेश के इटावा जिले के बलरई रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म पर खड़े अवध एक्सप्रेस के 4 यात्रियों की राजधानी एक्‍सप्रेस की चपेट में आने से मृत्यु हो गई. इसके साथ ही हादसे में 10 से ज्यादा लोग घायल हो गए. उन्‍हें उपचार के लिए सैफई और टूंडला के अस्‍पतालों में भर्ती कराया जा रहा है. बताया जा रहा है कि अवध एक्सप्रेस ट्रेन मुजफ्फरपुर से बांद्रा टर्मिनल जा रही थी.
बलरई स्टेशन के प्लेटफॉर्म पर अवध को लूप लाइन पर खड़ा करके कानपुर की तरफ से दिल्ली जा रही राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन को पास कराया जा रहा था. वहीं, गर्मी के चक्कर में अवध एक्सप्रेस ट्रेन के कई यात्री प्लेटफॉर्म व प्लेटफार्म के उलटी तरफ में खड़े हो गए. तभी तेज रफ्तार से आई राजधानी की चपेट में उलटी तरफ खड़े यात्री आ गए. इससे 4 लोगों की मौके पर ही जान चले गई जबकि कई जख्मी हो गए.
बताया जा रहा है कि अवध एक्सप्रेस ट्रेन मुजफ्फरपुर से बांद्रा टर्मिनल जा रही थी. बलरई स्टेशन के प्लेटफॉर्म पर अवध को लूप लाइन पर खड़ा करके कानपुर की तरफ से दिल्ली जा रही राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन को पासिंग दी जा रही थी. उधर गर्मी के चक्कर में अवध एक्सप्रेस ट्रेन के कई मुसाफिर प्लेटफॉर्म व प्लेटफार्म के उलटी तरफ खड़े हो गए. तभी तेज रफ्तार से आई राजधानी की चपेट में उलटी साइड में खड़े यात्री आ गए. इससे 4 लोगों की वहीं पर मौत हो गई जबकि कई जख्मी हो गए.


ट्रेन में अचानक उड़ती हुई आई ऐसी खतरनाक चीज, देखते ही निकल गई लोगों की चीख


ट्रेनों में चूहा या सांप निकलने की खबरें तो आपने बहुत पढ़ी और सुनी होंगी, लेकिन न्यूयॉर्क के एक ट्रेन में ऐसी चीज निकली, जिसने लोगों को हैरत में डाल दिया। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। सबसे पहले इसका वीडियो जोनाथन क्रिस्टोफर नाम के एक शख्स ने अपने इंस्टाग्राम पर शेयर किया था।
सीबीएस न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, सब-वे ट्रेन न्यूयॉर्क से ब्रुकलिन जा रही थी, लेकिन अचानक उसमें एक चमगादड़ आ गया, जिसे देखकर वहां पास बैठे कुछ लोगों की तो चीखें निकल गईं।
जोनाथन क्रिस्टोफर ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा है, जब मैंने चमगादड़ पहली बार देखा तो मुझे लगा कि वो कोई छोटा सा पेपर है, लेकिन जब पास जाकर देखा तो पता चला कि असल में वो एक चमगादड़ है। हालांकि बाद में लोगों की मदद से उस चमगादड़ को अगले स्टॉप पर बाहर निकाल दिया गया।


इस मशहूर सिंगर की कार का हुआ एक्सीडेंट, पुलिस ने किया यह काम



मशहूर कनैडियन सिंगर और सॉन्ग राइटर जस्टिन बीबर की कार के ऐक्सिडेट की खबर सामने आई है. दरअसल, बताया जा रहा है कि अपनी कार ऐक्सिडेंट के बाद वह कैलिफोर्निया के हॉलिवुड एरिया में पुलिस से बातें करते नजर आए है. यह एक मामूली सी दुर्घटना बताई जा रही है.

दूसरी ओर बताया जा रहा है कि पुलिस ने बातचीत के बाद सिंगर को इस मामले में छोड़ दिया है, क्योंकि जब यह घटना हुई थी उस समय यह कार जस्टिन नहीं बल्कि उनका ड्राइवर चला रहा था और अपनी कार में तब वे पैसेंजर सीट पर मौजूद थे.

