Showing posts with label News. Show all posts
Showing posts with label News. Show all posts

Wednesday, 10 July 2019

इंडिया के हाथों में वर्ल्‍ड कप ट्रॉफी देखने के लिए इस परिवार ने किया ये अनोखा काम, जानकर रह जाएंगे दंग


हिंदुस्तान के लोगों में क्रिकेट का जुनून लोगों के सिर चढ़कर बोलता है। तभी तो यहां के जितने क्रिकेट क्रेजी फैन शायद ही कहीं अन्य देखने को मिले। ऐसा ही एक क्रिकेट प्रेमी परिवार भारतीय टीम के हाथ में वर्ल्‍ड कप ट्रॉफी देखने के लिए 22 हजार किलोमीटर गाड़ी चलाकर सिंगापुर से इग्‍लैंड पहुंचा है।
3 वर्ष छोटी आव्‍या से लेकर 67 साल के दादाजी अखिलेश तक माथुर परिवार की 3 पीढ़‍ियां अपनी सात सीटर टॉयेटा मिनी वैन में बैठकर 20 मई को सिंगापुर से रवाना होती हैं। फिर 48 दिनों की यात्रा के पश्चात पूरा परिवार 4 जुलाई को लंदन पहुंचता है।
मीडिया से बात करते हुए परिवार के एक सदस्‍य अनुपम का कहना है कि "हमें ये मालुम था कि वर्ल्‍ड कप आने वाला है एवं हम इंडिया का समर्थन करना चाहते थे। विमान से जाना सबसे सरल तरीका था, किन्तु फिर हमने विचार किया कि नहीं, देश के लिए कुछ खास करना चाहिए, इसमें सबको सम्मिलित करना चाहिए।"
देश हेतु कुछ विशेष करने की चाह में माथुर परिवार ने इंग्‍लैंड पहुंचने हेतु 17 देशों तथा 2 महाद्वीपों की यात्रा तय की। अब परिवार इग्‍लैंड में है एवं उन्‍हें वर्ल्‍ड कप फाइनल में हिंदुस्तान को खेलते हुए देखने की पूर्ण आस है।


215 साल पुराना पेड़ उखड़ने के बाद नजर आई ऐसी चीज, हर कोई हैरान


आज हम आपको आयरलैंड की एक अजीब घटना बताने जा रहे है। जानकारी के मुताबिक, बीते दिनों तूफान में एक 215 साल प्राचीन वृक्ष गिर गया एवं वह पेड़ जड़ समेत जमीन पर आ गया। जब वो गिरा तो उसकी जड़े बाहर निकल आई तो वहां के निवासियों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी।
जब पेड़ के गिरने वाली जगह पर पुलिस पहुंची तो पुलिस के होश उड़ गए। उस वृक्ष की जड़ के नीचे एक आधा कंकाल प्राप्त हुआ। जब पुलिस को भी इस घटना की बात समझ नहीं आई तो उन्होंने वैज्ञानिकों को फोन कर इस घटना के बारे में बताया।
जब वैज्ञानिक वहां पहुंचे तो वह भी इस कंकाल को देखकर दंग रह गए। जब उन्होंने इसकी खोजबीन शुरू की तो अनेक वैज्ञानिकों ने कार्बन डेटिंग ढंग से ये मालुम किया कि जिस शख्स का ये कंकाल है उसकी मौत के समय उसकी उम्र 17 से 20 वर्ष की होगी।
उन्होंने आइसोटोप पद्धति से ये मालूम किया कि यह कंकाल 1000 साल पुराना है। जब कंकाल के हड्डियों की और जांच की गई तो ये ज्ञात हुआ कि इस शख्स के शरीर को काटा गया था। काटने के पश्चात इसके हाथ भी काटे गए थे।

जब अदालत में पहुंचा 7 साल का आरोपी बच्चा, जज ने किया ऐसा हश्र


प्राप्त जानकारी के मुताबिक साहिबाबाद निवासी शिकायकर्ता सिद्धार्थ अग्रवाल के पिता और टीटू शर्मा एक दूसरे के साथ व्‍यापार करते थे और उन्‍होंने टीटू को चांदनी चौक स्थित उसकी दुकान पर माल सप्‍लाई किया था. जिसके एवज में टीटू शर्मा द्वारा चैक दे दिया गया था. साथ ही कहा गया कि मई 2018 में जो माल सप्‍लाई हुआ था, उसमें 33 हजार रुपये का माल खराब निकला था. हलांकि टीटू शर्मा इस माल का भुगतान चैक के माध्‍यम से कर चुका था. केस आगे जाकर अदालत पहुंचा.

