Showing posts with label News. Show all posts
Showing posts with label News. Show all posts

Wednesday, 14 August 2019

15 वर्षों से इस मंदिर में हो रहा अनोखा चमत्कार, जानिए वजह!


सावन का माह भगवान शिव का काफी प्रिय होता है। इस पूरे माह में लोग भगवान शिव की आराधना करते है। कलयुग में इस धरती पर आज भी भगवान शिव के चमत्कार हजारों मंदिरों में नजर आते है।

पौराणिक मान्यताओं की माने तो, भगवान शिव को नाग काफी प्रिय हैं। वे गले में हार की जगह पर नाग को ही धारण करते हैं। ये बात कितनी सत्य है यह सलेमाबाद में एक मंदिर में नजर आया है।

जानकारी के मुताबिक, यूपी के आगरा के नजदीक मौजूद सलेमाबाद एक गांव है। जहां एक प्राचीन शिव मंदिर है। यहां के लोगों के मुताबिक, यहां बीते लगभग 15 वर्षों से ज्यादा एक नाग रोज आकर भगवान शिव को नमन करता है।

इस मंदिर में दूर-दूर से भक्त शिवजी की आराधना करने आते हैं किन्तु नाग का ऐसे आना जिज्ञासा का विषय बना हुआ है। यह नाग रोज मंदिर में आता है एवं लगभग 5 घंटे तक यहां रुकता है।

नाग सुबह 10 बजे आता है तथा शाम को 3 बजे वापस लौट जाता है। इस अवधि में यह शिवलिंग के नजदीक ही बैठा रहता है। यहां इर्द-गिर्द के गांवों में भी इस नाग की चर्चा है। इससे भक्तों को कोई भय नहीं है और न इसने कभी किसी को कोई नुकसान पहुंचाया।

शादी का तोहफा खोलते ही दूल्हे की हुई मौत, हर कोई रह गया सन्न


विवाह या फिर किसी शुभ अवसर पर  परिवारवालों से तोहफा मिलना बेहद आम है किन्तु कभी आपने किसी ऐसे उपहार के बारे में सुना है जिसे खोलते ही दुल्हें का जीवन भी समाप्त हो सकता है। हाल ही में ओडिशा के एक परिवार संग ऐसा हुआ तो मानो हर कोई सन्न रह गया।

दरअसल ओडिशा के बलांगीर के पाटनगढ़ में जीवन बिताने वाले एक परिवार में कुछ ही दिन पूर्व शादी हुई थी तत्पश्चात शादी वाले घर पर पिछले शुक्रवार को किसी अजनबी के जरिए एक गिफ्ट पार्सल आया। उस उपहार को जैसे ही दुल्हें ने खोलने का प्रयास किया तो उसमें से हुए एक जोरदार धमाके से इर्द-गिर्द के घर भी गए।

धमाका इतना तेज था कि उसकी वजह से दूल्हे समेत 3 लोगों की मौके पर ही मृत्यु हो गई, जबकि हादसे में दुल्हन गंभीर रूप से जख्मी हो गई।

खबरों के मुताबिक, 18 फरवरी को सौम्य शेखर साहू एवं रीमा साहू का विवाह हुआ था। शादी के खुशनुमा माहौल में पिछले 23 फरवरी को इनके घर में एक अनजान पार्सल से एक उपहार पहुंचा जिसे खोलने हेतु नवविवाहित जोड़ा बड़ा उत्सुक था। अपने पिरवरवालों संग मिलकर जैसे ही दूल्हे ने उस पार्सल को खोला गया तो उससे एक काफी तेज धमाका हुआ तथा जिसकी चपेट में वहां उपस्थित कई लोग आ गये।

अपनी मां को कॉपी करने के चक्कर में बेड से कूदा 3 साल का बच्चा, फिर हुआ कुछ ऐसा...


इंटरनेट पर अनेक ऐसे खतरनाक स्टंट्स वायरल होते हैं जिसको करने से लोगों का जीवन समाप्त हो जाता है या फिर वो गंभीर रूप से जख्मी हो जाते हैं। ऐसा ही एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक बच्चा अपने मां-बाप को कॉपी करने का प्रयास करता है और बेड से कूद जाता है।

3 वर्ष का बच्चा अपनी माता को कॉपी करने के चक्कर में बेड से कूदा। नीचे बेड लगा हुआ था जिससे बड़ा हादसा होने से टल गया। इस वीडियो को बच्चे के इंस्टाग्राम अकाउंट bonor_gabriel पर पोस्ट किया गया है।

इस वीडियो में नजर आ रहा है कि गैबरियल की माता वेटा अनानास पति एंड्री पर कूद रही हैं। बेटा माता को कॉपी करने का प्रयास करता है तथा वो ऊपर बेड से नीचे कूद जाता है। इस वीडियो को स्लो मोशन में दिखाया गया है।

ये वीडियो बहुत वायरल हो रहा है। बच्चा गद्दे पर गिरता है एवं बच जाता है। इस वीडियो को देखने के पश्चात लोग कपल की काफी बुराई कर रहे हैं।