बताया जा रहा है कि बुधवार को हुई इस घटना में जस्टिन या उनकी गाड़ी को कुछ खास नुकसान नहीं पहुंचा. साथ ही यह भी बताया जा रहा है कि जस्टिन की कार में बस हल्की सी खरोंच आई है. वहीं जस्टिन की बात की जाए तो वे पिछले दिनों अपनी पत्नी हैली के साथ तनाव को लेकर चर्चा में थे और कुछ समय पहले ही कैलिफोर्निया के लगुना बीच पर एक पार्क में धूप में बैठे इस न्यूली मैरिड कपल की कुछ तस्वीरें सामने आई थीं, जिनमें वे एक-दूसरे के साथ बहस करते हुए नजर आ रहे थे. जहां बातचीत और बहस करते हुए बीबर कई बार अपनी जगह से उठते नजर आए थे और वहां से जाने की कोशिश में भी दिखें थे. हलांकि अभी इस कपल के बीच असिआ कुछ भी नहीं है. 

सोमवार, 10 जून: जानिए आज के पेट्रोल-डीजल के भाव


आज यानि 10 जून को दिल्ली में पेट्रोल का दाम आज 71 रुपये प्रति लीटर है। डीजल 65 रुपये में बिक रहा है। सभी तेल कंपनियों के पेट्रोल पंपों पर कीमतें समान हैं।

पेट्रोल।

जयपुर में एक लीटर पेट्रोल 72 रुपये प्रति लीटर।

मुंबई में एक लीटर पेट्रोल 77 रुपये प्रति लीटर।

कोलकाता में एक लीटर पेट्रोल 73 रुपये प्रति लीटर।

चेन्नई में एक लीटर पेट्रोल 74 रुपये प्रति लीटर।

डीजल।

जयपुर में एक लीटर डीजल 69 रुपये प्रति लीटर।

मुंबई में एक लीटर डीजल 69 रुपये प्रति लीटर।

कोलकाता में एक लीटर डीजल 68 रुपये प्रति लीटर।

चेन्नई में एक लीटर डीजल 70 रुपये प्रति लीटर है।

प्रेमी से मिलने पर माता-पिता और भाई ने प्रेमिका को पीटा, चोटी काटी


यूपी के बरेली जिले में प्रेमी से मिलने की कोशिश करने पर माता-पिता अपनी ही बेटी की जान के दुश्मन बन गए और उन्होंने अपनी ही बेटी की हत्या करने की कोशिश की. उन्होंने अपनी बेटी को हथौड़े से पीटा और उसकी चोटी काट दी. माता-पिता और भाई से जान बचा कर किसी तरह से लड़की इज्जतनगर थाने पहुंची और पुलिस को आप बीती बताई. पुलिस ने घायल किशोरी का मेडिकल करा दिया है और आरोपी परिजनों की तलाश कर रही है.

इज्जतनगर थाना क्षेत्र के परवाना नगर की रहने वाली एक लड़की का घर के पास रहने वाले युवक से प्रेम-प्रसंग चल रहा है. इसको लेकर माता-पिता अपनी बेटी को पहले भी कई बार पीट चुके हैं. लड़की का आरोप है कि वह अपने प्रेमी से मिलने गई थी, जिसकी जानकारी उसके माता-पिता को हो गई. उसने बताया कि, “घर लौटने पर उसके माता-पिता और भाई ने उसको बेरहमी से पीटा. उसके शरीर पर हथौड़ी मारी. डंडों से भी खूब पीटा.”

आरोप है कि उसके माता-पिता और भाई उसकी हत्या करने की फिराक में थे. वह किसी तरह अपनी जान बचाकर थाने पहुंच गई. इज्जतनगर पुलिस ने घायल युवती का जिला अस्पताल में मेडिकल परीक्षण कराया है. आरोपी माता, पिता और भाई के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी.