आगे बताया गया कि जब शिकायतकर्ता के पिता इस चैक को भुनाने के लिए बैंक में गए तो यह बाउंस निकला और फिर इसके बाद शिकायतकर्ता के पिता द्वारा टीटू शर्मा के बेटे के नाम कानूनी नोटिस भेजकर 33 हजार रुपये का भुगतान 15 दिन के अंदर करने की मांग की गई. कोर्ट के सामने आरोपी बच्चे की तरफ से वकील विशेष राघव कहते है कि शिकायतकर्ता ने टीटू शर्मा के बेटे के नाम से नोटिस भेज तो दिया था, जबकि उन्हें पता ही नहीं था कि यह बच्चा नाबालिग है और उसकी उम्र महज 7 साल हैं. साथ ही अदालत ने आरोपी बनाए गए बच्‍चे के पिता को छूट दी है कि वह शिकायतकर्ता के खिलाफ प्रताड़ना का मुकदमा दायर कर सकते हैं, जिसमें कि उनके 7 साल के नाबालिग बेटे को आरोपी बनाया गया हैं.

जहरीले सांप RATTLE VIPER ने माँ-बेटी को डसा, बाद में जो हुआ वो कर देगा हैरान


मायानगरी मुंबई में हाल ही में एक ऐसी घटना घटी है, जो अपने आप में बेहद अनोखी और हैरान करने वाली है. बारिश से सराबोर मुंबई में सिर्फ लोग ही नहीं, बल्कि जीव-जंतु भी अपनी जान बचाने के लिए सुरक्षित जगहों की तलाश में भटकने लगे. इसी बीच धारावी में रैटल वाइपर नाम का एक खतरनाक और जहरीला सांप पहुंच गया. उसने एक घर में घुसकर मां-बेटी को डस लिया. हैरानी की बात तो ये है कि सांप के काटे जाने के बाद मां ने हिम्मत नहीं हारी और उसने उस जहरीले सांप को पकड़ लिया और फिर मां-बेटी उसे लेकर अस्पताल पहुंच गईं.

अस्पताल में जब महिला जिंदा सांप को लेकर पहुंची तो वहां मौजूद लोग भी इस नजारे को देखकर घबरा गए. इसके बाद महिला ने बताया कि सांप ने उसे और उसकी बेटी को डस लिया है, इसलिए वो सांप को जिंदा पकड़ कर लाई है ताकि तुरंत इलाज शुरु किया जा सके. वहीं डॉक्टरों ने मां-बेटी को इमरजेंसी वार्ड में भर्ती किया और दोनों का इलाज शुरू कर दिया.

बुधवार, 10 जुलाई: जानिए आज के पेट्रोल-डीजल के भाव


आज यानि 10 जुलाई को दिल्ली में पेट्रोल का दाम आज 70 रुपये प्रति लीटर है। डीजल 64 रुपये में बिक रहा है।सभी तेल कंपनियों के पेट्रोल पंपों पर कीमतें समान हैं।

पेट्रोल।

जयपुर में एक लीटर पेट्रोल 72 रुपये प्रति लीटर।

मुंबई में एक लीटर पेट्रोल 77 रुपये प्रति लीटर।

कोलकाता में एक लीटर पेट्रोल 73 रुपये प्रति लीटर।

चेन्नई में एक लीटर पेट्रोल 74 रुपये प्रति लीटर।

डीजल।

जयपुर में एक लीटर डीजल 69 रुपये प्रति लीटर।

मुंबई में एक लीटर डीजल 69 रुपये प्रति लीटर।

कोलकाता में एक लीटर डीजल 68 रुपये प्रति लीटर।

पैथोलॉजी लैब की बड़ी लापरवाही, जांच में युवक को बताया प्रेग्नेंट!