भगवान के दर्शन के लिए कतार में खड़ी औरत ने पैदा किया बच्चा


चालीस साल में एक बार खुलने वाले तमिलनाडु के कांचीपुरम में स्थिति भगवान वरदराजा स्वामी मंदिर में भगवान अती वरदार के दर्शन के लिए लिए आई एक महिला ने बुधवार को एक बच्चे को जन्म दिया जिसका श्रद्धालुओं ने भगवान अती वरदार के नाम पर नामकरण करने का आग्रह किया है।

रिपोर्टों के अनुसार, विमला अपने पति अशाेक के साथ भगवान अती वरदार के दर्शन के लिए कतार में खड़ी थी। इस दौरान उसे प्रसव पीड़ा हुयी। उसे श्रद्धालुओं ने परिसर में तैनात मेडिकल टीम के पास पहुंचाया जहां उसने एक स्वस्थ्य बच्चे को जन्म दिया। उसे बाद में कांचीपुरम सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया। श्रद्धालुओं ने दंपति से आग्रह किया कि तीन किलोग्राम वजनी इस नवजात बच्चे का नाम वे भगवान अती वरदार के नाम पर रखें क्योंकि उसका जन्म बहुत ही दुलर्भ और पवित्र मौके पर हुआ है।

देश का यह ऐसा पहला मंदिर है जो 40 साल में एक बार ही भक्तों के लिए खुलता है। रिपोर्टों के अनसुार ,“ भगवान अती वरदार की मूर्ति भक्तों को दर्शन देने के लिए 40 साल में एक बार कुछ दिनों के लिए जल समाधि से बाहर निकाली जाती है। इस वर्ष तीन जुलाई को इस मूर्ति को मंदिर के पवित्र तालाब से बाहर निकाला गया और इसी के साथ 48 दिनों तक चलने वाला प्रसिद्ध कांची अती वरदान महोत्सव शुरु हो गया है। ”इससे पहले वर्ष 1979 में भक्तों को इस भगवान के दर्शन हुए थे।

भगवान अती वरदार के दर्शन के लिए भक्तों का हुजुम उमड़ पड़ता है। विदेश से भी श्रद्धालु यहां पहुंचते हैं। अब तक करीब 90 लाख लोग भगवान अती वरदार के दर्शन कर चुके हैं।एक माह तक भगवान के दर्शन शयन अवस्था में हाेते हैं और एक अगस्त के बाद खड़ी मुद्रा में भक्त इनके दर्शन कर पाते हैं। एक जुलाई को भगवान अती वरदार की मूर्ति को पवित्र तालाब से बाहर निकालने के बाद दर्शन के लिए मंदिर के वसंत मंडपम में रखा गया था।

राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित और मंदिर के पुजारियों की मौजूदगी में हजारों श्रद्धालुओं ने उनकी पूजा-अर्चना की। इस दौरान मूर्ति को फूल-माला के साथ भव्य यात्रा निकालकर मंदिर के अलग-अलग हिस्सों में ले जाया गया।भक्तों को किसी तरह की परेशानी न हो, इसके लिए प्रशासन की तरफ से खास व्यवस्था की गई है।

भाई-बहन के बीच की ये बातें होती हैं सबसे खास, नहीं समझ सकता कोई और..


भाई-बहन का रिश्ता इस दुनिया में सबसे खास होता है. इस रिश्ते के जैसा कोई और रिश्ता नहीं होता है. ऐसे ही रक्षाबंधन का त्यौहार 15 अगस्त को मनाया जायेगा. लेकिन इस रिश्ते की कुछ ऐसी बातें होती हैं जो सिर्फ भाई-बहन ही समझ सकते हैं. आज हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ ऐसी ही बातें जो सिर्फ भाई और बहन ही समझ सकते हैं.
भाई-बहन आपस में कितना भी लड़-झगड़ लें, लेकिन अगर कोई दूसरा उनमें से किसी एक को भी कुछ बोले तो दूसरा उसे बचाने के लिए हमेशा तैयार रहते हैं. 
पॉकेट मनी को लेकर भाई-बहन के बीच में तकरार भी होती होगी. लेकिन दोनों में से किसी की पॉकेट मनी पहले खत्म हो गई है उसे मम्मी-पापा से मांगने में भी झिझक महसूस हो रही है, तो ऐसे में भाई-बहन ही एक-दूसरे की मदद करते हैं.
स्कूल में किसी से लड़ाई हो जाए तो सबसे पहले इस बात का ही डर रहता है कि अगर घर पर शिकायत पहुंच गई तो क्या होगा. ऐसे में भाई-बहन ही एक-दूसरे का सहारा बनते हैं. लड़ाई-झगड़े के मामले में मम्मी-पापा की डांट से बचने के लिए भाई-बहन एक-दूसरे के साथ हो जाते हैं.
शरारत करने की बात आए तो फिर ब्लैकमेलिंग भी चालू हो जाती है. अगर भाई चोरी-छुपे घर में कोई शरारत कर रहा है और उसमें बहन को शामिल नहीं किया तो समझो उसकी शामत आ ही गई. इसके लिए बहन कैसे-कैसे ब्लैकमेल करती है, ये भाइयों से बेहतर कौन समझ सकता है. हालांकि हर प्रॉब्लम से बचाने में भी बहन मदद करती है.