उधर पुलिस अफसरों का कहना है कि मामला संज्ञान में आया है. घायल युवती का मेडिकल परीक्षण कराकर कार्रवाई की जा रही है. लड़की बालिग है या नाबालिग, इस बात की पुष्टि अभी नहीं हो सकी है. आरोपियों के खिलाफ हर हाल में कार्रवाई की जाएगी.


क्या पीएम मोदी को मिलेगी राष्ट्र ऋषि की उपाधि, विवाद सुलझाने के लिए काशी विद्वत परिषद करेगा बैठक


काशी विद्वत परिषद ने पिछले हफ्ते पीएम नरेंद्र मोदी को राष्ट्र ऋषि की उपाधि से विभूषित करने का ऐलान किया था. परिषद की तरफ से इसके लिए आपात बैठक बुलाकर प्रस्ताव भी पारित करा दिया गया, किन्तु अब इसे लेकर परिषद दो दलों में बंट गया है. एक गुट ने इसे सियासत से प्रेरित करार देते हुए इस सम्मान की खिलाफत की है. पीएम मोदी को मिलने वाली यह उपाधि अब विवादों में घिर चुकी है.

पीएम मोदी को उपाधि पर परिषद के ही महासचिव शिवजी उपाध्याय ने नियमों का अनुपालन ना किए जाने का हवाला देते हुए इस पर सवाल खड़े किए हुए है. वहीं आरोपों को खारिज करते हुए परिषद के सचिव डॉक्टर राम नारायण द्विवेदी ने कहा है कि यह फैसला नियमों के दायरे में लिया गया है. विद्वत परिषद के सचिव ने कहा कि आपात बैठक की जानकारी महासचिव उपाध्याय सहित कार्यकारिणी के सभी सदस्यों को फोन के जरिए दी गई थी. वह बैठक में मौजूद नहीं हो सके थे. डॉक्टर द्विवेदी ने दावा किया कि पीएम मोदी को उपाधि देने का तब उपाध्याय ने भी समर्थन किया था।

Sunday, 9 June 2019

इन सात रंगों वाले पहाड़ों को देखकर नजर नहीं हटा पाएगे आप


बचपन से ही इंद्रधनुष हम सभी की जिज्ञासा का केंद्र रहा है, हम सभी के मन में यही विचार आता है कि आखिर आकाश में ये 7 रंग कहा से आ जाते है। दरअसल, आज हम आपको एक ऐसी जगह के सम्बन्ध में बताने जा रहे है जहां जाकर आप धरती पर ही इंद्रधनुष के सात  रंग देख सकते है।

बता दें कि ये इन्द्र्धनुष पेरू और पश्चिमी चीन की पहाड़ियों में बना हुआ है। पेरू में उपस्थित ये पहाड़ियां 7 रंगो से बनी हुई है जो इंद्रधनुष का एहसास दिलाती है, इनका नाम औसजेते है।

ये सुंदर सतरंगी पहाड़ किसी का भी ध्यान अपनी तरफ आकर्षत कर लेती है। रंगों की वजह से इन पहाड़ियों को इंद्रधनुष पर्वत के नाम से जाना जाता है।

ये पर्वत बिल्कुल इंद्रधनुष जैसे दिखाई देते है। इन पर्वतों को किसी इंसान ने तैयार नहीं किया है, बल्कि इनके 7 रंग तो कुदरत का करिश्मा है।

जब इस घोड़े ने पी ली शराब, तो दूल्हे के साथ क्या किया जानकर हैरान रह जायेंगे आप


कनाडा में एक सिख दूल्हे को घोड़ी चढ़ना बेहद महंगा पड़ गया. दूल्हे का सारा मजा उस वक्त किरकिरा हो गया, जब घोड़ी ने उसे हवा में उछाल दिया. मिली जानकारी के अनुसार ब्रिटिश कोलंबिया के सर्रे में घोड़ी को कथित तौर पर मादक पदार्थ खिला दिया गया था. इसी का एक वीडियो भी वायरल हो रहा है जिसमें घोड़े को ऐसा करते देखा जा सकता है. यू-ट्यूब पर जारी इस वीडियो में घोड़ी द्वारा हिंसक रवैया अपनाने और दूल्हे को हवा में उछालते दिखाया गया है.