बता दें कि, भिंड के फूफ निवासी सुरेश कुमार को बहुत दिनों से बुखार आने पर उन्होंने शनिवार को नजदीक ही के डॉ. वीके वर्मा के पास गए। शख्स को वे मलेरिया एवं टाइफाइड की बात कह जांच कराने हेतु श्याम पैथालॉजी लैब भेज दिया।
जहां पर उन्होंने अपनी जांच करवाई। जब उन्हें लैब की ओर से रिपोर्ट प्राप्त हुई तो वो काफी हैरान करने वाली थी। रिपोर्ट में रोगी को प्रेग्नेंट बताया। दरअसल, शख्स बीते कुछ दिन से बीमार चल रहा था। वो नजदीक ही के श्याम पैथालॉजी लैब में मलेरिया तथा टायफाइड की जांच करवाने गया।
जांच के पश्चात पैथोलॉजी लैब के लोगों ने युवक की सेहत संग इतनी बड़ी लापरवाही की कि जांच रिपोर्ट में उसको प्रेग्नेंट बता दिया। जिसे युवक ने इंटरनेट पर वायरल कर दी।
इस घटना के पश्चात से ही पैथोलॉजी लैब के संचालक एवं जिस डॉ. ने सुरेश नाम के युवक को उस लैब में जांच करवाने हेतु भेजा था सभी भाग गए है। वहीं, इस घटना की जानकारी एमपी स्वास्थ विभाग को मिलने के पश्चात श्याम पैथोलॉजी लैब को सील कर दिया गया है।

यहां एक-एक मिनट के फासले में तीन बच्चों ने लिया जन्म!


बाल भवन के सामने स्थित एक निजी अस्पताल में नारनौंद निवासी दंपत्ति के यहां एक-एक मिनट के फासले में तीन बच्चों ने जन्म लिया। इस बारे में जैसे ही परिजनों तथा अस्पताल स्टाफ को पता चला तो उनमें खुशी की लहर दौड़ गई। हर कोई दंपति को बधाई दे रहा था।

नारनौंद के वार्ड नंब 11 निवासी पिंकी को जब रविवार सुबह प्रसव पीड़ा प्रारंभ हुई तो उसका पति संदीप अपने परिवार सहित उसे जींद बाल भवन के सामने निजी अस्पताल ले आया।

जब डाक्टर ने डिलीवरी की तैयारी में थे तो उन्हें अल्ट्रासांउड रिपोर्ट के जरिये पता चला था कि पिंकी के गर्भ में दो संतानें हैं लेकिन होनी को कुछ और की मंजूर था और जब संतानें हुए तो तीन-तीन। तीन बच्चों के होने की सूचना से संदीप और उसका परिवार काफी खुश नजर आया।

अस्पताल में एक साथ तीन बच्चों के होने की खबर मिलते हुए संदीप और पिंकी को बधाई देने वालों की लाईन लग गई। डाॅ. शशि शर्मा ने बताया कि एक-एक मिनट के फासले में पिंकी ने तीन बच्चों को जन्म दिया है। जिनमें पहले दो लड़कियों का जन्म और बाद में एक बेटे को जन्म दिया।

पाकिस्तान एंकर ने IPHONE वाले APPLE को समझा सेब, हो रही ट्रोल


सोशल मीडिया पर इन दिनों एक पाकिस्तानी एंकर का वीडियो काफी तेजी से वायरल हो रहा है. वैसे पाकिस्तान के से ही वीडियो कई वायरल होते हैं जिनमें उन्हें कुछ गलत  कहने पर ट्रोल कर दिया जाता है. ऐसे ही पाक के एक चैनल पर लाइव चर्चा चल रही थी और इसी दौरान एंकर से एक ऐसी चूक हो गई, जिससे अब उनका सोशल मीडिया पर जमकर मजाक उड़ रहा है. ऐसा पहली बार नहीं हुआ है जब किसी एंकर के साथ हुआ हो, बल्कि ऐसा कई बार हो चुका है. आइये जानते हैं अब का मामला.