इस दौरान दूल्हे की पगड़ी गिर गई, लेकिन वह उस पर फिर से सवार होकर बिना घायल हुए शादी समारोह स्थल तक जाने में कामयाब रहा. घोड़ी के मालिक ने कहा, घोड़ी कई शादियों में हिस्सा ले चुकी है और इसमें कोई समस्या नहीं हुई. मुझे नहीं पता कि आखिर हुआ क्या. रिकॉर्ड हुए वीडियो में एक व्यक्ति को उसके पास आते और उसे कुछ खिलाते दिखाया गया है. मालिक ने कहा, ऐसा कौन करेगा मुझे नहीं पता कि उसे क्या खिलाया गया.

गाड़ी चलाते समय नहीं रखा ध्यान तो हो जाएगी इस शख्स जैसी हालत


वैसे तो आमतौर पर कई तरह की बीमारियां ऐसी खतरनाक होती हैं. जिसके चलते किसी भी मनुष्य के चहरे के आकार में कई तरह के बदलाव आने लगते हैं. बीमारी से हर कोई बचना चाहता है लेकिन कहीं ना कहीं ये बीमारी पीछे पड़ ही जाती है. लेकिन आज जिस बीमारी के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं उस बीमारी में व्यक्ति का चहरा इतना ज्यादा बदल चुका हैं कि आप देखकर हैरान रह जायेंगे. आइये जानते हैं उस बीमारी के बारे में.

आपको बता दें, पहली नजर में इस भयानक जीव को देखकर लगता है कि यह किसी लाइलाज बीमारी से पीड़ित आदमी है. लेकिन ऐसा बिलकुल नहीं है. यह ह्युमन स्कल्पचर है. जिसे रोड सेफ्टी अभियान के तहत विक्टोरिया ट्रांसपोर्ट एक्सीडेंट कमीशन ने बनाया है. यह कार क्रेश में भी सरवाइव कर सकता है. इसका चेस्ट बड़ा है और गर्दन नहीं है कान बहुत छोटे हैं. इस स्कल्पचर को ग्राहम नाम दिया गया है. यानि इससे ये बताया जा रहा है कि गाड़ी चलाते समय कितना ध्यान देना चाहिए।

रविवार, 09 जून: जानिए आज के पेट्रोल-डीजल के भाव


आज यानि 9  जून को दिल्ली में पेट्रोल का दाम आज 71 रुपये प्रति लीटर है। डीजल 65 रुपये में बिक रहा है। सभी तेल कंपनियों के पेट्रोल पंपों पर कीमतें समान हैं।

पेट्रोल।

जयपुर में एक लीटर पेट्रोल 72 रुपये प्रति लीटर।

मुंबई में एक लीटर पेट्रोल 77 रुपये प्रति लीटर।

कोलकाता में एक लीटर पेट्रोल 73 रुपये प्रति लीटर।

चेन्नई में एक लीटर पेट्रोल 74 रुपये प्रति लीटर।

डीजल।

जयपुर में एक लीटर डीजल 69 रुपये प्रति लीटर।

मुंबई में एक लीटर डीजल 69 रुपये प्रति लीटर।

कोलकाता में एक लीटर डीजल 68 रुपये प्रति लीटर।

चेन्नई में एक लीटर डीजल 70 रुपये प्रति लीटर है।

इस ग्रह पर 7 घंटों का ही होता है एक साल


धरती पर एक साल में 365 दिन होते है. लेकिन आपको बता दें एक जगह हैं जहां एक साल सिर्फ कुछ घंटों का ही होता है।

दरअसल, केपलर टेलिस्कोप ने इस ग्रह का खोजा है.इसे अंतरिक्ष का सबसे तेज प्लेनिट कहा जा रहा है. इस ग्रह के ऑर्बिट पीरियड को जानकर आप भी हैरान हो जाएंगे. वहीं Phys.org की रिपोर्ट के अनुसार इस प्लेनिट का ऑर्बिट पीरियड महज 6.7 घंटों के लिए ही होता है. इस प्लेनिट का नाम EPIC 246393474 b है और इस ग्रह का दूसरा नाम C12_3474 b भी है. हालाँकि इसके बारे में आपको भी ज्यादा जानकारी नहीं होगी. 

केपलर को प्लेनिट हंटिंग टेलिस्कोप कहा जाता है. वो अब तक 2300 ग्रह की खोज कर चुका है. अब उसने धरती के पास ही इस ग्रह की खोज की है. 2013 में दो रिएक्शन फेल होने के बाद केपलर ने के2 मिशन की शुरुआत की थी. वैज्ञानिकों की मानें तो स्टेलर रेडिएशन के चलते यहां का वातावरण पूरी तरह खराब हो चुका है. ये ग्रह इस लिए भी खास है क्योंकि इसे धरती से 5 गुना बड़ा बताया जा रहा है. इस ग्रह में भारी पत्थर हैं जिसमें 70 प्रतिशत आयरल होने की संभावना है.

लीजिए 14 हजार साल पुरानी रोटी का मजा, इतिहास कर देगा दीमाग का दही


दुनिया की पहली रोटी कब पकाई गई, इसे लेकर इतिहास में अलग-अलग तरह की बाते दर्ज है. लेकिन हाल में शोधार्थियों को जो अवशेष मिले हैं वे चौंकाने वाले रहे हैं. उत्तर-पूर्वी जॉर्डन में शोधार्थियों ने एक ऐसी जगह पाई है, जिसे लेकर यह कहा जा रहा है कि वहां करीब साढ़े 14 हजार साल पहले फ्लैटब्रेड यानी रोटी पकाई थी. साथ ही शोधा में दावा किया है कि इस जगह पर पत्थर के बने एक चूल्हे में रोटी पकाई थी और  शोधार्थियों ने यहां से पत्थर का चूल्हा भी बरामद किया है.

वहीं, अब इस अवशेष की माने तो लोगों ने कृषि विकास से सदियों पहले रोटी पकाकर खानी भी शुरू कर दी थी और मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक 4000 साल पहले इंसानों ने खेती का काम शुरू किया था, उससे काफी समय पहले पूर्वी भूमध्यसागर में शिकारियों ने रोटियां बनाई शुरू कर दी थीं. साथ ही कहा जा रहा है कि उस समय रोटी को बनाने में जंगली अनाजों का इस्तेमाल भी खूब होता था.यह जौ, इंकॉर्न, जई और पानी में उगने वाले एक खास किस्म के पौधे ट्यूबर्स से बनाई होगी।

अब तक 200 से ज्यादा सर्जरी करा चुकी है यह लड़की, ख्वाहिश एक कार्टून के तरह दिखने की


हर किसी को अलग दिखने का शौक होता है और अपनी खूबसूरती बढ़ाने के लिए लोग खाने-पीने में बदलाव से लेकर एक्सर्साइज़ करते हैं लेकिन एक लड़की से आपको हम मिलवाने जा रहे है, जिसने कार्टून जैसा दिखने के लिए 200 से ज्यादा बार सर्जरी कराई है और उसके लिए करोड़ो रुपए अब तक खर्च कर दिए है. लेकिंन अफसोस की खूबसूरत दिखने के चक्कर में वह अपनी पहली वाली खूबसूरती भी खो बैठती है.

दोस्तों, आज तक आपने कई हीरोइनों और मॉडल्स के ऐसे किस्से सुने होंगे, जो प्लास्टिक सर्जरी के बाद बिल्कुल ही भद्दी नजर आने लगती है और यह तो अलग बात है कि इस औरत का नाम पिक्सी फॉक्स हैं. आप सभी को यह बात जानकर काफी हैरानी होगी कि इस औरत ने कार्टून कैरक्टर के जैसा दिखने के लिए अपने शरीर से 6 पसलियां ही निकलवा लीं और जिसमें इनका कुछ खर्च 120,000 रुपए आया. वहीं सर्जरी के बाद इनकी कमर का साइज महज 16 इंच ही रह गया. जबकिसर्जरी से पहले इनकी पिक्सी का बॉडी शेप 30, 24, 34 था.