दरअसल, लाइव चर्चा के दौरान पैनलिस्ट ने एप्पल कंपनी का जिक्र किया और एंकर इसे iPhone वाले Apple की जगह सेब वाला Apple समझ बैठीं और इसके बाद तो उनका मज़ाक उड़ना ही था. इस वायरल वीडियो क्लिप में देखा जा सकता है कि कैसे एक पैनलिस्ट और एंकर स्टूडियो में चर्चा कर रहे हैं और इसी बीच पाकिस्तान की आर्थिक स्थिति पर बात करते हुए पैनलिस्ट कहते हैं कि 'जा कर देखो कारोबार कहते किसे हैं, एप्पल का बिजनेस, अकेले एप्पल का बिजनेस पूरे पाकिस्तान के बजट से कई गुना अधिक है.' पैनलिस्ट की बात पर एंकर को लगता है कि वह सेब की बात कर रहे हैं, जिस पर एंकर ने कहा कि 'हां मैने सुना है कि सेब की कई किस्में होती हैं और वह काफी मंहगा है.' इसके बाद तो वो ट्रोल होना शुरू ही गई।

Tuesday, 9 July 2019

विधानसभा के बाहर पेड़ पर चढ़ा युवक, पुलिस ने क्रेन की मदद से उतारा


मंगलवार दोपहर विधानसभा के बाहर लगे पेड़ पर एक युवक चढ़ गया। करीब डेढ़ घंटे की समझाइश के बाद पुलिस उसे क्रेन के सहारे पेड़ से उतार लिया गया है। भोपाल पुलिस ने युवक को हर संभव मदद का भरोसा दिलाया है। इसके बाद ही युवक पेड़ से उतरने तैयार हुआ।
बताया जा रहा है कि युवक रायसेन जिले का रहने वाला है। जिस वक्त वो पेड़ पर बैठा था रो रहा था और अपने हाथ में लिए कागज को देख रहा था। पुलिस ने जब इससे पूछताछ कि तो उसने बताया कि वो रायसेन जिले की  सिलवानी तहसील का रहने वाला है, उसके पास 6 एकड़ जमीन थी। जिसको वन विभाग ने अधिग्रहित कर लिया। वो इसे लेकर कई अफसरों और मंत्रियों के घरों के चक्कर लगा चुका है। लेकिन उसको न्याय नहीं मिला।
उल्लेखनीय है कि इन दिनों विधानसभा का मानसून सत्र चल रहा है और यहां धारा 144 लगी हुई है। पूरे इलाके में सुरक्षा व्यवस्था के तगड़े इंतजाम है। इसके बाबजूद भी युवक विधानसभा के सामने कब पेड़ पर चढ़ गया पुलिस को पता ही नहीं चला।


आखिर विज्ञापनों में 10:10 का ही समय क्यों दिखाती हैं घड़ियां? ये हैं वो पांच वजहें


घड़ियों के विज्ञापन तो आपने बहुत देखे होंगे। अक्सर विज्ञापन वाली घड़ियों में 10:10 का ही समय दिखता है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि ऐसा क्यों है? कंपनियों के ऐसा करने के पीछे पांच कारण हो सकते हैं, जिनके बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं।
ऐसा कहा जाता है कि 10 बजकर 10 मिनट पर घड़ी की सुइयां एक संतुलित आकार में होती हैं और मनोविज्ञान के अनुसार लोग संतुलित चीजों को ही देखना ज्यादा पसंद करते हैं।
जब आप 10:10 के समय वाली घड़ी देखेंगे, तो आपको ऐसा लगेगा कि 'घड़ी मुस्कुरा रही है'। आपने हंसने वाली स्माइली जरूर देखी होगी। घड़ी उस वक्त बिलकुल ऐसी ही प्रतीत होती है।
घड़ी में जब 10 बजकर 10 मिनट हो रहे होते हैं, तब एक संकेत वहां दिखता है 'V' का। ये संकेत विजय और जीत का होता है। इसीलिए घड़ी कंपनियां विज्ञापनों में इस समय को दिखाती हैं।
10 बजकर 10 मिनट पर घड़ी पर मौजूद बाकी सारी चीजें, जैसे ब्रांड का नाम, कंपनी का लोगो साफ-साफ दिखता है। इसलिए ये एक कारण भी हो सकता है घड़ी में अक्सर ये समय दिखाने का।
कुछ लोगों का ऐसा भी मानना है कि जिस वक्त पहली घड़ी बनी थी, उस वक्त यही समय हो रहा था। इसलिए घड़ी का डिफॉल्ट समय 10:10 ही सेट कर दिया गया है।






मरी हुई मां को उठाने की पूरी कोशिश करता रहा बच्चा, आंखें नम कर देगा वीडियो


एक बच्चा अपनी मरी हुई मां को उठाने की कोशिशि करता रहा। बच्चा अपनी मां के निर्जीव शरीर में जान फूंकने की पूरी कोशिशि करता हुआ दिखाई दिया। लेकिन मां तो उठी ही नहीं क्योंकि वह ईश्वर के पास चली गई।
बीते मंगलवार को भारतीय वन सेवा के अधिकारी प्रवीण कासवान ने ऐसा ही एक वीडियो ट्विटर पर पोस्ट किया। उन्होंने इस वीडियो के साथ कैप्‍शन में लिखा, अवैध शिकार की तस्वीर! एक बेबी ने अपनी मां को जगाने की कोशिश की। जिसे शिकार के लिए शिकारियों ने मार डाला।
सोशल मीडिया पर यह वीडियो आते ही वायरल हो गया है। इस वीडियो को अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने भी ट्वीट किया। इस वीडियो में एक बच्चा गैंडा है जो जमीन पर मरी अपनी मां को जगाने की कोशिश कर रहा है। उस बच्चे को बिल्कुल भी खबर नहीं है कि उसकी मां का शरीर अब लाश बन गया है। उसे ऐसा लग रहा है कि उसकी मां सो रही है।
इतना ही नहीं वह बच्चा अपनी मां को जगाने के लिए उसका दूध पीने की कोशिश करता है लेकिन वह तब भी नहीं उठती है। अफसोस की बात उसे पता नहीं था कि कुछ शिकारियों ने उसकी मां को गोली मार दी।
वहीं इस वीडियो के बैकग्राउंड में एक आदमी की आवाज आ रही है और वह कहे रहा है कि, यह क्या है। यह देखना डरवना है। कोई नहीं चाहेगा ऐसा फिर हो। कोई नहीं चाहेगा ऐसा फिर हो। खबरों के अनुसार पिछले साल फरवरी का यह वीडियो है। एक राष्ट्रीय पार्क में गेंडे की मां के सींग को काट दिया गया था।
वहीं बच्चा गेंडा अपनी मां को जगाने के लिए उसका दूध पीने की भी कोशिश कर रहा था। उसके बाद गेंदे के बच्चे को शांत किया गया और उसे वन्यजीव बचाव कर्मियों द्वारा अनाथालय ले जाया गया। ऐसी घटनाओं के सामने आने स मनुष्य के संवेदनशीलता पर सवाल खड़ा हो जाता है।



शोधकर्ताओं का दावा, ऊंटनी के दूध से दूर भागती है ये जानलेवा बीमारी


यदि आप मीठा खाने के शौकीन हैं तो आपको डॉक्टरों की सलाह एक बार आपको अवश्य मिलेगी की चीनी का सेवन कम करे। पूरे देश में शुगर से पीड़ित लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है। किन्तु राजस्थान में एक रिसर्च में पता चला कि ऊंटनी का दूध पीने वाले लोगों पर इस बीमारी का प्रभाव बेहद कम होता है।
राजस्थान में रहने वाली ऊंट पालने वाली राइका जाति के लोग जो ग्रामीण इलाकों में रहते हैं। उनमें शुगर से पीड़ित लोगों की संख्या काफी कम पाई गई। जिसकi वजह ऊंटनी के दूध का लगातार सेवन बताया गया है। पहली दफा जातिगत आधार पर यह शोध इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के नेतृत्व में एसपी मेडिकल कॉलेज बीकानेर तथा जोधपुर डेजर्ट मेडिकल सेंटर ने संयुक्त रूप से किया है।
आइसीएमआर ने अपने सर्वे में वर्ष 2015 से 2018 तक राज्य के आठ जिलों में 24 हजार लोगों के आंकड़े शामिल किए। इसमें विभिन्न जाति के लोगों को शामिल कर यह पता लगाने की कोशिश की गई कि उनमें शुगर पीडि़तों का फीसद क्या है। साथ हीं अप्रत्याशित रूप से शुगर का लेवल बढ़ने वाली जाति में इसके कारणों की जांच की गई। वहीं शुगर की बीमारी से सबसे कम पीड़ित या मुक्त जाति सामने आने पर उसके पीछे की वजह भी जानने की कोशिश की गई। सर्वे में पता चला है किजो लोग ऊंटनी का दूध पीते हैं, उनमें सबसे कम 0।15 प्रतिशत लोगों को शुगर की बीमारी से ग्रसित पाया गया।