Saturday, 8 June 2019

यहां एक पत्नी के होते हुए पुरुष करता है दो और शादियां


आज हम ऐसी ही जगह के बारे में बताने जा रहे हैं जहां पर पुरुष तीन शादी करते हैं. महाराष्ट्र में मुंबई से 150 किमी. की दूरी पर देंगंमल गाँव है और इसकी जनसँख्या केवल 500 है. इस गाँव के लोग एक प्रथा का पालन करते हैं जिसके बारे में विश्व में किसी को भी पता नहीं है. इसके पीछे भी एक कारण है जिसके बारे में आपको बता दें.
आपको बता दें, ऐसा केवल इसलिए किया जाता है कि प्रत्येक घर को पर्याप्त पानी मिले. पुरुष पहली पत्नी को तलाक नहीं देता न ही पत्नी की मृत्यु हो चुकी होती है. वह घर में उसी प्रकार रहती है जैसे दूसरी और तीसरी पत्नी. यानि सभी पत्नियां एक जैसे ही रहती है जिसमें किसी को कोई दिक्कत नहीं होती. इन शादियों का मुख्य उद्देश्य यह होता है प्रत्येक घर को पर्याप्त पानी मिल सके.
दरअसल, आसपास के कुएं गर्मियों में सूख जाते हैं जिससे लोगों को पानी नहीं मिलता और पानी लाने के लिए उन्हें मीलों चलकर जाना पड़ता है. 15 लीटर पानी लाने के लिए चलकर जाने और आने में उन्हें लगभग 12 घंटे तक का समय लगता है. इससे घर के काम में बाधा आती है. अत: संतुलन बनाये रखने के लिए वे दुबारा शादी करते हैं. घर में जितने अधिक लोग होंगे उतना की अधिक पानी भरा जाएगा. इसे घर के कामों में संतुलन बनाने में मदद होती है


एक सूअर इस किसान को बना गया मालामाल, मिली ऐसी चीज़


वैसे तो लगभग हर किसी ने सोने के अंडे देने वाली मुर्गी की कहानी पढ़कर हर किसी के मन में ख्वाहिश आती है. एक शख्स के पास ऐसी मुर्गी तो नहीं आई, लेकिन ऐसा सुअर जरूर मिल गया जो उसे करोड़पति बना गया. उसके पास से कुछ ऐसी चीज़ मिली जिससे करोड़पति हो गया.
दरअसल, सुअर के पेट से शख्स को ऐसी चीज मिली जिसकी दुनिया में काफी मांग है और इसकी कीमत भी लाखों-करोड़ों में है. जब वो इसे लेकर शंघाई गया और वहां इसकी कीमत जानी तो हैरान रह गया. शंघाई में उसे मालूम चला कि पत्थर दिखने वाली इस चीज को Bezoar कहते हैं. 4 इंच के Bezoar की कीमत तकरीबन 4 करोड़ रुपये थी. ये सुनकर तो जैसे उसके होश ही उड़ गए.
इसके बारे में आपको बता दें, Bezoar कुछ जानवरों के अंदर मिलने वाली एक चीज है जो बड़े काम आती है. इससे कई तरह की दवाईयां बनती हैं. इतना ही नहीं, इससे जहर से बचने ते इंजेक्शन भी बनते हैं. कहते हैं कि ये तभी काम का होता है जब आंतों में पाया जाए. किसान ने इसकी बोली लगाने का फैसला लिया है. अब सोचिये उस शख्स के पास अब तक कितना पैसा आ गया होगा.