इस बच्चे ने बनाई सौर ऊर्जा से चलने वाली ट्रेन, रेलवे भी हैरान


राजस्थान में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। जहां पर 8वीं में पढऩे वाले एक लडके ने अनोखा कारनामा किया है। दरअसल, राजस्थान के नागौर जिले के प्यावां ग्राम में निवास करने वाले 14 साल के सुनील ने अपने खेत में सौर ऊर्जा से चलने वाली ट्रेन का मॉडल तैयार करके सभी का ध्यान अपनी तरफ खीचा है।
लड़के के इस मॉडल को देख रेलवे के बड़े अधिकारी भी चौंक गए हैं, बाकायदा लड़के को रेलवे के अधिकारियों ने विशेष इजाजत संग जोधपुर-दिल्ली सराय रोहिला के इंजन में लोको पायलट के साथ यात्रा भी कराई है।
लड़के का बताना है कि यह ट्रैक 60 फीट लंबा है। इसे बेकार सामान से 4 महीने में बनाया है। हालांकि फिलहाल ये एक खिलौना ट्रेन है, किन्तु इस ट्रैक पर बाकायदा रेलवे फाटक, शंटिंग, सिग्नल आदि के साथ-साथ प्लेटफार्म, क्रॉसिंग रेलवे फाटक एवं ओवरब्रिज भी तैयार है।
इस ट्रैक पर सरपट रेल गाड़ी भागती रहती है। लड़के के पिता रतन बुरड़क ने बताया कि सुनील बचपन से ही दूसरे बच्चों की तुलना मे ज्यादा ही सक्रिय है। हमेशा से कुछ न कुछ तैयार ही करता रहता है।
उल्लेखनीय है कि, जब भी ऊर्जा के अन्य विकल्पों की बात होती है। सभी की जुबान पर सौर ऊर्जा का ही नाम आता है। ऐसे में लड़के का मॉडल काफी कुछ दर्शाता है।



एक ऐसा गांव, जहां हर घर में किसी के पांच तो किसी के है 8 पति!


आज हम आपको एक ऐसे गांव के बारे में बताएंगे जिसे जानकर आप दंग रह जाएंगे। दरअसल, महाभारत में द्रौपदी नाम का एक पात्र था। यह पूरी महाभारत में विवादित पात्र रहा एवं ये भी बोला जा सकता है कि इसकी वजह से ही महाभारत हुई।
वहीं, आप सबको ये मालुम है कि द्रौपदी के पांच पति थे जो कि वरदान की वजह से मजबरी में प्राप्त हो गए थे। ऐसे ही भारत में भी एक ऐसा ग्राम मौजूद है जहां हर बहू  द्रौपदी है, किसी के पांच तो, किसी किसी पत्नी के तो 8 पति तक है।
दरअसल, राजस्थान एवं मध्यप्रदेश की सीमा से सटा एक ग्राम  है जिसका नाम मुरैना है। यहां करीबन हर घर में पत्नी के एक से अधिक पति है। पांडवों की तरह ही ये पत्नी एक-एक पति संग तह समय हेतु रहती है। हालांकि ये परंपरा अधिक पुरानी नही है एवं ग्राम के लोगों ने ही इसे जुगाड़ के रूप में प्रारम्भ किया है।
आप ये जानकर चौंक जाएंगे कि इस ग्राम में लड़कियों की कमी है तथा लड़कों का विवाह ही नहीं हो पा रहा था, ऐसे में गांव की पंचायत ने निर्णय लिया कि जिस घर में एक से अधिक लड़के है, उनका विवाह एक ही लड़की संग होगा एवं सबका उस पर बराबर का अधिकार होगा। हालांकि कुछ लड़कियों का विवाह एक से हो रहा है जिस घर में एक लड़का है अन्यथा किसी-किसी के तो 8  पति मौजूद है।

जगन्नाथ रथ यात्रा में लाखों की भीड़ में लोगों ने दिखाई इंसानियत, एम्बुलेंस को दिया रास्ता


ओडिशा के पुरी में जगन्नाथ रथ यात्रा हर साल निकजाली जाती है. वहीं इसमें शामिल होने के लिए देशभर से लोग आते हैं. हर साल देश के साथ ही विदेशों से भारी संख्या में लोग यहां आते हैं. भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा प्रत्येक वर्ष आषाढ़ शुक्ल की द्वितीया को जगन्नाथपुरी से शुरू होती है. मान्‍यता है कि भगवान जगन्नाथ का रथ खींचने से पुण्‍य मिलता है. इसी के चलते लाखों लोग आते हैं जिसकी भीड़ भी देखने लायक होती है.
इस भीड़ में स्‍वाभाविक है कि लोगों का एक जगह से दूसरी जगह जाना मुमकिन नहीं है. लेकिन यहां भीड़ ने जिस तरह एक एम्बुलेंस को जाने का रास्ता दिया वह वाकई काबिल-ए-तारीफ है. दरअसल, इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है, यहां लाखों श्रद्धालुओं की भीड़ एम्बुलेंस को रास्ता देने के लिए एकजुट हो गई. यानि इतनी भीड़ में भी लोगों ने ये अच्छा किया जिससे उनकी तारीफें भी की जा रही है.
खबर के मुताबिक 4 जुलाई को भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा के दौरान करीब 1200 स्‍वयं सेवकों और लाखों भक्‍तों ने एम्‍बुलेंस के जाने के लिए रास्‍ता बनाया. इस घटना का वीडियो पुरी के एसपी ने खुद अपनी ट्वीटर अकाउंट से शेयर किया है. आइये आपको भी बता देते हैं इसका ये वायरल वीडियो.


मंगलवार, 09 जुलाई: जानिए आज के पेट्रोल-डीजल के भाव


आज यानि 9 जुलाई को दिल्ली में पेट्रोल का दाम आज 70 रुपये प्रति लीटर है। डीजल 64 रुपये में बिक रहा है।सभी तेल कंपनियों के पेट्रोल पंपों पर कीमतें समान हैं।

पेट्रोल।

जयपुर में एक लीटर पेट्रोल 72 रुपये प्रति लीटर।

मुंबई में एक लीटर पेट्रोल 77 रुपये प्रति लीटर।

कोलकाता में एक लीटर पेट्रोल 73 रुपये प्रति लीटर।

चेन्नई में एक लीटर पेट्रोल 74 रुपये प्रति लीटर।

डीजल।

जयपुर में एक लीटर डीजल 69 रुपये प्रति लीटर।

मुंबई में एक लीटर डीजल 69 रुपये प्रति लीटर।

कोलकाता में एक लीटर डीजल 68 रुपये प्रति लीटर।

दरवाजे पर चढ़ती दिखी विशालकाय छिपकली, तस्वीरें उड़ा देगी होश


मलेशिया के जोहोर में एक व्यक्ति ने दरवाजे पर चढ़ती हुई एक विशालकाय छिपकली देखी। वो घर के भीतर घुसने का प्रयास कर रही थी। आदमी ने शीघ्र उस छिपकली की तस्वीर खींचकर इंटरनेट पर पोस्ट कर दी, जहां लोग उसे कई तरह की संज्ञा दे रहे हैं।

छिपकली को मॉनिटर लिजार्ड बोला जा रहा है। वहीं, कुछ लोग इसकी खासियत एवं आकार के कारण 'गॉडजिला' भी बोल रहे रहे हैं। जिस व्यक्ति ने इन फोटोज को पोस्ट किया है उसका नाम लॉन्ग चेंर्ग यी है।

वो छिपकली को अपने घर के दरवाजे पर लटका देखकर काफी चौंक गया। थोड़ी देर के पश्चात वहां सुरक्षाकर्मी भी पहुंच गए। हालांकि फिलहाल ये मालूम नहीं चल पाया है कि यह छिपकली कहां से आई व किस तरह उस गेट तक पहुंची?

बाघ को खाना देने गई थी लड़की, होगया भयानक हाल


बताया जा रहा है कि यह लड़की वहां की कर्मचारी थी जिसके वजह से वो बाघ को खाना देने गई थीं लेकिन खाना देकर वो जैसे वापस लौट रही थी उसी समय बाघ ने उस पर हमला कर दिया जिससे वो वहीं पर गिर पड़ी. बाघ के हमला करने से उस लड़की को चोट आ गई थी और उसकी हालत गंभीर हो गई थी जिसके बाद तुरंत उसे अस्पताल में ले जाया गया. वहां मौजूद लोगों ने बताया कि हमला करने के बाद बाघ ने उस महिला को घसीटकर अपने बाड़े में ले गया.