इस मंदिर में भगवान की मूर्ति को आ रहा है पसीना, लोग हैरान


आज हम आपको एक ऐसे मंदिर के बारे में बताएंगे जिसे जानकर आप दंग रह जाएंगे। दरअसल, हम बात कर रहे हैं, बिहार के गया जिले के रामशिला पर्वत के तलहटी में बने रामशिला ठाकुरबाड़ी में स्थित भगवान गणेश की मूर्ति के बारे में जिससे पसीना बह रहा है।
मंदिर के पुजारी ने दावा किया है कि, भगवान भयंकर गर्मी से काफी परेशान हो रहे हैं। गर्मी से बचाने हेतु भगवान गणेश की प्रतिमा पर चंदन का लेप लगाया जा रहा है। इतना ही नहीं इनकी प्रतिमा के इर्द-गिर्द पंखे भी चलाए जा रहे हैं।
खबरों के मुताबिक, ये मंदिर विश्व प्रसिद्ध है। यहां पितृपक्ष मेला में दूसरे दिन का पिंडदान होता है। इसके संबंध  में मान्यता है कि भगवान श्री राम पिंडदान करने गया के इसी स्थान पर आए थे। जिसकी वजह से यहां रामशिला पहाड़, ठाकुरबाड़ी, राम सरोवर उपस्थित है।
इस घटना के सम्बन्ध में वैज्ञानिकों का बताना है कि भगवान गणेश की मूर्ति मूंगा पत्थर से बनी हुई है। इस पत्थर की प्रवृत्ति बहुत गर्म होती है । इसलिए जब भी ज्यादा गर्मी पड़ती है इस पत्थर से पानी निकलने लगता है।

शोक में डूबे अमिताभ, 35 साल तक साथ रहे शख्स ने कहा दुनिया को अलविदा


बॉलीवुड के शहंशाह, सदी के महानायक, बिग बी और ना जाने कितने नामनों से पहचाने जाने वाले यानी कि सुपरस्टार अमिताभ बच्चन के लिए दुख की खबर सामने आ रही हैं. दरअसल, बताया जा रहा है कि अमिताभ बच्‍चन के करीबी और 35 साल तक उनके साथ रहने वाले उनके सेक्रेटरी शीतल जैन का आज को न‍िधन हो गया है. अमिताभ इस समय दुःख की घड़ी में है.
आपको जानकारी के लिए बता दें कि महानायक अमिताभ बच्‍चन ने अपना फिल्मी सफर शुरू किया था, उसी वक्‍त से शीतल जैन उनके साथ रहे थे और तीन दशक से ज्‍यादा वक्‍त उन्‍होंने अमिताभ के साथ बिताया है और उनके निधन पर महानायक अमिताभ बच्‍चन ने भी शोक व्‍यक्‍त किया है. जबकि अभिनेता अनुपम खेर ने भी ट्वीट पर श्रद्धांजलि दी है और तमाम सितारों ने ट्व‍िटर के जरिए श्रद्धांजलि अर्पित की हैं.
आपको  साथ ही इस बात से भी अवगत करा बता दें कि अमिताभ बच्चन अपने स्टाफ का बेहद ख्लाय रखते हैं।

इस गांव में है महिलाओं की डिलीवरी बैन, नहीं पैदा होता बच्चा



आपको बता दें, देश में एक ऐसा भी गाव है जहां बच्चा पैदा करने वालो को सजा दी जाती है. इसका कारण जानकर भी आप चौंक जायेंगे कि ऐसा क्यों होता है. तो चलिए आपको बता देते हैं क्या कारण है इसके पीछे का.
आपको बता दे की मध्य प्रदेश गुर्जरों के इस गाव में बच्चे पैदा करना मना है. यहा का मानना है की अगर यहा बच्चे पैदा किए गए तो इस गाव का श्याम मंदिर अपवित्र हो जाएगा. ये गांव भोपाल से 77 किलोमीटर दूर है जिसका नाम सांका जागीर है. यहां की आबादी करीब 1200 लोगों की है. गांव में गुर्जरों का बाहुल्य है.इस गांव में न जाने कितने दशकों से कोई बच्चा पैदा नहीं हुआ. इसकी वजह भी अजीबोगरीब ही है. गांव वाले मानते हैं कि अगर गांव में बच्चे होंगे तो वहां का श्याम मंदिर अपवित्र हो जाएगा. यही कारण है कि इसमें कोई बछ पैदा नहीं होता.
इसी मान्यता के चलते कई दशकों से इस गांव में किसी महिला का प्रसव नहीं हुआ है. जब भी किसी महिला को प्रसव होने वाला होता है तो उसे गांव से बाहर लेकर जाया जाता है।