जू के एक कर्मचारी ने बताया कि लड़की ने बाड़े के गेट पर खड़े होकर टाइगर को खाना दिया था. इस दौरान टाइगर उनसे काफी दूरी पर था. जैसे ही लड़की वापस लौटीं, तभी टाइगर ने उन पर हमला बोल दिया. यह एक साधारण प्रक्रिया थी जो रोज होती है. बल्कि जू के सभी जानवरों जू-कीपर से अच्छी तरह घुले-मिले हुए हैं.

वैज्ञानिक भी हार गए इस कुंड के आगे, महाभारत काल से जुड़ा है रहस्य


आज भी दुनिया में ऐसे कई रहस्य हैं, जो अभी तक रहस्य ही हैं, वैज्ञानिक भी इनका पता नहीं लगा सके हैं. आज हम आपको एक ऐसे ही रहस्यमयी कुंड के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं, जो कि भारत में है और इसके बारे में यह भी कहा जाता है कि कुंड की गहराई के बारे में वैज्ञानिक भी नहीं जान सके हैं.

यह बताए जा रहे रहस्यमयी कुंड का नाम है भीम कुंड, जो कि मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले से करीब 70 किलोमीटर दूर बाजना गांव में बना है. जैसा कि नाम से ही पता चल रहा है कि इस कुंड की कहानी महाभारत काल से संबंध रखती है. ऐसा कहा जाता है कि महाभारत काल में जब पांडव अज्ञातवास पर थे, तो उन्हें बहुत जोर से प्यास लगी, हालांकि उन्हें कहीं भी पानी नहीं मिला. तब भीम ने अपनी गदा से जमीन पर मारकर यह कुंड बनाया था और अपनी प्यास बुझाई थी. कहते हैं कि 40-80 मीटर चौड़ा यह कुंड देखने में बिल्कुल एक गदा के जैसा ही नजर आता है. कुंड को लेकर ऐसा भी कहा जाता है कि जब भी एशियाई महाद्वीप में कोई प्राकृतिक आपदा (बाढ़, तूफान, सुनामी) घटने वाली होती है, तब कुंड का पानी अपने आप ही बढ़ने लगता है.

ऐसा भी कहा जाता है कि इस रहस्यमयी कुंड की गहराई पता करने की कोशिश स्थानीय प्रशासन से लेकर विदेशी वैज्ञानिक और डिस्कवरी चैनल तक ने की है, हालांकि सबको अंत में निराशा के सिवाय कुछ ना मिला।

आइंस्टीन और हॉकिंग को भी पछाड़ा, इस भारतीय बच्ची का दिमाग सबसे तेज


आमतौर पर अल्बर्ट आइंस्टाइन और स्टीफन हॉकिंग को दुनिया में सबसे तेज दिमाग वाला व्यक्ति माना जाता है, हालांकि भारत की एक महज 11 साल की बच्ची ने इन दिग्गजों को भी इस मामले में पीछे छोड़ दिया है. तकनीकी तौर पर इस भारतीय बच्ची का दिमाग अल्बर्ट आइंस्टाइन और स्टीफन हॉकिंग से भी काफी तेज है. जहां यह कहना कतई गलत नहीं होगा कि इस बच्ची दुनिया का दिमाग दुनिया में सबसे तेज है.

बच्ची का नाम अनुष्का दीक्षित है और अनुष्का ने मेंसा आईक्यू टेस्ट में कुल 162 अंक प्राप्त किए हैं, जो कि इस टेस्ट का सर्वाधिक स्कोर भी है. साथ ही बता दें कि यह माना जाता है कि महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टाइन और स्टीफन हॉकिंग का आईक्यू स्कोर 160 था, हालांकि इस बच्ची ने उनसे दो अंक ज्यादा ही हासिल किए हैं और उन्हें पछाड़ दिया है.

प्राप्त मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अनुष्का ने पूरा पीरियोडिक टेबल महज 40 मिनट में याद कर लिया था और इस पर उनकी मां कहती हैं कि वो हमेशा से ही काफी तेज रही है औरउसने महज 6 महीने की उम्र में ही बोलना शुरू कर दिया था।