भारतीय रेल ने अपने जुगाड़ से पटरी पर ट्रक को दौड़ा दिया, वीडियो वायरल


 एक वीडियो सोशल मीडिया पर इन दिनों तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें भारतीय रेल का एक अनोखा जुगाड़ू कारनामा देखने को मिल रहा है। इस जुगाड़ को देख आप भी हैरत में पड़ जाएंगे। 
आपने रेल की पटरी पर इंजन और रेलगाड़ी चलते हुए तो कई बार देखी होगी। लेकिन क्या कभी आपने रेल ट्रैक पर कोई ट्रक चलते हुए देखा है, नही ना, लेकिन हाल ही में सोशल मीडिया पर एक ऐसा ही वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें रेल की पटरी पर ट्रक चल रहा है। ये देखने में जितना दिलचस्प है उनता ही काबिले-तारीफ भी। वीडियों को लाखों बार फेसबुक पर देखा जा चुका है।
भारतीय रेलवे ने अपनी टैक्नोलॉजी के जरिए रेल ट्रैक पर ट्रक चलाया है जो पटरी पर बिजली और अन्य विकास से संबंधित कार्य करता है। इस टावर वैगन का आविष्कार जल्दी काम खत्म करने के लिए किया गया है। रेलवे ने अपने काम को आसान बनाने के लिए ये जुगाड़ यंत्र बनाया है। 
जानकारों की माने तो ये ट्रक की शक्ल में एक तरह की रेल ट्रैक ट्रॉली है। रेलवेकर्मी इसकी सहायता से बिजली के तार लगाने का काम करते है। ये ट्रक रेल की पटरी पर तेजी से दौड़ता है। जिससे काम तेजी से पूरा हो रहा है। हालाकिं इसकी जरुरतों को देखते हुए इनकी संख्या पहले से बढ़ा दी गई है।
रेलवे ट्रक की खासियत की बात करे तो इसे सड़को पर भी चलाया जा सकता है साथ ही इसकी पार्किग में भी आसानी से हो जाती है।
वही मोदी सरकार जल्द ही रेलवे ट्रैक का काम खत्म करने के लिए इनकी संख्या में वृद्धि करने पर विचार विमर्श कर रही है।  साथ ही इस अनोखे ट्रक को रेलवे लाइन के रखरखाव के काम में भी प्रयोग लाने की सोच रही है।


यहां जहरीले सांपों के साथ करतब दिखाते है मासूम बच्चे!


बिहार के समस्तीपुर क्षेत्र में सिंधिया घाट नाम से एक ऐसा भी ग्राम है जहां सांप के डसने से किसी भी इंसान की मृत्यु नहीं होती। यहां पर नागपंचमी के विशेष अवसर पर लगने वाले सांपों के मेले में लोग उनके संग खेलते हैं।

अनेक बार सांप के जरिए उन्हें काटने के बाद भी उन्हें कुछ नहीं होता। यहां के लोगों के मुताबिक, माता भगवती के आशीर्वाद से सांप के डसने से उन पर कोई प्रभाव नहीं होता। बता दें कि गांव के लोग कोबरा जैसे जहरीले सांप को पकड़कर घरों में रखते हैं।

बता दें कि इस ग्राम में नागपंचमी के दिन हजारों भक्तों ने नागदेव की पूजा अर्चना करते हैं। तत्पश्चात गांव के पास की नदी में लोग अनेक सांपों को पकड़ते हैं। गांव के लोगों के मुताबिक, यहां रहने वाले सभी लोग सांप पकड़ना जानते हैं।

ग्रामीण बताते है कि इस ग्राम में सांपों का ये मेला बीते 300 वर्षों से लग रहा है और प्रत्येक वर्ष इसी तरह लोग उनके साथ करतब दिखाते हैं। इस गांव के सभी घरों में नाग देवता की पूजा होती है। पूजा के पश्चात घर के सभी सदस्य प्रथा के अनुरूप दही संग नीम का पत्ता ग्रहण करते हैं।